अंतरराष्ट्रीय कारको से बढ़े हैं पेट्रोल डीजल के दाम : जेटली

hike-in-petroleum-products-due-to-international-factors-jaitley
नयी दिल्ली 20 सितंबर, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में पिछले दो महीने के भीतर हुयी बढोतरी को लेकर सरकार की ओलाचना करने वालों को अाज आड़े हाथों लेते हुये कहा कि अंतरराष्ट्रीय कारकों की वजह से इनके दाम बढ़े हैं जो सीमित दायरे में थे। श्री जेटली ने मंत्रिमंडल के निर्णयों की जानकारी देने के दौरान एक सवाल के जबाव में कहा कि अमेरिका में तूफान की वजह से पेट्रोलियम उत्पादों की रिफाइनरिंग लागत बढ़ गयी है जिसके कारण दाम में बढोतरी करनी पड़ी थी जो सीमित दायरे में ही रही है। उन्होंने कहा कि इस संबंध में पेट्राेलियम मंत्री भी बयान दे चुके हैं लेकिन फिर भी कुछ राजनीतिक दल सरकार आलोचना कर रहे हैं लेकिन उन दालों की जहां सरकारें हैं उन राज्यों में पेट्रोलियम उत्पादों पर वैट में कमी करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पेट्रोलियम उत्पादों पर कर से मिलने वाली राशि के केन्द्रीय पूल में से राज्यों को 42 फीसदी राशि दी जाती है और उन राज्यों को यह राशि लेने से मना करना चाहिए। श्री जेटली ने महंगाई बढने के सवाल पर कहा कि दो वर्ष पहले तक महंगाई जब 11 से 12 प्रतिशत पर पहुंच गयी थी तब यह कोई मुद्दा नहीं होता था जबकि आज यह 3.26 प्रतिशत पर है तो इसको उठाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह अभी भी चार प्रतिशत महंगाई के दायरे में है। हालांकि मानसून में सीजनल कारकों से महंगाई में बढोतरी होती है। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...