ब्यूरो करेगा लालू के विधायक पुत्र के मॉल मिट्टी घोटाले की जांच

पटना 21 अक्टूबर, राष्ट्रीय जनता दल(राजद)अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के विधायक पुत्र तेज प्रताप यादव के मंत्री पद पर रहते हुए उनके छोटे भाई तेजस्वी प्रसाद यादव के मॉल की मिट्टी को बगैर निविदा के ही पटना के संजय गांधी जैविक उद्यान के लिए खरीद में हुये घोटाले की जांच राज्य सतर्कता अन्वेष्ण ब्यूरो को सौंप दी गयी है। आधिकारिक सूत्रों ने आज यहां बताया कि राज्य सरकार ने कल मॉल-मिट्टी घोटाले की जांच की जिम्मेवारी ब्यूरो को सौंप दी है। राजद अध्यक्ष के बड़े पुत्र तेज प्रताप यादव जब महागठबंधन की सरकार में वन एवं पर्यावरण मंत्री थे तब उनके छोटे भाई तत्कालीन उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के दानापुर के सगुना मोड़ स्थित निर्माणाधीन मॉल की मिट्टी बगैर निविदा निकाले ही संजय गांधी जैविक उद्यान ने 90 लाख रुपये में खरीद की थी। इस मामले को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने उजागर किया था। इसके बाद राज्य के मुख्य सचिव अंजनी कुमार सिंह ने इससे संबंधित संचिका मंगाकर जांच की थी। लेकिन, करीब तीन माह पूर्व महागठबंधन टूटने के बाद राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार बनने पर श्री मोदी उप मुख्यमंत्री के साथ ही वन एवं पर्यावरण विभाग की जिम्मेवारी भी संभाल रहे हैं। उल्लेखनीय है कि श्री मोदी ने एक निश्चित समय सीमा के अंदर इस मामले की जांच कराकर रिपोर्ट पटना उच्च न्यायालय को सौंपने की बात कही है। पटना उच्च न्यायालय ने पिछले सप्ताह ही इस मामले की जांच की रिपोर्ट मांगी थी और छह सप्ताह के अंदर जवाब देने का निर्देश दिया है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...