डोभाल-जंजुआ की मुलाकात में उठा था जाधव का मुद्दा

jadhav-s-issue-was-raised-during-doval-janjua-meet
नयी दिल्ली 11 जनवरी, सरकार ने भारत एवं पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों (एनएसए) के बीच थाईलैण्ड की राजधानी बैंकाक में पिछले माह के आखिर में मुलाकात होने की आज पुष्टि की और संकेत दिए कि सीमापार आतंकवाद पर केन्द्रित इस बैठक में कुलभूषण जाधव के मुद्दे पर भी बात हुई है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यहां नियमित ब्रीफिंग में इस आशय के सवालाें के जवाब में कहा कि भारत एवं पाकिस्तान के बीच बातचीत की अलग अलग प्रणालियां हैं जिनमें दोनों देशों के सैन्य संचालन महानिदेशकों और सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) - पाकिस्तान रेंजर्स के बीच संवाद शामिल है। इन्हीं में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार स्तर का संवाद भी है। बैंकाक में 26 दिसंबर को भारत के एनएसए अजीत डोभाल और पाकिस्तानी एनएसए नासिर खान जंजुआ के बीच मुलाकात होने के बारे में पूछे जाने पर श्री कुमार ने कहा, “हमने कहा है कि बातचीत और आतंकवाद साथ साथ नहीं चल सकते लेकिन आतंकवाद पर बातचीत तो आगे बढ़ सकती है।” उन्होंने कहा कि यह बातचीत आतंक और सीमापार आतंकवाद पर केन्द्रित थी। यह कहे जाने पर कि पाकिस्तान की कैद में भारतीय नौसेना के पूर्व अधिकारी कमांडर कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान आतंकवादी मानता है, ऐसे में यह कैसे माना जा सकता है कि जाधव के मुद्दे पर बात नहीं हुई है, उन्होंने कहा कि लोग समझ सकते हैं। उल्लेखनीय है कि दोनों राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बीच हुई इस बैठक के एक दिन पहले इस्लामाबाद में श्री जाधव से उनकी मां और पत्नी की मुलाकात हुई थी जिसे लेकर भारत ने पाकिस्तान पर आपसी सहमति का उल्लंघन करने एवं जाधव की मां और पत्नी को परेशान करने का आरोप लगाया था। श्री डोभाल और जनरल जंजुआ की मुलाकात के वक्त दोनों देशों के बीच सिर्फ जाधव का मुद्दा ही सुर्खियों में था।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...