नोटबंदी और जीएसटी ने पूरे देश को परेशानी में डाला : लालू यादव

demonetization-creates-problame-for-nation-lalu-yadav
रांची 01 सितम्बर, राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने नोटबंदी और वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के मुद्दे पर केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार की आलोचना करते हुए आज कहा कि नोटबंदी और जीएसटी के लागू करने के निर्णय से पूरे देश के लोग परेशान हैं। श्री यादव ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि केन्द्र की जनविरोधी नीतियों ने आम आदमी का जीना मुहाल कर दिया है। मोदी सरकार के एक के बाद एक जनविरोधी निर्णयों से जनता त्राहिमाम कर रही है। उन्होंने केन्द्र सरकार को ‘जुमलेबाजों की सरकार’ करार दिया और कहा कि रिजर्व बैंक द्वारा जारी आंकड़े ने नोटबंदी से कालेधन को निकालने के केन्द्र के फैसले पर सवालिया निशान लगा दिया है। नोटबंदी ने पूरे देश को कतार में खड़ा कर दिया। राजद सुप्रीमों ने जीएसटी से होने वाले नुकसान गिनाते हुए कहा कि जीएसटी ने कारोबारियों को मुश्किल में डाल दिया है। कारोबारी कारोबार करें या अपने कारोबार का जटिल हिसाब-किसाब रखे। उन्होंने कहा कि जीएसटी से कारोबारियों को अपनी कमाई में बड़ा नुकसान उठाना पड़ रहा है।


श्री यादव ने अरबों रुपये के बहुचर्चित सृजन घोटाले की चर्चा करते हुए कहा कि सृजन घोटाला में कई बड़े लोग फंसेंगे। उन्होंने घोटाले की निष्पक्ष जांच के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री से सुशील मोदी से इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि दोनों के पद पर रहते इस महाघोटाले की निष्पक्ष जांच कैसे हो सकती है। पूरा घोटाला नीतीश कुमार की जानकारी में और उनकी नाक के नीचे हुआ है। राजद अध्यक्ष ने बिहार में आई भीषण बाढ़ के संबंध में मंत्री ललन सिंह के बयान की आलोचना करते हुए कहा कि सबने मिलकर बांध तुड़वा कर बाढ़ को बुलाया है। पटना के गांधी मैदान में 27 अगस्त को ‘भाजपा भगाओ देश बचाओ’ रैली में किये खर्च को लेकर आयकर विभाग से जारी किये गये नोटिस पर प्रतिक्रिया देते हुए श्री यादव ने कहा, “ पार्टी ने कोई पैसा नहीं खर्च किया है। पार्टी नेता और कार्यकर्ता अपने खर्च पर पटना की रैली में शिरकत करने राजधानी आये थे। एक साजिश के तहत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और केंद्र सरकार उनके पूरे परिवार को फंसा रही है।‘ श्री यादव ने भाजपा शासित प्रदेशों की खराब स्थिति की चर्चा करते हुए कहा कि जहां-जहां भाजपा का शासन है, लोग बेहाल हैं । उन्होंने झारखंड की रघुवर दास सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य में चिकित्सकों समेत कई अहम विभागों में नियुक्ति हो नहीं रही है। रिम्स हो या जमशेदपुर का एमजीएमए अस्पताल सभी जगह बच्चे मर रहे हैं। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...