बिहार : छात्र एसेम्बली से पटना विश्वविद्यालय पर कल प्रदर्शन का ऐलान।

  • 1 दिसंबर को पीयू मुख्यालय पर होगा प्रदर्शन। छात्रसंघ चुनाव की तिथि निर्धारित करने को लेकर संघर्ष का आह्वान, छात्रावासों का आवंटन शीघ्र ही करने की मांग, छात्रों से धोखेबाजी बर्दाश्त नहीं।

aisf-protest-on-patna-university
पटना:- आॅल इण्डिया स्टूडेन्ट्स फेडरेशन  द्वारा बुलाई गई छात्र एसेम्बली में पटना विश्वविद्यालय की स्थिति पर गंभीर चिन्ता प्रकट की गई। पटना काॅलेज में आयोजित छात्र एसेम्बली से कल 1 दिसंबर को पीयू मुख्यालय पर रोषपूर्ण प्रदर्शन का ऐलान किया गया। छात्रावासों का आवंटन शीघ्र करने, छात्रसंघ चुनाव की तिथि निर्धारित करने, शिक्षक कर्मियों की कमी पूरा करने एवं केन्द्रीय पुस्तकालय को 24 घंटा खोलने, पीयू को केन्द्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा, जेंडर सेल को सशक्त करने, कालेज में मूलभूत सुविधाओं की बहाली आदि सवालों को लेकर बुलाई गई छात्र एसेम्बली में लगभग साढ़े चार घण्टे तक गंभीर मंथन हुआ।  छात्र एसेम्बली को संबोधित करते हुए राज्य सचिव सुशील कुमार ने कहा कि पीयू कुलपति छात्रों से मीठी-मीठी बात कर अभी तक बरगलाते आए हैं। छात्रों से धोखेबाजी एवं वादाखिलाफी के खिलाफ संघर्ष का आह्वान किया। पटना कालेज एवं सैदपुर सहित सभी छात्रावासों का शीघ्र आवंटन करने एवं वादे अनुरूप छात्रसंघ की तिथि निर्धारित नहीं करने पर चरणबद्ध आन्दोलन की चेतावनी दी।
1974 आंदोलन के दरम्यान राज्य सचिव रहे रामबाबू कुमार ने कहा कि केन्द्रीय विश्वविद्यालय के मसले पर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने छात्रों को बरगलाया है। सरकार का इरादा यदि नेक है तो दोनों ही सरकार इन्हीं की है। फिर केन्द्रीय विश्वविद्यालय बनाने में देर क्यों? उन्होंने पटना कलक्टरियट के खाली होने के बाद वह जमीन पीयू को स्थानान्तरित करने की माँग की। उन्होंने कहा कि मोदी जी का पीयू शताब्दी समारोह में दिया गया भाषण पीयू सहित पूरे देश के विश्वविद्यालयों को निजीकरण की राह पर धकेलने का संकेत है। पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष रविन्दनाथ राय ने कहा कि देश का 7वां प्राचीनतम विश्वविद्यालय किस जगह पर पहुंच गया है उम्मीद की किरण छात्रों की तरफ ही है। उन्होंने आजादी के पहले और आजादी के बाद के कई संघर्षों में ।प्ैथ् की निर्णायक भूमिका का जिक्र करते हुए आज भी निर्णायक भूमिका निभाने की अपील की। छात्र एसेम्बली की अध्यक्षता पीयू अध्यक्ष राकेश प्रसाद एवं अभिषेक कुमार ने संयुक्त तौर पर किया। धन्यवाद ज्ञापन जिला सचिव सुशील उमाराज ने किया। इस दौरान राज्य कार्यकारिणी सदस्य महेश कुमार, प्रतियोगी परीक्षार्थी संघ के राज्य संयोजक सुभाष पासवान, जिला उपाध्यक्ष जन्मेजय कुमार, पीयू सचिव मुकेश कुमार यादव, सह सचिव बबलू राज, राज्य पार्षद विद्यानन्द पासवान मंगल राज, आमिर, बिरजुन कुमार भारती, राजेश कुमार, बिट्टू कुमार, पीयूष, किशोरी, अखिलेश, दिनेश, विश्वजीत, राजीव रंजन, सत्येन्द्र, अरुण, पंकज, हेमंत, आफताब, राजीव, आलम सहित दर्जनों छात्र मौजूद थे।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...