विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 21 दिसंबर

राज्यमंत्री श्री मीणा ग्रामीणों से रू-ब-रू हुए, लाखो की लागत के निर्माण कार्यो का लोकार्पण

vidisha news
उद्यानिकी तथा खाद्य प्रसंस्करण (स्वतंत्र प्रभार) वन राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा ने गुरूवार को ग्राम खेजडा सुल्तान, बामोरा, परासी एवं बागरोद का भ्रमण कर आमजनों की समस्याओं को सुना और निराकरण हेतु संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए है। कार्यक्रम स्थलों पर राज्यमंत्री श्री मीणा के द्वारा जिन निर्माण कार्यो का लोकार्पण किया गया उनमें दस लाख की लागत से पूर्ण कराई गई ग्रेवल सड़क खेजडा से बल्लाखेडी, एक लाख की लागत से बनाए गए चबूतरा, दो लाख की लागत से बल्लाखेडी में पूर्ण की गई सीसी रोड़, एक लाख 15 हजार से बनाया गया आदिवासी चबूतरा एवं 52 हजार की लागत से ग्राम खेजडा में तथा हनुमान मंदिर के पास एक लाख की लागत से नवनिर्मित चबूतरे का लोकार्पण किया है। राज्यमंत्री श्री मीणा ने कार्यक्रम के दौरान अनेक महिला हितग्राहियों को श्रवण यंत्र प्रदाय किए। इसके अलावा ग्राम के नौ हितग्राहियों को स्वीकृत किए गए आवासों के स्वीकृति पत्र तथा पांच हितग्राहियों को पट्टो के अधिकार पत्र एवं ऋण पुस्तिकाएं प्रदाय की गई। लोकार्पर्ण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए राज्यमंत्री श्री मीणा ने कहा कि राज्य सरकार सभी वर्गो के हितों को ध्यानगत रखते हुए योजनाएं बनाई गई है जिनका क्रियान्वयन विभागों के माध्यम से किया जा रहा है। उन्होंने किसानों के लिए प्रारंभ की गई मुख्यमंत्री भावांतर योजना से होने वाले फायदों को गिनाया। राज्यमंत्री श्री मीणा ने कहा कि पूरे विदिशा जिले को सूखाग्रस्त घोषित किया गया है ऐसे समय रोजगार के अधिक से अधिक संसाधन ग्राम पंचायतों के द्वारा प्रारंभ कराए जाएंगे। इससे आमजनों को रोजगार भी मिलेगा साथ ही साथ ग्राम में अधोसंरचनाओं का निर्माण कार्य भी पूरा कराया जा सकेगा। राज्यमंत्री श्री मीणा ने कहा कि जिले में सिंचित रकवा बढे इसके लिए छोटे बडे बांधो का निर्माण कराया गया है इन बांधो से निकलने वाली नहरों का विस्तारीकरण कार्य किया जा रहा है ताकि हर क्षेत्र तक पानी पहुंच सकें। ऐेसे किसान बंधु जिनके खेतों में अब तक नहरो के माध्यम से पानी नही पहुंचा है वे शासन की योजनाओं का लाभ उठाते हुए अपने खेतों में कूपो का निर्माण अनिवार्यतः कराएं। राज्यमंत्री श्री मीणा ने ग्राम के बच्चों से कहा कि वे स्कूल अनिवार्यतः जाएं । शासन द्वारा सभी बच्चे शिक्षित हो इसके लिए व्यापक प्रबंध किए गए है। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार द्वारा अब 75 प्रतिशत अंक बारहवीं में लाने वाले बच्चों को लेपटाॅप प्रदाय किए जाएंगे वही उच्च शिक्षा प्राप्ति में असुविधाएं ना हो इसके लिए राज्य सरकार द्वारा फीस के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। उन्होंने शासकीय योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ उठाने का आग्रह आमजनों से किया। इससे पहले एसडीएम श्री रविशंकर राय ने राजस्व विभाग की समस्याओं के निदान हेतु किए गए नवाचार से अवगत कराया। उन्होंने समस्त पटवारियों से कहा कि वे कार्यक्षेत्रों में अनिवार्यतः भ्रमण कर राजस्व कार्यो के साथ-साथ अन्य विभागों की योजनाओं के माध्यम से अधिक से अधिक लाभांवित करें। कार्यक्रम में अन्य विभागों के अधिकारियों ने विभागीय योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी। कार्यक्रम स्थलों पर श्री रणवीर सिंह बघेल, श्री दिनेश बघेल, जिला मीडिया प्रभारी श्री शैलेन्द्र ठाकुर, श्री लाखन सिंह मीणा, श्री जसवंत सिंह दांगी, श्री कल्याण सिंह रघुवंशी, श्री कोमल सिंह मीणा, श्री हृदयमोहन मीणा, श्री सुरेन्द्र रघुवंशी, श्री शिवनारायण मीणा, श्री अशोक मीणा, श्री जमना प्रसाद मीणा समेत अन्य गणमान्य नागरिक एवं ग्रामीणजन मौजूद थे। 

जीएसटी के तहत ई-वे बिल पर कार्यशाला आज

वाणिज्यिकर अधिकारी श्री आरएस मरकाम ने बताया कि जीएसटी के तहत ई-वे बिल पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन 22 दिसम्बर शुक्रवार को किया गया है। यह कार्यशाला विदिशा जनपद पंचायत के सभागार कक्ष में दोपहर 12 बजे से शुरू होगी। कार्यशाला में वस्तु एवं सेवा कर अधिनियम 2017 के अंतर्गत मध्यप्रदेश में ई-वे बिल के प्रावधान एक जनवरी से लागू होना प्रस्तावित है। इसी के तहत व्यवसाईयों एवं ट्रांसपोर्टर के मध्य प्रचार-प्रसार के उद्वेश्य से उक्त कार्यशाला का आयोजन किया गया है। कार्यशाला में शामिल होने वाले संबंधितों की शंकाओं का समाधान किया जाएगा। वाणिज्यिक कर अधिकारी श्री मरकाम ने व्यवसाई, ट्रांसपोर्टरों एवं उनके संघ प्रतिनिधि से आग्रह किया कि वे कार्यशाला में उपस्थित होकर दी जाने वाली जानकारी को आत्मसात करें और अपनी शंकाओं का समाधान प्राप्त करें। 

राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस का आयोजन 24 को

जिला मुख्यालय पर राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस का आयोजन 24 दिसम्बर को कुसुम देवी मैरिज गार्डन जिला जेल के पीछे रायल सिटी विदिशा में दोपहर 11.30 बजे से आयोजित किया गया है। कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के द्वारा स्वास्थ्य, लीड़ बैंक, ऊर्जा विभाग, नापतौल, वेयर हाउसिंग, एलपीजी डीलरों को निर्देश प्रसारित किए है कि आयोजन स्थल पर मतदाता जागरूकता संबंधी प्रदर्शनी का आयोजन किया जाए। डिजीटल बाजारों के उदभव के कारण उपभोक्ता संरक्षण में चुनौतियों से अवगत एवं समाधान की जानकारी विषय विशेषज्ञों द्वारा दी जाएगी। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...