नक्सली मुख्यधारा में लौटें नहीं तो परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहें : राजनाथ सिंह

rajnath-warning-to-naxal
दुमका 22 सितम्बर, केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने नक्सलियों को कड़ी चेतावनी देते हुये आज कहा कि गरीबों के बच्चों को हथियार थमाकर विकास की गति रोकनेवाले उग्रवादी मुख्य धारा में लौट जाएं नहीं तो उन्हें गम्भीर परिणाम भुगतना होगा। श्री सिंह ने यहां झारखड की रघुवर सरकार के 1000 दिन का कार्यकाल पूरा होने के उपलक्ष्य में आयोजित गरीब विकास मेला को संबोधित करते हुए कहा विकास को और गति देने के लिए नक्सलवादी उग्रवाद का रास्ता छोड़ कर मुख्यधारा में लौटने के लिए आत्मसमपर्ण कर दें नहीं तो उन्हें इसके गम्भीर परिणाम भुगतने होंगे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि नक्सलवाद के नामपर कुछ लोग गरीबों के बच्चों को गुमराह कर रहे हैं और मासूम बच्चों के हाथों में हथियार देकर विकास की गति बाधित कर रहे हैं जबकि नक्सली गरीबों के पैसे से ऐशो आराम की जिन्दगी जी रहे है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार गरीबों के बच्चों के हाथों में कलम और कम्प्यूटर देकर उन्हें विकास की मुख्यधारा में लाने के लिए कृत संकल्पित है और इस दिशा में तेजी से कार्य भी कर रही है। श्री सिंह ने कहा कि सरकार को हिंसक गतिविधियों के जरिये विकास की गति रोकनेवाले तत्वों की पूरी जानकारी है। समाज में दहशत पैदा करने का सिलसिला अब नहीं चलने दिया जायेगा। उन्हाेंने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि नक्सली यदि मुख्य धारा में नहीं लौटे तो झारखंड सहित देश की धरती से नक्सलवाद को जड़ से समाप्त कर दिया जायेगा।


केंद्रीय मंत्री ने दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में देश सुरक्षित हुआ और पूरी दुनिया में भारत ताकतवर देश के रूप में स्थापित हुआ है। उन्होंने कहा कि देश की सेना किसी भी स्थिति से निपटने में पूरी तरह सक्षम है। सेना के जवान पाकिस्तान के भारत विरोधी हरकतों का मुंहतोड़ जबाब दे रहे हैं। श्री सिंह ने रघुवर सरकार द्वारा एक हजार दिन के दौरान गरीबाें के विकास के लिए किये गये कार्यों की प्रशंसा करते हुए कहा कि विकास के मामले में झारखंड दूसरे स्थान पर पहुंच गया है वहीं बुनियादी ढांचा क्षेत्र में झारखंड में पूंजी निवेश में तेजी आई है। इस कारण राज्य का सकल घरेलु उत्पाद (जीडीपी) 8.8 प्रतिशत को पार कर चुका है आनेवाले वषों में इसके दहाई अंक से अधिक हो जाने की उम्मीद है। उन्हाेंने कहा कि राज्य सरकार की ओर से गरीब आदिवासियों के विकास की दिशा में तेजी से किये गये प्रयास का असर अब दिखने लगा है। इस मौके पर केन्द्रीय गृह मंत्री ने 3000 करोड़ रुपये से अधिक की योजनाओं का शिलान्यास एवं उद्घाटन किया तथा करोड़ों रुपये की परिसम्पतियों का वितरण भी किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राज्य सरकार द्वारा 1000 दिन के दौरान किये गये कार्यों पर विस्तार से चर्चा की। समारोह में राज्य के मंत्रियों में सी. पी. सिंह, नीरा यादव, रामचन्द्र चन्द्रवंशी, चन्द्र प्रकाश चौधरी, अमर बाउरी, रणधीर सिंह, सांसद डाॅ. रवीन्द्र राय, निशिकांत दूबे के साथ मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, पुलिस महानिदेशक डी. के. पांडेय, अपर मुख्य सचिव अमित खरे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...