भ्रष्टाचार मामला : उच्च न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश एवं अन्य को सीबीआई हिरासत में भेजे गये

ex-hc-judge-sent-jail
नयी दिल्ली, 21 सितंबर, एक स्थानीय विशेष अदालत ने भ्रष्टाचार के मामले में आज उड़ीसा उच्च न्यायालय के सेवानिवृत न्यायाधीश इशरत मसरुर कुद्दूसी और पांच अन्य को चार दिन की सीबीआई हिरासत में भेज दिया। विशेष न्यायाधीश मनोज जैन ने कुद्दूसी और अन्य को हिरासत में भेज दिया क्योंकि केंद्रीय जांच एजेंसी ने अदालत से कहा कि कथित मेडिकल कॉलेज घोटाला मामले में बड़ी साजिश का पता लगाने के लिए हिरासत में लेकर पूछताछ करना जरुरी है। ये सभी छह व्यक्ति कल रात यहां विभिन्न स्थानों से गिरफ्तार किये गये थे। सीबीआई हिरासत में कुद्दूसी के अलावा जो लोग भेजे गये हैं वे प्रसाद एजुकेशनल ट्रस्ट के बी पी यादव और पलाश यादच, बिचौलिये विश्वनाथ अग्रवाल, कथित हवाला संचालक रामदेव सारस्वत एवं एक अन्य भावना पांडे हैं। प्रसाद एजुकेशनल ट्रस्ट लखनऊ में एक मेडिकल कॉलेज चलाता है। सीबीआई ने यह कहते हुए उनकी पांच दिन की हिरासत मांगी थी कि 1.86 करोड़ रुपये बरामद किये गये हैं और बड़ी साजिश पर गौर करने की जरुरत है क्योंकि 46 कॉलेजों को दाखिला देने से रोक दिया गया है। सीबीआई के अनुसार कल रात दक्षिण दिल्ली के ग्रेटर कैलाश में कुद्दूसी के निवास समेत आठ स्थानों पर विस्तृत तलाशी अभियान चलाये जाने के बाद ये गिरफ्तारियां की गयीं। भुवनेश्वर और लखनऊ में भी तलाशी की गयी। उसने कहा कि एक मेडिकल कॉलेज को नये विद्यार्थियों को दाखिला देने से रोके जाने के वर्तमान मामले को सुलझाने की कथित कोशिश करने को लेकर उनके विरुद्ध मामला दर्ज किया गया था।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...