तीन तलाक विधेयक पर राज्यसभा में अड़ंगा लगाना कांग्रेस की बड़ी गलती : सुशील मोदी

congress-fult-on-triple-tlaq-sushil-modi
पटना 07 जनवरी, बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि तीन तलाक की प्रथा को समाप्त करने के लिए लोकसभा में लाये गये विधेयक के पारित होने के बाद कांग्रेस इसे राज्यसभा में पारित कराने में अड़ंगा लगा कर गलती कर रही है और उसे अपने रूख में बदलाव कर इस मुद्दे पर सरकार को समर्थन देना चाहिए । भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं उप मुख्यमंत्री श्री मोदी ने यहां पार्टी के प्रदेश कार्यालय में हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनाव में पार्टी के प्रभारी रहे बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के सम्मान में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि लोकसभा में कांग्रेस ने तीन तलाक की प्रथा को समाप्त करने के लिए लाये गये विधेयक को कुछ हद तक समर्थन दिया था और यह पारित भी हो गया लेकिन राज्यसभा में इस मुद्दे पर कांग्रेस के रूख में परिवर्तन आ गया । इस प्रथा को समाप्त करने के लिए राज्यसभा में लाये गये विधेयक को भी कांग्रेस को समर्थन देना चाहिए ताकि यह आसानी से पारित हो सके ।  श्री मोदी ने कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने शाहबानो मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले को  निष्प्रभावी करने के लिए संविधान संशोधन विधेयक संसद से पारित कराया था । ऐसा कर श्री गांधी ने एक ‘पाप’ किया था जिसे धोने का अवसर अब कांग्रेस के पास आ गया है । उन्होंने याद दिलाया कि राजीव गांधी उस समय कांग्रेस के अध्यक्ष भी थे और आज उनके पुत्र राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष हैं । 

उप मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि तीन तलाक और निकाह हलाला के मुद्दे पर कांग्रेस की नीति ढुलमूल रही है। जब नरेन्द्र मोदी की सरकार ने तीन तलाक जैसी कुप्रथा को समाप्त करने की हिम्मत दिखायी है तो कांग्रेस इसमें बाधा उत्पन्न करने की कोशिश कर रही है । उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि एक खास वर्ग का वोट हासिल करने के लिए कांग्रेस इस तरह का रवैया अपना रही है ।  श्री मोदी ने कहा कि भाजपा के लिए हिमाचल प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव की तुलना में गुजरात विधानसभा  का चुनाव ज्यादा कठिन था । उन्होंने कहा कि गुजरात में जहां एक ओर पाटीदार आंदोलन के कारण कठिनाई उत्पन्न  हुई वहीं दूसरी ओर अब वहां नरेन्द्र मोदी जैसे कद का राजनेता नहीं था । उप मुख्यमंत्री ने कहा कि श्री मोदी काफी लम्बे समय तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे और अब वहां दूसरे नेता के मुख्यमंत्री रहते चुनाव जीतना एक बड़ी चुनौती बन गयी थी क्योंकि अब वहां कोई नेता श्री मोदी के कद के नहीं हैं ।  इसके अलावा लगातार 22 वर्षो तक सत्ता में रहने के बाद फिर से सत्ता में लौटना भी एक कठिन चुनौती थी । उन्होंने  कहा कि गुजरात देश का पहला राज्य है जहां एक ही दल को लगातार छठी बार विधानसभा चुनाव में जीत हासिल हुई है। 

इस मौके पर श्री मंगल पांडेय ने कहा कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा के चुनाव में बिहार भाजपा की टीम ने बेहतर प्रदर्शन कर दो तिहाई बहुमत से सरकार बनवाने का काम किया है । पहली बार स्वतंत्र प्रभारी के रूप में चुनाव में उन्हें काम करने का अवसर मिला था । उन्होंने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने जो ब्लूप्रिंट तैयार किया था उसी को लेकर वह आगे बढ़े जिसका नतीजा यह हुआ कि दो तिहाई बहुमत से भाजपा की सरकार बनी । हिमाचल प्रदेश की जनता ने भ्रष्टाचार और माफिया राज के खिलाफ चुनाव में बढ़चढ का वोट दिया । हिमाचल में विकास की जीत हुई है । इस अवसर पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने कहा कि श्री पांडेय ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कांग्रेस मुक्त भारत के सपने को साकार करने में अहम भूमिका निभाई है । कांग्रेस तीन तलाक पर तो कहती है कि हम साथ है लेकिन राज्यसभा में उसके नकारात्मक रवैये के कारण यह विधेयक पारित नहीं हो सका । इससे पूर्व प्रदेश अध्यक्ष श्री राय ने गुजरात विधानसभा चुनाव में पार्टी प्रत्याशियों के पक्ष में प्रचार के लिए गये कार्यकर्ता राकेश कुमार सिंह , अशोक भट्ट , ओम प्रकाश भुवन एवं कौशल कुमार विद्यार्थी और हिमाचल प्रदेश में पार्टी की ओर से चुनाव प्रचार करने वाले ब्रजेश रमण ,प्रेम रंजन पटेल , चितरंज कुमार, अरविद शर्मा ,जय कृष्ण झा , मुन्ना चौधरी ,संजय गुप्ता ,अनुप लाल श्रीवास्तव ,शशि आनंद ,राजेश वर्मा, अजय यादव तथा रत्नेश सिंह को सम्मानित किया। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...