विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 19 दिसंबर

जनसुनवाई में 178 आवेदन प्राप्त हुए, मौके पर 40 आवेदनों का निराकरण

vidisha news
कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के मार्गदर्शन में आज मंगलवार को आहूत की गई जनसुनवाई कार्यक्रम में 178 आवेदकों ने आवेदन प्रस्तुत कर अपनी व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं की ओर ध्यान आकर्षित कराया। अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा ने मौके पर 40 आवेदनों का निराकरण किया है शेष लंबित आवेदनों पर समय सीमा मंे कार्यवाही कर निराकरण की जानकारी बेवपोर्टल पर अंकित करने के भी निर्देश उनके द्वारा दिए गए है। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में एसडीएम श्री रविशंकर राय, संयुक्त कलेक्टर श्री आरडीएस अग्निवंशी समेत अन्य विभागोें के अधिकारीगण पंक्तिबद्व-रो में बैठकर आवेदकों के आवेदनों को प्राप्त कर उनका निराकरण करने की कार्यवाही की गई है। जनसुनवाई कार्यक्रम में नटेरन तहसील के ग्राम पट्टन के वायोवृद्व श्री उधम सिंह ने श्रवण यंत्र प्रदाय करने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया। मौके पर ही सामाजिक न्याय विभाग के माध्यम से अपर कलेक्टर द्वारा आवेदक को श्रवण यंत्र प्रदाय किया गया है। तहसील लटेरी की ग्राम पंचायत झूकरजोगी की सरपंच श्रीमती कपूरीबाई कुशवाह और अन्य आवेदको ने अवगत कराया कि ग्राम खैरखेडी में पदस्थ शिक्षकों द्वारा अध्यापन कार्य नही कराया जा रहा है ग्राम में आज तक बिजली की व्यवस्था नही की गई है उक्त ग्राम में एक भी बीपीएलधारी परिवार एवं पेंशनधारी हितग्राही नही है। उक्त आवेदन को गंभीरता से लेते हुए अपर कलेक्टर द्वारा लटेरी एसडीएम को आवश्यक दिए गए है। वही डीपीसी को शैक्षणिक व्यवस्था की जांच कर पालन प्रतिवेदन दो दिवस के भीतर प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिए गए है। ग्राम गाजीपुर के आवेदक श्री रामस्वरूप ने शौचालय की राशि दिलाए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया। जांच पड़ताल के उपरांत राशि दिलाए जाने का आश्वासन दिया गया। ग्राम पचमा के मदन सिंह ने फसल बीमा की राशि दिलाए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया था। डंडापुरा की श्रीमती गुड्डीबाई ने बीपीएल कार्ड जारी करने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया। तहसील त्योेंदा के आवेदक श्री शंकर सिंह ने आवास दिलाने हेतु, ग्राम मसूदपुर के मिट्ठूलाल ने आर्थिक सहायता दिलाए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया था। संबंधित आवेदकों को नियम प्रक्रिया से अवगत कराया गया।  

नगद इनाम की घोषणा

पुलिस अधीक्षक श्री विनीत कपूर ने थाना सिरोंज में दर्ज अपराध के फरार आरोपी की सूचना देने अथवा गिरफ्तारी कराने में मदद करने वाले के लिए नगद इनाम देने की घोषणा की है। थाना सिरोंज मेें दर्ज अपराध प्रकरण क्रमांक 329/17 का फरार आरोपी शेरू उर्फ शेर सिंह पुत्र भूमन सिंह यादव निवासी ग्वारी की सूचना देने अथवा गिरफ्तारी में मदद करने वाले के लिए पांच हजार रूपए का इनाम घोषित किया गया है सूचना देने वाला व्यक्ति चाहे तो उसका नाम गोपनीय रखा जाएगा।

खण्ड मुख्यालय पर भी आयोजित होंगे कार्यक्रम

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस 24 दिसम्बर को जिला मुख्यालय के साथ-साथ विकासखण्ड मुख्यालय पर कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। ततसंबंध में जिला आपूर्ति अधिकारी द्वारा विकासखण्ड मुख्यालयों पर पदस्थ विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए है। श्री मारू के द्वारा कार्यक्रम के संबंध में प्राप्त दिशा निर्देश की प्रतियां भी उन्हें उपलब्ध कराई गई है। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री मारू ने जिले के सभी विकासखण्डों पर राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस नियत तिथि को आयोजित करने हेतु की जाने वाली व्यवस्थाओं एवं कार्यक्रम स्थल पर नापतौल, खाद्य एवं औषधी, विद्युत विभाग, बैंक, गैस ऐजेन्सियों, स्वैच्छिक उपभोक्ता संगठन एवं अन्य उपभोक्ताओं संबंधी प्रदर्शनी अनिवार्यतः लगाई जाएं। उन्होंने उपभोक्ताओं के जागरूकता संबंधी उक्त कार्यक्रम का प्रतिवेदन मय फोटोग्राफ सहित 26 दिसम्बर तक अनिवार्यतः उपलब्ध कराने के भी निर्देश जारी किए है।

सफलता की कहानी : ‘‘एक पंथ दो काज’’ हुआ बोरीबंधान

vidisha news
जल संचय एवं बचाव की पे्ररणा देने हेतु जिले मंे बोरीबंधान का कार्य दु्रतगति से क्रियान्वयन है। विदिशा विकासखण्ड के ग्राम चिडोरिया में नाले के उपर बनाया गया बोरीबंधान एक पंथ दो काज को चरितार्थ कर रहा है। बोरीबंधान से जहा नाले में जल भरा हुआ है वही आवागमन हेतु बोरियां पुल का काम कर रही है। गांव के बच्चे अब सुगमता से दौड लगाते हुए नाले के इस पार  से उस पार जा रहे है जहां पहले उन्हें नाले के अन्दर से निकलना पड़ता था। इस असुविधा कष्टदायी स्थिति से निजात मिला है। जनपद सीईओ के द्वारा अधिक से अधिक बोरीबंधान के कार्य जलप्रवाह क्षेत्र में करने के लिए प्रेरणादायी मार्गदर्शी उद्बोधन से ग्राम चिडोरिया के सरपंच श्री पवन किरार अत्याधिक प्रभावित हुए। उन्होंने गांव के नाले पर सबसे पहले बोरीबंधान का कार्य जन सहयोग से करने की ठानी। श्री किरार ने गांववासियों से संवाद स्थापित किया और बोरीबंधान से होने वाले फायदे को गिनाया। उनकी बात गांव वालो को भा गई और एक दिन में ही गांव के 20 से 25 लोगो ने अपना सहयोग देकर नाले पर बोरीबंधान का कार्य पूर्ण कर लिया है। अब नाले में दोनो तरफ पर्याप्त मात्रा में जल भरा हुआ है जिसका उपयोग पशु पीने में कर रहे है वही समीपवर्ती किसान सिंचाई में उपयोग कर रहे है। गांव वालो का कहना है कि यह तो एक पंथ दो काज जैसी बात हो गई है। अब बच्चे आने जाने में परेशान नही हो रहे है और भू-जल स्तर बढ रहा है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...