एनआईए की दिल्ली और श्रीनगर में 27 स्थानों पर छापेमारी,2.20 करोड जब्त

nia-raids-27-places-in-delhi-valley-in-terror-funding-probe-seizes-rs-2-2-cr
नयी दिल्ली 06सितंबर, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने जम्मू कश्मीर में आतंकवादी गतिविधियों के लिए सीमा पार से हो रही फंडिंग के मामले में हवाला कारोबारियों के ठीकानों पर आज राजधानी दिल्ली और श्रीनगर में 27 स्थानों पर छापेमारी कर करीब कुल 2.20 करोड़ रूपए जब्त किए। एनआईए के अनुसार सुबह से शुरु किए गए इस अभियान के दौरान दिल्ली और श्रीनगर में उन करोबारारियों के घरों और व्यावसायिक प्रतिष्ठानों की तलाशी ली गई जिनपर अांतकवादी गतिविधियों के लिए फंडिग करने का आरोप या संदेह है। छापेमारी के दौरान इन स्थानों से करीब 2.20 करोड़ की राशि के साथ ही हवाला करोबार से जुड़े आपत्तिजनक दस्तावेज तथा कई सारे लैपटॉप,मोबाइल फोन और हार्ड डिस्क जैसे इलेक्ट्रानिक उपकरण भी बरामद किए गए। एनआईए के अनुसार इस दौरान कई ऐसी डायरियां,लेजर बुक भी बरामद हुए हैं जिनमें हवाला करोबार से जुड़े कई लोगों के पते,अवैध तरीके से सीमापार कारोबार करने वाली कंपनियों के बैंक खातों तथा जम्मू कश्मीर से जुड़े कुछ बैंक खातों के पासबुक भी हैं। संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा करने वाले कुछ लोगों के यात्रा दस्तावेज भी छापेमारी के दौरान बरामद किए गए हैं। छापेमारी की कार्रवाई देर शाम तक जारी थी। इस मामले में संदिग्ध लोगों से उनके ठिकानों से मिले आपत्तिजनक दस्तावेजों के बारे में पूछताछ की जा रही है। एनआईए ने आतंकवादी गतिविधियों की फंडिग के मामले में ही कल श्रीनगर से दो कुख्यात पत्थरबाजाें कुलगाम के जावेद अहमद भट और पुलवामा से कामरान यूसुफ को गिरफ्तार किया था। जांच एजेन्सी ने पत्थरबाजों के खिलाफ अभियान चलाने से पहले पत्थरबाजों के गिरोहों की पूरी सूची तैयार की है। सूत्रों के अनुसार इस सूची में लगभग 100 पत्थरबाजों के नाम हैं। एजेंसी इससे पहले पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से आंतकवादी गतिविधियों के लिए फंडिंग करने के संबंध में हुर्रियत कांफ्रेंस के दोनों धडों के प्रवक्ताओं अयाज अकबर और अधिवक्ता शाहिदुल इस्लाम सहित कट्टरपंथी हुर्रियत कांफ्रेंस के अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी के दामाद तथा कई अलगाववादी नेताओं को गिरफ्तार कर चुकी है। इसमें अन्य संगठन के लोगों को भी गिरफ्तार किया गया था जिनमें नईम खान, मेहरुजुद्दीन कलवाल, पीर सैफुल्ला और फारूक अहमद डार उर्फ बिट्टा करातायत और व्यापारी जहूर वथाली अादि शामिल हैं।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...