झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 25 सितम्बर

राजवाडा गरबोत्सव में शक्ति एवं भक्ति की बह रही निर्झरिणी
  • महिला सषक्ति करण को लेकर दिया स्लोगन आद्य शक्ति -नारी शक्ति
  • आज होगी स्वच्छता पर आधारित चित्रकला प्रतियोगिता

jhabua news
झाबुआ । श्री देवधर्मराज नवदुर्गा उत्सव समिति द्वारा नगर के हृदय स्थल राजवाडा चैक पर आयोजित नौ दिवसीय गरबोंत्सव में श्रद्धा,भक्ति एवं उमंग की लहर बनी हुई है । पूरा नगर गुजराती संस्कृति से आच्छादित इस गरबों का आनंद प्राप्त करने के लिये  राजवाडा चैक पर रात्री 9 बजे से उमड रहा है । राजवाडा मित्र मंडल के गोपाल नीमा द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार नवरात्री के चैथे दिन रविवार को मध्यरात्रि के बाद तक भक्ति एवं आनंद का संगम दिखाई दिया । श्री देवधर्मराज मंदिर मे बिराजित मां दुर्गा की महा मंगल आरती रात्री 8-30 बजे की गई । जिसमें श्री चिंतामन गणेश मंदिर समिति से राजेन्द्र जैन, अमित जैन, पंकज साकी,  वार्ड 8 से भाजपा पार्षद श्रीमती प्रीति जितेंद्र पांचाल, टेबल टेनिस एसोशिएशन से राजेश गौतम, जितेंद्र सोलंकी मॉर्निंग क्लब से राजेन्द्र सोनी, श्रीराम शर्मा, महेंद्र शर्मा ने अपनी उपस्थिति दी तथा दर्शनलाभ प्राप्त किये । रात्री 9 बजे से संगीत की स्वर लहरियों के साथ गुजरात के कलाकारो के मधुर कंठ से निकली मां सरस्वती रूपी शब्दों ने पूरे वातावरण को  पावागढ मय कर दिया । हजारों पांव संगीत एवं स्वर पर थिरक रहे थे और हर कोई परम्परागत एवं नवीन परिधानों में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर रहा था । गरबों के दौरान अतिथि के रूप में नगर परिषद अध्यक्ष श्रीमती मन्नू डोडियार, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के राष्ट्रीय सचिव रोहिन रॉय जिला भाजपा महिला मोर्चा अध्यक्ष आरती भानपुरिया विशेष रूप से उपस्थित थे । महिलाओं, युवकों एवं बच्चों ने गरबोत्सव में एक से बढ कर स्टेप का प्रदर्शन करते हुए पुरे माहौल को माता मय बना दिया । मित्र मंडल के गोपाल नीमा ने बताया कि राजवाडा मित्र मंडल नवदुर्गा उत्सव के दौरान सामाजिक सरोकार के विषय को भी पूरे शिद्दत के साथ महत्व देता है। मित्र मंडल की महिला विंग की संरक्षक श्रीमती शोभना शर्मा ने बताया कि हर वर्ष इस दौरान हम अपना एक स्लोगन देते हैं जिसका उद्देश्य इस संदेश को घर-घर तक पहुंचना हैं । और इसके लिए हम हर स्तर पर प्रयास करते हैं । हमारी टीम महिलाओं के सशक्तिकरण को लेकर हैं । इस वर्ष का हमारा स्लोगन आद्य शक्ति -नारी शक्ति हैं । कार्यक्रम की अगली कड़ी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरूप सामुदायिक स्वच्छता को बढ़ावा देने हेतू आज 26 सितंबर को पैलेस गार्डन झाबुआ पर दोपहर 3 बजे से 18 वर्ष तक के बच्चों की एक स्वछता विषय पर चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा हैं । इसमें भाग लेने वालों बच्चों को तीन आयु वर्ग में बाँटकर तीनो ही ग्रुपों को प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय पुरस्कार जो क्रमशः रूपये 3000-2000-1000 के मान से होगें को पुरस्कार की नगद राशि व प्रमाण पत्र दिए जाएंगे । साथ ही भाग लेने वाले शेष सभी छात्रों को भी सान्त्वना पुरस्कार के रूप में प्रमाण पत्र व पुरस्कार दिए जाएंगे । श्रीमती शर्मा ने अधिक से अधिक संख्या में बच्चो से भाग लेने का आह्वान भी किया । राजवाडा चैक पर प्रतिदिन हो रहे गरबों को निहारने के लिये गा्रमीण क्षेत्रों से भी बडी संख्या में लोग आरहे है तथा गरबों की प्रस्तुति देख कर उनकी प्रसन्नता भी उनके चेहरो पर झलकती साफ दिखाई देती है । राजवाडा मित्र मंडल ने राजवाडा चैक पर आयोजित गरबों में सहभागी होने की नगर की धर्मप्रेमी जनता से अपील की है ।


पाठक मंच की समीक्षा बैठक में ख्यात लेखिका मृदुला सिन्हा की पुस्तक ‘‘ढाई बीघा जमीन’’ की हुई समीक्षा

jhabua news
झाबुआ। शा.बा.उ.मा.वि. विद्यालय रातीतलाई (झाबुआ) के हाॅल मंे मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद भोपाल के उपक्रम ‘‘पाठक मंच झाबुआ’’ के बैनर तले ख्यात लेखिका मृदुला सिन्हा की पुस्तक ‘‘ढाई बीघा जमीन’’ की पुस्तक समीक्षा गोष्ठी का कार्यक्रम हिन्दी दिवस पखवाड़े के अवसर पर आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ सेवा निवृत्त प्राचार्य श्री अरविन्द व्यास के मुख्य आतिथ्य, वरिष्ठ साहित्यकार डाॅ. रामशंकर ‘‘चंचल’’ व पाठक मंच के जिला संयोजक भेरूसिंह चैहान ‘‘तरंग’’ की अध्यक्षता पं. गणेश प्रसाद उपाध्याय व शायर एजाज नाजी धाखी के विशेष आतिथ्य मंे माँ सरस्वती की प्रतिमा एवं स्वामी विवेकानन्द के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्जवल कर किया गया। इस अवसर पर सर्वप्रथम ‘‘पाठक मंच’’ के जिला संयोजक भेरूसिंह चैहान ‘‘तरंग’’ ने सरस्वती वंदना के साथ ही पाठक मंच की स्थापना एवं उसके उद्देश्यों पर विस्तृत प्रकाश डालते हुए बताया कि पुस्तकें ज्ञान का खजाना होती है और वर्तमान मंे पाठक पुस्तकों से दूर होता जा रहा है। पुस्तकों के प्रति पाठको का रूझान बढ़े इसलिए पाठक मंच इस उद्देश्य को पूरा करता है। श्री अरविन्द व्यास ने बताया कि कहानी मंे मानव जीवन की किसी एक घटना व्यक्ति के एक पक्ष का मनोरम चित्रण रहता है। कहानी ऐसी रचना है जिसमंे जीवन के किसी एक अंग या किसी एक मनोभाव को प्रदर्शित करना ही लेखक का उद्देश्य रहता है। मृदुला सिन्हा की सभी कहानियां रोचक एवं ज्ञानवर्धक है। इनकी कहानियां पढ़ने के लिए पाठक अंत तक बंधा रहता है। इसी के साथ उन्होंने बताया कि पाठक मंच, अपने उद्देश्य की पूर्ति मंे पूर्णरूप से सफल रहेगा। यह एक सराहनीय कार्य है। वरिष्ठ साहित्यकार डाॅ. रामशंकर ‘‘चंचल’’ ने कहा कि - कहानी मंे कम से कम पात्र होते है, इसलिए अनेक कहानियां एक बैठक मंे पढ़ी जा सकती है। कहानी का आनंद पढ़कर लिया जा सकता है। ‘‘ढाई बीघा जमीन’’ पुस्तक में सामाजिक जीवन की व्यधाओं का चित्रण बहुत ही सरल-सहज ढंग से प्रस्तुत किया गया है। इसमंे समाज की ज्वलंत समस्याओं को उजागर कर पटल पर रखा गया है। कवि पं. गणेश प्रसाद उपाध्याय ने कहा कि मृदुला सिन्हा की पुस्तक मंे  रोजमर्रा के जीवन के सभी पहलुओं का ताना बाना बुना गया है। लेखिका ने अन्र्तमन मंे उठने वाले विचारों को पुस्तक मंे लिपिबद्ध किया है। यह विचार जीवन में मिलने वाले कटु अनुभवांे का निचैड है, उनकी अनेक वर्षो की तपस्या का फल होते हुए किसी ज्ञानी व्यक्ति की अनवरत साधना का परिणाम है। एजाज नाजी धारवी ने कहा कि पुस्तक मंे लेखिका ने अपनी कलम के माध्यम से समाज को नई दिशा देने का अथक प्रयास किया है। प्रवीण सोनी ने कहा कि सभी कहानियां सरल सीधी भाषा शैली मंे है। कहानियां पढ़कर अलौकिक आनंद की प्राप्ति हुई। विक्रम गिरवाल ने बताया कि प्रभावपूर्ण शैली का प्रयोग इनकी कहानियों मंे रोचकता प्रदान करता है। कवि कुलदीपसिंह पंवार ने बताया कि पुस्तक रोचक व पठनीय है। उक्त पुस्तक पाठको को बहुत ही पसंद आएगी। इस अवसर पर साहित्यकार डाॅ. के.के. त्रिवेदी एवं श्रीमती देवयानी नायक की समीक्षा भी प्राप्त हुई जिसे तुषार राठौर ने पढ़ी। कार्यक्रम के अंत मंे हिन्दी दिवस पखवाड़े के अवसर पर काव्य गोष्ठी का भी आयोजन किया गया जिसे सर्वश्री अरविन्द व्यास, डाॅ. रामशंकर ‘‘चंचल’’, पं. गणेश प्रसाद उपाध्याय, एजाज नाजी धारवी, सुरेश समीर, भेरूसिंह चैहान ‘‘तरंग’’, कुलदीप सिंह पंवार, तुषार राठौर ने अपनी रचनाओं से सभी को मंत्र मुग्ध कर दिया। कार्यक्रम का सफल संचालन सुरेश समीर एवं आभार व्यक्त किया पाठक मंच के जिला संयोजक भेरूसिंह चैहान ‘‘तरंग’’ ने किया।

महाविद्यालय के विकास को लेकर हुई चर्चा, पूर्व छात्र संगठन की बैठक संपन्न

jhabua news
झाबुआ। शासकीय शहीद चन्द्रषेखर आजाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय झाबुआ के पूर्व छात्र संगठन की आवष्यक बैठक संगठन के अध्यक्ष डाॅ. एलएस राठौर की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में मुख्य रूप से पूर्व छात्र संगठन को सक्रिय करने एवं महाविद्यालय के विकास में अपनी सहभागिता देने के संबंध में चर्चा हुई। बैठक का प्रारंभ करते हुए महाविद्यालय के प्राचार्य एचआर अनिजवाल ने उपस्थित सभी पदाधिकारी एवं सदस्यों का स्वागत करते हुए वर्तमान में महाविद्यालय में चल रहीं व्यवस्थाओं के संबंध में संपूर्ण जानकारी दी एवं पूर्व छात्र संगठन ने निवेदन किया कि आगामी 26 सितंबर को महाविद्यालय में बैंगलोर से मूल्यांकन समिति के तीन सदस्यों का आगमन होगा, जो दो दिनों तक महाविद्यालय की गतिविधियों की सूक्ष्म जांच एवं अवलोकन कर महाविद्यालय को ग्रेडेषन करेंगे। वर्तमान में महाविद्यालय को बी प्लस ग्रेड प्राप्त है और हमारी तैयारी यह है कि महाविद्यालय को ए ग्रेड प्राप्त हो, जिसमें आप सभी का सहयोग अपेक्षित है।

महाविद्यालय को ए ग्रेड दिलवाने के प्रयास
जनभागीदारी समिति अध्यक्ष एवं पूर्व छात्र संगठन के सचिव यषवंत भंडारी ने कहा कि प्रत्येक पांच वर्ष के अंतराल में महाविद्यालय की एक उच्च स्तरीय समिति द्वारा ग्रेडेषन का कार्य किया जाता है। महाविद्यालय को राष्ट्रीय उत्कृष्ट षिक्षा अभियान एवं मप्र शासन द्वारा विभिन्न गतिविधियों को संचालित करने के लिए एवं निर्माण कार्यों के लिए करोड़ो रूपए का अनुदान प्राप्त होता है। ऐसी स्थिति में हम सभी को मिलकर हमारे महाविद्यालय को ए ग्रेड प्राप्त हो, ऐसे प्रयासों में हमे सहयोग प्रदान करना चाहिए।

नए कक्षों एवं प्रयोगषाला निर्माण की पहल की जाए
वरिष्ठ अभिभाषक एवं उपाध्यक्ष अषोकसिंह राठौर ने पूर्व छात्र संगठन के माध्यम से झाबुआ शहर मे ंपुनः विधि महाविद्यालय प्रारंभ करने की मांग की एवं इस संबंध में बार एसोसिएषन झाबुआ की ओर से पूर्ण सहयोग देने के लिए आष्वास्त किया। जनभागीदारी समिति के पूर्व अध्यक्ष एवं भाजपा जिलाध्यक्ष दौलत भावसार ने कहा कि वर्तमान में हमारे महाविद्यालय के छात्रों की संख्या निरंतर बढ़ रहीं है तथा संसाधन सीमित है। हमे जनभागीदारी समिति के माध्यम से एवं शासन के उच्च षिक्षा विभाग से इसे प्रयास कर नए कक्षों एवं नई प्रयोगषाला निर्माण की तत्काल पहल करना चाहिए। पूर्व पदाधिकारी प्रदीप रूनवाल, मांगीलाल भूरिया, ओमप्रकाष शर्मा, श्रीमती अर्चना राठौर, निषार पठान आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। बैठक के अंत में छात्र संघ के पदाधिकारी डाॅ. रविन्द्रसिंह ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।

पण्डित जी के बताए अनुशासन को अपनाकर व्यक्तिवाद को नकारे कार्यकर्ता - जिलाध्यक्ष श्री भावसार
  • एकात्ममानववाद प्रणेता पं. दीनदयाल उपाध्याय का जन्मतिथि समारोह आयोजित

झाबुआ। एकात्म मानववाद के प्रणेता और भाजपा के प्रेरणा पुरुष पण्डित दीनदयाल उपाध्याय की जन्मतिथि का सुअवसर हम कार्यकर्ताओ के लिए संगठन की रीती नीति और कार्यपद्धति के अनुरूप कार्य करते रहने का स्मरण दिवस भी हैं।जरूरी हैं की हम पण्डित जी के दर्शाए मार्ग पर चलते हुए अनुशासन को अपनाए और संगठन की सामूहिक विचारधारा को आत्मसात करने वालो का साथ समृद्ध करते हुए व्यक्तिवाद को महत्व देने वालो को दरकिनार करे ताकि संगठन अपनी मूल विचारधारा अनुरूप जनमानस में अपनी गहरी पकड़ के साथ जनहित के कार्यों को करने में लगातार और अधिक सशक्त बनता रहे। उक्त विचार भाजपा जिलाध्यक्ष श्री दौलत भावसार ने पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्मतिथि पर आयोजित जयंती समारोह को संबोधित करते हुए व्यक्त किए। सुखदेव विहार कॉलोनी स्थित भाजपा जिला कार्यालय पर आयोजित समारोह की जानकारी देते हुए जिला भाजपा मीडिया प्रभारी श्री अंबरीष भावसार ने बताया जिलाध्यक्ष श्री भावसार ने कहा यह अवसर उन सभी कार्यकर्ताओं के लिए भी आत्मविश्लेषण का समय हैं जो व्यक्तिवाद से ग्रस्त होकर उपस्थित नहीं हो पाए हैं।उन्होंने पण्डित जी के अनुशासन और सादगी का उदाहरण देते हुए कहा कालीकट (कोलकाता) के राष्ट्रीय अधिवेशन में मुख्य वक्ता का दायित्व उन पर था और गाडी के देर से पहुँचने तथा स्टेशन से आयोजन स्थल की दूरी अधिक होने की स्थिति में उन्होंने बिना देर करे सायकल से लम्बी दूरी तय कर ठीक समय पर अपनी उपस्थिति दी थी।स्वच्छ भारत अभियान के प्रदेश संयोजक श्री कल्याणसिंह डामोर ने कहा हमें पण्डित जी के दर्शाए मार्ग पर चलते हुए  व्यक्ति के लिए नहीं बल्कि संगठन के लिए कार्य करना हैं। हमारी सबकी पहचान संगठन से हैं। जिला उपाध्यक्ष श्री ओपी राय ने कहा कार्यकर्ताओं के लिए जरूरी हैं की वो संगठन की विचारधारा को अपना आदर्श बनाकर कार्य करे ना कि किसी व्यक्ति या धनबल को महत्व दे।यह समय पण्डित जी की जन्मशताब्दी समारोह का समय होने के साथ आगामी 2019 में संगठन दृष्टी से महत्वपूर्ण अवसर लिए तैयारियों का भी समय हैं।जिला मंत्री और नगर मण्डल प्रभारी श्री गोपालसिंह पँवार ने कहा संगठन हित में अब जरूरी हो गया हैं की ऐसे सभी दायित्ववानों को दायित्व मुक्त किया जाए जो अपनी भूमिका और दायित्व का निर्वाह करने में लगातार असमर्थ साबित हो चुके हैं।कई सक्रिय और योग्य कार्यकर्ता संगठन में अपना समय और समर्पण दे रहे हैं , उन्हें आगे लाना होगा।भाजपा बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ के जिला संयोजक पं. गणेशप्रसाद उपाध्याय ने जनसंघ से जुड़ी अपनी स्मृतियों को ताजा करते हुए संगठन की मजबूती के लिए त्रिस्तरीय आधारभूत सूत्र बताए। उन्होंने कहा संगठन की सफलता के लिए जरूरी हैं की बुजुर्गों (अनुभवी) का होश , जवानों (सक्रिय कार्यकर्ता) का जोश और कोषाध्यक्ष का कोष सदैव मजबूत होना चाहिए।कार्यकर्ता तिल की तरह होते हैं जिन्हें संगठन रूपी चासनी से मजबूत बनाया जा सकता हैं।पीजी कॉलेज जनभागीदारी समिति अध्यक्ष श्री यशवंत भण्डारी ने कहा आगामी समय चुनावी समर का हैं , जिसके लिए अभी से कार्यकर्ताओं को सक्रिय होना जरूरी हैं। हमें पण्डित दीनदयाल जी के दर्शाए मार्ग पर निरन्तर चलकर संगठन को सफलता दिलानी हैं।समारोह पश्चात भाजपा पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने उत्कृष्ट मार्ग तिराहे स्थित पण्डित दीनदयाल उपाध्याय प्रतिमा स्थल पहुँच प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। जयंती समारोह में वक्ताओं सहित जिला महामन्त्री श्री दिलीप कुशवाह , जिला उपाध्यक्ष श्री अजय पोरवाल , जिला मंत्री श्रीमती सावित्री मेड़ा , झाबुआ ग्रामीण मण्डल अध्यक्ष श्री हरु भूरिया , मण्डी उपाध्यक्ष श्री बहादुर हटीला , अजजा मोर्चा प्रदेश कार्यसमिति सदस्य श्री मीजिया कटारा मंचासीन व समारोह में अनेक भाजपाजन उपस्थित थे।संचालन नगर मण्डल महामन्त्री श्री किर्ती भावसार ने किया व आभार श्री हरु भूरिया ने माना।

आईओसीएल ने आयोजित किया नेत्र शिविर, 325 लोगों को चष्मों का वितरण किया गया ।

jhabua news
झाबुआ । इण्डियन आईल कार्पोरेशन लिमिटेड पश्चिमी क्षेत्र पाईप लाईन्स रतलाम द्वारा मेघनगर के बालक उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में रविवार को निशुल्क नेत्र शिविर का आयोजन किया गा । कार्यक्रम का शुभारंभ आईओसी के उप महाप्रबंधक कोयली एन के सिन्हा ने मुख्य प्रचालन पं्रबंधक रतलाम जीआर खिलापुरे, प्राचार्य एसएन शर्मा, थाना प्रभारी जीआर बरडे अनिल चैहान एवं पुष्पेन्द्रसिंह की उपस्थिति मे किया गया । कार्यक्रम के दौेरान  विद्यालय परिसर में वृक्षारोपण भी किया गया । नेत्र शिविर में 200 से अधिक गा्रमवासियों द्वारा नेत्र जांच शिविर का लाभ प्राप्त किया  तथा करीब 325 से अधिक चश्मों का वितरण किया गया तथा 100  मरीजों को चश्मों का यथाशीघ्र वितरण किया जावेगा ।

पाष्र्व पद्मावती महापूजन का हुआ भव्य आयोजन, आचार्य श्रीजी ने प्रदान की निश्रा

jhabua news
झाबुआ। विष्व पूज्य दादा गुरूदेव श्रीमद् विजय राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा द्वारा प्रतिष्ठित स्थानीय श्री ऋषभदेव बावन जिनालय मंे राष्ट्रसंत आचार्य देवेष श्रीमद् विजय ऋषभचन्द्र सूरीष्वरजी मसा की निश्रा में वर्षावास चल रहा है। इसी के तहत बावन जिनालय में विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम भी संपन्न हो रहे है। इसी क्रम मंे सोमवार को भव्याति भव्य श्री राज राजेष्वरी पाष्र्व पद्मावती महापूजन एवं भक्ति महोत्सव का आयोजन हुआ। पूजन में आचार्य श्रीजी द्वारा अपनी निश्रा प्रदान की गई। यह जानकारी देते हुए चार्तुमास समिति के संतोष जैन नाकोड़ा एवं सुभाषचन्द्र कोठारी ने बताया कि कविरत्न विद्याचन्द्र सूरीष्वरजी मसा के सुषिष्य वर्तमान आचार्य भगवंत श्रीमद् विजय ऋषभचन्द्रसूरीष्वरजी मसा द्वारा मुनिराज रजतचन्द्रविजयजी मसा, मुनि जीतचन्द्रविजयजी मसा, मुनि श्री जनकचन्द्रविजयजी मसा, समता साधिका साध्वी श्री रत्नरेखा श्रीजी मसा, साध्वी अनुभव दृष्टाश्रीजी एवं मधुर गायिका साध्वी श्री कल्पदर्षिताश्री जी मसा आदि ठाणा की उपस्थिति में सोमवार को दोपहर 12.39 बजे विजय मुहुर्त में 27 जोडो द्वारा प्रत्येक पूजन 27-27 बार की गई। अष्टप्रकारी पूजन में यंत्र की 108 बार एवं प्रतिमा की 27 बार पूजन हुई। पूजन विधिकारक आनंदीलाल जैन, मुकेषभाई एवं दिलीपभाई मोहनखेड़ा द्वारा संपन्न करवाई गई। संगीतकार त्रिलोक मोदी अहमदाबाद के संगीतमय वातावरण में महापूजन का भव्य आयोजन हुआ। महापूजन पश्चात् 108 दीपकों से पद्मावती माताजी की महाआरती उतारी गई।

महिलाओं द्वारा सामूहिक डांडिया रास का हुआ आयोजन
शाम 4.30 बजे से 6.30 बजे तक स्वामी वात्सल्य हुआ। रात्रि 7.30 बजे से भक्ति एवं मां पद्मावती देवी की नृत्य उपासना का कार्यक्रम डिम्पल डप्यूटी शाह कलाश्री ग्रुप बडौदा गुजरात की महिला कलाकारों द्वारा संपन्न हुआ। नृत्य उपासना के कार्यक्रम के बाद महिलाओं द्वारा सामूहिक डाडिया रास का आयोजन हुआ।

ग्रामीणो को शौचालय का उपयोग करने हेतु समझाईश दे
  • मुख्यमंत्री नेतृत्व क्षमता विकास कार्यक्रम के विद्यार्थियों को सीईओ जिला पंचायत जमुना भिडे ने किया निर्देशित 

jhabua news
झाबुआ । आज झाबुआ के अकादमिक प्रशिक्षण कक्ष में मुख्यमंत्री नेतृत्व क्षमता किवास कार्यक्रम के विद्यार्थियों का सम्मेलन आयोजित किया गया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीईओं जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन अभियान अंतर्गत पूरें जिले को खुले में शौच से मुक्त किया जाना है। इसके लिए हर घर में शौचालय का निर्माण करवाये जाने के लिए हितग्राहियों को प्रोत्साहित करे एवं जिन हितग्राहियों के शौचालय निर्माण कार्य पूर्ण हो गये है, उन्हें शौच के लिए शौचालय का उपयोग करने के लिए समझाईश दे गांव के अन्य व्यक्तियों को साथ ले छोटे बच्चों की वानर सेना बनाकर ग्रामीणो को खुले में शौच करने से रोके। गाॅव में वानर सेना खुले में शौच करने वालो को सी.टी बजाकर रोकेगी। इसके लिए विद्यार्थियों को सी.टी भी प्रदाय की गई। सम्मेलन में जिला समन्वयक जन अभियान परिषद श्री वीरेन्द्र ठाकुर जिला समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन श्री सुनिल सुमन सहित नेतृत्व क्षमता विकास कार्यक्रम के विद्यार्थी उपस्थित थे। सम्मेलन में विद्यार्थियो ने अपने अनुभव साझा करते हुए उन्हें स्वच्छ भारत मिशन का काम करने में आ रही समस्याओं से भी सीईओ जिला पंचायत को अवगत कराया। सीईओं जिला पंचायत श्रीमती भिडे ने विद्यार्थियो को समस्याओं का समाधान करने के लिए आश्वस्त किया।

भावांतर योजना में सभी किसानो का पंजीयन करवाये
  • बकरी पालन व्यवसाय के लिए हितग्राहियों को प्रोत्साहित करे
  • कृषि विकास एवं किसान कल्याण संबंधी बैठक में एडीएम श्री चैहान ने दिये निर्देश

jhabua news
झाबुआ । जिले में किसानो का चहुमंखी विकास करने के लिए आज कलेक्टर कार्यालय में अपर कलेक्टर श्री एसपीएस चैेहान ने कृषि विभाग पशु पालन विभाग, मत्स्य विभाग, उद्यानिकी विभाग, आपूर्ति विभाग एवं सहकारी बैंक के माध्यम से संचालित योजनाओं की समीक्षा की एवं आवश्यक निर्देश दिये। बैठक में उप संचालक कृषि श्री त्रिवेदी, परियोजना संचालक आत्मा श्री नर्गेस वरिष्ठ महाप्रबंधक केन्द्रीय सहकारी बैंक श्री पी.एन.यादव, जिला आपूर्ति अधिकारी श्री एम.के.त्यागी सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में कृषि संबंधी विभागों की योजनाओ की वर्तमान प्रगति एवं भावी कार्य योजना की समीक्षा की गई। बैठक में निर्देश दिये गये कि जिले में उन्नत नस्ल की बकरियाॅ जो, जिले की जलवायु के अनुसार अनुकूलित हो, हितग्राहियों को प्रदाय कर बकरीपालन व्यावसाय को प्रोत्साहित करे। भावंातर योजना में अब तक 1288 पंजीयन हो गये है शेष सभी किसानो को सूचित कर भावांतर योजना में किसानो का शत-प्रतिशत पंजीयन करवाना सुनिश्चित करे। पंजीयन जिले के 21 खरीदी केन्द्रो पर 11 अक्टूबर तक किये जायेगे। जिले में फल सब्जी उत्पादन के लिए किसानो को पाॅली हाउस लगाने एवं ड्रीप पद्धति से सिंचाई करने के लिए प्रोत्साहित करे।

3 से 11 अक्टूबर तक किसान सम्मेलन होगे
बैठक में उप संचालन कृषि श्री त्रिवेदी ने बताया कि जिले में 3 से 11 अक्टूबर 2017 तक विकासखण्ड स्तरीय कृषक सम्मेलन आयोजित किये जायेगे। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार 3 अक्टूबर को मेघनगर में, 4 अक्टूबर को राणापुर में, 6 अक्टूबर को पेटलावद में, 7 अक्टूबर को थांदला में 9 अक्टूबर को झाबुआ में एवं 11 अक्टूबर को रामा में किसान सम्मेलन आयोजित किया जाएगा।

ग्राम पंचायतों में पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर विशेष ग्राम सभाएॅ आयोजित

झाबुआ । आज 25 सितम्बर को पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर स्वच्छता पखवाडे के दौरान जिले की ग्राम पंचायतो में विशेष ग्राम सभाएं आयोजित की गई। ग्राम सभा के दौरान स्वच्छता एवं ओडीएफ, जल रोको  तथा पेयजल एवं रबी की फसल पर चर्चा की गई। विद्यालयों एवं आंगनबाड़ी कंेद्रों में मध्यान्ह भोजन के पूर्व सामूहिक हाथ धुलाई कार्यक्रम आयोजित किया गया। 

2 अक्टूबर को स्वच्छ भारत दिवस मनाया जाएगा
2 अक्टूबर 2017 को स्वच्छ भारत दिवस के रूप में मनाया जाएगा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री स्वच्छता समारोह आयोजित कर उत्कृष्ट कार्य करने वालो को सम्मानित किया जाएगा। प्रत्येक जनपद पंचायत में उत्कृष्ट कार्य करने वाले बालक, बालिकाओ, भजन मण्डिलयो, सफाई कर्मियो, एवं सरपंचो आदि को आमंत्रित कर सम्मानित एवं पुरस्कृत किया जाएगा।

शौर्यादल की कार्यशाला संपन्न

jhabua news
झाबुआ । आज एकीकृत बाल विकास सेवा परियोजना रामा में एक दिवसीय शौर्यादलों की कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में उपस्थित श्री आर.एस. बघेल जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी झाबुआ , श्री अजयसिंह चैहान सहायक संचालक, श्री सी.एस. बामनिया अधीक्षक बाल सम्पे्रक्षण गृह झाबुआ एवं समस्त पर्यवेक्षक आंगनवाडी कार्यकत्र्ताए, तथा शौर्यादलों के सदस्य उपस्थित थे। कार्यक्रम में श्री बघेल ने विचार व्यक्त करते हुऐ शौेर्यादलों को आ.वा. केन्द्रों के संचालन, कुपोषण में कमी लाना, आंगनवाडी केन्द्र पर शत प्रतिशत बच्चों बुलाकर, टीकाकरण में सहयोग तथा विभागीय योजनाओं का लाभ पात्र हितग्राहियों तक पहुॅचाना एवं स्वच्छता अभियान में सहयोग, बालक-बालिका का कम उम्र में विवाह नहीं हो ग्रामीणो को बताये की बाल विवाह हुआ, तो 1 लाख रू. जुर्माना, 2 वर्ष की सजा या दोनों से दंडित किया जायेगा। संबंधी जानकारी दी गई।  श्री सी.एस. बामनिया द्वारा किशोर न्याय अधिनियम 2015 के अन्तर्गत बच्चो की देखरेख एवं संरक्षण एवं पूनर्वास के संबंध में जानकारी दी गई है।  श्री अजयसिंह चैहान सहायक संचालक द्वारा शोैर्या दलों द्वारा आंगनवाडी केन्द्रों पर जाकर मध्यान्ह भोजन की मानीटरिंग कर समूह को समझाईश देने एवं नियमित नाश्ता भोजन मिनू अनुसार प्रदाय करने तथा कुपोषित बच्चों के घरों में पंचवटी के तहत सुरजना, निम्बु, आवला एवं संगीया लगाई जाने की जानकारी दी गई। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती रामली डावर प्रभारी परियोजना अधिकारी द्वारा एवं आभार श्रीमती भावना भूरा द्वारा किया गया।

मच्छर जनित बीमारियों से बचाव के लिए जल स्त्रोतो में छोडी गई गम्बुसिया 
  • मच्छरो के लार्वा को खायेगी लार्वा भक्षी मछली गॅम्बुसिया

jhabua news
झाबुआ । वर्षा उपंरात जल में पनपने वाले मच्छरो से जनित बीमारियाॅ की संभावना बनी रहती है। वर्षा होने के कारण विभिन्न गड्डो, डबरो, नालियों में वर्षा का पानी अधिक एकत्रित हो जाने के कारण मच्छर जन्य बीमारिया होने की परिस्थितियां उत्पन्न होती है। रूके हुए पानी में मच्छर के लार्वा अधिक संख्या में पनप जाते है। जिसके कारण मच्छर जनित बीमारियो के रोगियो की संख्या अधिक हो जाती है। मलेरिया/डेंगू रोग के फैलाव को रोकने के लिये ग्रामीण क्षैत्रो के ऐसे सभी जल स्त्रोतो में जिसमें पानी भरा है, उन स्थानो को चिन्हित कर गम्बुसियां मछली डालकर लार्वा विनिष्टिकरण की गतिविधि का संचालन किया गया है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्री चैहान ने बताया कि इस हेतु जिले में प्रथम चरण में माह सितम्बर में मलेरिया प्रभावित 46 ग्रामों के 391 स्थायी एवं अस्थाई जल स्त्रोतो में 1 लाख लार्वाभक्षी गम्बुसिंया मछली डाली गई। मछली के जल स्त्रोतों में संचयन होने के कारण पानी में पनप रहे लार्वा समाप्त हो जाते है, लार्वा को गम्बुसिया मछली खा जाती है। एवं मच्छर जन्य बीमारियों होने की परिस्थितियां समाप्त हो जाती है। जन सामान्य से अपील है कि डेंगू/मलेरिया/तथा चिकुनगुनिया के मच्छर साफ एवं रूके हुए पानी में पनपते है इसलिए प्रति सप्ताह कुलर, गमलों एवं टंकी की सफाई करे। सभी कटेनरो को ढंक कर रखे। अनुपयोगी टायर को जमीन में गाड दे। पानी की निकासी नियमित एवं सुचारू रूप से करे, पानी को एक स्थान पर जमा न होने दे। पानी की निकासी संभव न हो तो वाहनो का जला हुआ आॅयल या मिट्टी का तेल डाल दे। ताकि मच्छर अपने अंडे न दे सके। रात को सोते समय मच्छरदानी में सोये। नीम का धुंआ अवश्य करे।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...