झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 08 जनवरी

दिल्ली पब्लिक स्कूल बस दुर्घटना मंे मृत हुए बच्चों को सामाजिक सस्थाओं ने मिलकर दी भावभीनी श्रद्धांजलि
  • आजाद चैक पर आजाद की प्रतिमा के समक्ष जलाई मोमबत्तीयां, स्कूली बच्चों ने भी की सहभागिता

jhabua news
झाबुआ। इंदौर में दिल्ली पब्लिक स्कूल की बस दुर्घटना में कई बच्चों की मृत्यु होने के साथ ही दिल्ली में जीप दुर्घटना मे ंवेट लिफटींग चेपिंयन के 5 खिलाड़ियों की मृत्यु हो गई। यह घटना पूरे देष के लिए एक अपूरणीय क्षति के समान है। बच्चों की मृत्यु से पूरे देष में शोक एवं गम का महौल है। देषभर में मृत बच्चों एवं खिलाड़ियों को श्रद्धांजलि दी जा रहीं है। इसी क्रम में रविवार देर शाम सकल व्यापारी संघ के तत्वाववधान में शहर की अनेक सामाजिक संस्थाओं द्वारा मिलकर शहर के आजाद चैक एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। जिसमें सर्वप्रथम आजाद की प्रतिमा पर माल्यार्पण व्यापारी संघ के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ समाजसेवी नीरजसिंह राठौर द्वारा किया गया। इसके पश्चात् शहर के विभिन्न स्कूल के छात्र-छात्राओं प्रांजली राठौर, धीरज हाडा, जानकी जैन, पुरूथा सोलंकी, समकित कोठारी, चेतन सोनी, अजय राठौर, कषिष श्रीमाल, भूमिका गुप्ता, कृतिका गादिया सहित अन्य छात्र-छात्राओं के साथ शहर की विभिन्न सामाजिक संस्थाओं से जुडे़ डाॅ. केके त्रिवेदी, राजेष नागर, हर्ष भट्ट, राजेष शाह, रविराजसिंह राठौर, लालाभाई शाह ‘आम्रपाली’, सुधीर कुषवाह, अजय रामावत, नीतिन छाजेड़, पीस आॅफ इंडिया के नव जिलाध्यक्ष राजेषसिंह चैहान, ़ऋतुराजसिंह राठौर, मुन्ना अग्निहोत्री आदि द्वारा मिलकर सर्वप्रथम मोमबत्तीयां प्रज्जवलित की गई। डाॅ. केके त्रिवेदी ने अपने उद्बोधन में इस दोनो दुर्घटनाओं को ह्रदय विदारक घटना बताया। अंत में दो मिनिट का मौन भी रखा गया।

11वीं शरीफ के मौके पर आज निकलेगा चादर जुलूस

jhabua news
झाबुआ। जश्ने गौसे आजम रह.अलैह पीर साहब की 11वीं शरीफ के मौके पर अल हनफी इस्लामी एकेडमी द्वारा मंगलवार को बाद नमाजे जोहर चादर जुलूस निकाला जाएगा। यह जुलूस मौलाना आजाद मार्ग से बाद नमाजे जोहर निकाला जाएगा जो राजवाड़ा चैक होते हुए हजरत चांदशाह वली गुलाबशाह वली आस्ताने आलिया पर पहुंचेगा जहां चादर पेश की जाएगी जिसके बाद फातेहा के बाद प्रसादी वितरित की जाएगी। इसी के तहत रजाए फातमा खवातीने इस्लाम कमेटी झाबुआ द्वारा मिलाद शरीफ खवातीने इस्लाम का आयोजन मौलाना आजाद मार्ग पर किया गया जिसमें गुजरात के दाहोद की रोजीना अशरफी व अनिसा रिजविया बयान पेश करेंगे।

कल होगा लंगर
अल हनफी इस्लामी एकेडमी के सदस्यों ने बताया कि 10 जनवरी बुधवार को लंगर का अहतमाम किया गया हैं। मौलाना आजाद मार्ग स्थित रजा गार्डन पर यह आयोजन किया जाएगा। जिसमें एकेडमी के सदस्यों ने अपील की है कि इस आयोजन बड़ी संख्या में शिरकत कर लंगर में शामिल हो।

रायपुरिया एवं झकनावदा श्री संघ झाबुआ आकर मिला आचार्यद्वय से चल प्रतिष्ठा को प्रतिष्ठित करने हेतु विनती की

jhabua news
झाबुआ। पुण्य सम्राट राष्ट्रसंत आचार्य श्रीमद् विजय जयंतसेन सूरीष्वरजी मसा की पाट परंपरा पर विराजित गच्छाधिपति आचार्य श्रीमद् विजय नित्यसेन सूरीष्वरजी एवं आचार्य जयरत्न सूरीष्वरजी मसा के श्री ऋषभदेव बावन जिनालय पहुंचकर जिले के रायपुरिया एवं झकनावदा श्री संघ द्वारा दर्षन वंदनकर कुषलक्षेम एवं सुख-साता पूछी गई। इसके साथ दोनो श्री संघ ने विगत कई दिनों से झकनवदा की गई उनकी चल प्रतिष्ठा को प्रतिष्ठित करने की विनती की। इस पर आचार्यद्वय ने कहा कि आगामी दिनों में जल्द ही कोई अच्छा मुर्हुत निकलते ही संघ व समाज की उन्नति के अनुसार मुर्हुत प्रदान कर प्रतिष्ठा करवाई जाएगी। इस अवसर पर श्री संघ अध्यक्ष मनोहरलाल राठौर, व्यवस्थापक कनकमल मांडोत, भमरलाल कोटड़िया, धर्मेन्द्र सेठिया, पारस सेठिया, पारस राठौड़, अुर्जन सेठिया, रवि सेठिया, रोषन सेठिया, विमल सेठिया, परिषद् अध्यक्ष मनीष कुमठ आदि उपस्थित थे।

युवा दिवस‘‘ के उपलक्ष्य मे 12 जनवरी को सामूहिक सूर्य नमस्कार होगा

झाबुआ । राज्य षासन के निर्देषानुसार स्वामी विवेकानंद जन्म दिवस 12 जनवरी युवा दिवस के उपलक्ष्य में जिले की सभी षैक्षणिक संस्थाओं महाविद्यालयों, पंचायतों तथा आश्रम शालाओं आदि में 12 जनवरी को प्रातः 9 बजे से 10.30 बजे तक सामूहिक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

रेडियो पर होगा प्रसारण
सामुहिक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम के सीधे प्रसारण की व्यवस्था रेडियों के सभी प्राईमरी चेनल एवं विविध भारती से होगी।  मुख्यमंत्री जी का प्री-रिकार्डेड संदेश कार्यक्रम प्रसारित किया जायेगा। सामूहिक सूर्य नमस्कार के पूरे समय तक जिले के सभी आयोजन स्थलों पर रेडियों चलाये जाने की व्यवस्था सुनिश्चित करने हेतु संबंधित संस्था प्रमुखों को कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना द्वारा निर्देशित किया गया।

ये रहेगा कार्यक्रम
सामूहिक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम के लिए 12 जनवरी को प्रातः 9 बजे से एकत्रीकरण तथा उद्घोषक द्वारा संपूर्ण कार्यक्रम की भूमिका का प्रस्तुतीकरण किया जाएगा। प्रातः 9.20 बजे राष्ट्रीयगीत -वन्देमात्रम का सामूहिक गायन होगा। मुख्यमंत्रीजी का संदेश प्रातः 9.30 बजे, प्रसारित होगा। सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम प्रातः 9.45 बजे से प्रांरभ होगा एवं 10.30 बजे तक चलेगा।

स्कूल एवं महाविद्यालय के छात्र होगे शामिल
इस आयोजन में स्कूली तथा महाविद्यालयीन विद्यार्थी शामिल होगे। इसमें किसी भी संस्था अथवा छात्र/छात्रा का भाग लेना पूर्णतः स्वैच्छिक होगा और इस हेतु किसी प्रकार की बाध्यता नही है। किन्तु स्वास्थ्य के लिए सूर्य नमस्कार बहुत लाभदायक है। अतः विद्यार्थी सहित आमजन भी इस कार्यक्रम में भाग लेकर स्वास्थ्य लाभ ले।

क्या है सूर्य नमस्कार
सूर्य नमस्कार भारतीय योग परंपरा का अभिन्न अंग हैं यह विभिन्न आसन मुद्रा और प्राणायाम का वह समन्वय है जिससे षरीर के सभी अंगों उपांगो का पूर्ण व्यायाम होता है। सूर्य नमस्कार बारह स्थितियों से मिलकर बना है। सूर्य नमस्कार के एक पूर्ण चक्र में 12 स्थितियों को क्रम से दोहराया जाता है। सूर्य नमस्कार नामक यह आयाम 7 आसनों का समुच्चय है।

पहला आसनः- प्रार्थना की मुद्रा, प्रार्थना मुद्रा एकाग्र एवं षांत अवस्था लाता है तथा रक्त संचार को सामान्य करता है।
दूसरा आसनः- हस्त उत्तानासन यह आसन उदर की अतिरिक्त चर्बी को हटाता है और पाचन को सुधारता है। इससे फेफडे पुश्ट होते है, भुजाओं और कंधो की मांसपेषियों का व्यायाम होता है।
तीसरा आसनः- पदहस्तासन,यह आसन पेट व आमाषय के दोशों को दूर करता है। कब्ज को हटाने में सहायक है। रीढ को लचीला बनाता है एवं रक्त संचार में तेजी लाता है। रीढ के स्नायुओं के दबाव को सामान्य बनाता है।
चैथा आसनः- अष्व संचालनालय उदर के अंगों की मालिष कर कार्य प्रणाली को सुधारता है। इससे पेैरो की मांसपेषियों को षक्ति मिलती है।
पांचवा आसनः- पर्वतासन भुजाओं एवं पैरो के स्नायुयों एवं मांसपेषियों को षक्ति प्रदान करता है। मस्तिश्क को क्रियाषील बनाता है।
छठवा आसनः- अश्टांग नमस्कार यह आसन पेैरो और भुजाओं की मांसपेषियों को षक्ति प्रदान करने के साथ ही सीने को विकसित करता है।
सातवां आसनः- भुजंगासन यह आसन पेट संबंधी रोगो को ठीक करने में उपयोगी है साथ ही रीढ के प्रमुख स्नायुओं को नयी षक्ति मिलती है। दमा, ब्रोन्काइटिस इत्यादि रोगो को दूर करने में भी उपयोगी होता है। सूर्य नमस्कार में बारह स्थितियाॅ होती है। षेश पांच स्थितियां क्रमषः पर्वतासन,अष्व संचालनासन, पाद हस्तासन, हस्त उत्तानासन एवं प्रार्थना की मुद्रा आसन का दोहराव है।
सूर्य नमस्कार के साथ ही प्रणायम भी करवाया जाएगा। अनुलोम-विलोम प्राणायाम, मस्त्रिका प्राणायाम एवं भ्रमरी प्राणायाम जिला स्तर पर शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय झाबुआ में  सामूहिक सूर्य नमस्कार कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम में अधिकारी एवं विद्यार्थियों द्वारा सूर्य नमस्कार एवं प्रणायाम किया जाएगा। कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने सभी जनप्रतिनिधियों, शासकीय सेवकों एवं आमजनों को अपने निकट की शैक्षणिक संस्था में कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आहवान किया है।

फलिये-फलिये, झोपडे-झोपडे जाएगी फलिया नू जात्रा
  • विधायक एवं कलेक्टर ने हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

झाबुआ ।  जिले में हर व्यक्ति तक पहुंचने एवं उसे पात्रतानुसार शासन की योजना से लाभान्वित करने के उद्देश्य से सुशासन पखवाडे के अंतर्गत नागरिकों एवं क्षेत्रीय शिकायतो/समस्याओं के निराकरण के संबंध में ‘‘फलिंया-नू-जात्रा‘ का आयोजन किया जा रहा है। आज 8 जनवरी 2018 को जात्रा को सफल बनाने के लिए कलेक्टर कार्यालय परिसर से विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल, कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना और श्री दौलत भावसार ने जात्रा को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, एसडीएम श्री के.सी. परते, सीईओ जनपद श्री वर्मा सहित शासकीय सेवक उपस्थित थे। हितग्राहियों को लाभान्वित करने के लिये संपूर्ण जिले में जात्राएॅ होगी, इस लिये आज सभी संबंधित जनपद मुख्यालय रामा, पेटलावद, मेघनगर, थांदला, राणापुर से भी जात्रा को जनप्रतिनिधियों द्वारा हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया।

14 विभागो की योजनाओं के बारे में होगी बात
जात्रा के दौरान शासकीय सेवक घर-घर पहुॅचकर 14 विभागो की प्राथमिकता वाली हितग्राही मूलक योजनाओं के बारे में लोगो से बात करेगे एवं पात्रतानुसार छूटे हुए लोगो को योजना से लाभान्वित किया जाएगा। जिसमें म.प्र. राज्य पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण की सौभाग्य योजना, मुख्यमंत्री स्थायी पंप कनेक्शन योजना, पोस्ट आॅफिस की सुकन्या सौभाग्य योजना, बचत खाता खुलवाना, सी.एफएल.वित्त/विक्रय रू. 70 रूपये, कृषि विभाग  में साईल हैल्थ कार्ड, प्रधानमंत्री फसल बीमा-15 जनवरी तक, शत-प्रतिशत पंजीयन करना, भावांतर योजना। खाद्य विभाग में प्रधानमंत्री उज्जवल योजना, पात्रता पर्ची सूची प्राप्त करना,  पशु चिकित्सा/डेयरी आचार्य विद्या सागर में पशुपालन के प्रकरण तैयार करना, स्व.सहायता समूह के प्रकरण तैयार करना, कुक्कुट पालन के प्रकरण तैयार करना, उद्योग विभाग में स्वरोजगार योजनाओं का पंजीयन, उद्यानिकी विभाग प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, सब्जी विस्तार योजना, महिला बाल विकास विभाग की लाडली लक्ष्मी योजना, आंगनवाडी कार्यकत्र्ता की नियमित उपस्थिति, संझा चूल्हा , स्वास्थ्य विभाग में मैदानी चिकित्सा कर्मियों का मुख्यालय पर निवास, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, मिशन इन्द्रधनुष, पल्स पोलियों 0-05 वर्ष, यूडीआईडी निःशक्तजन कार्ड वितरण , लोक स्वास्थ्य यांत्रीकी विभाग की, नल-जल योजना का सत्यापन, घर-घर पानी हो, गा्रमीण विकास विभाग में स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत माॅर्निग फाॅलोअप, मनरेगा योजना में सभी जरूरतमदों को रोजगार उपलब्ध कराना,संभावित पेंशनरों का चिन्हांकन करना, प्रत्येक पंचायत में दिये टेंकर का उपयोग निर्धारित किराये पर देना। प्रत्येक फलिया में तालाब हेतु जगह का चयन, भवन संनिर्माण एवं कर्मकार मंडल की योजना के प्रकरण, आनंदम साथीदार भवन की स्थापना, ग्राम पंचायत एवं कोटवार की शिकायत की पंजी संधारित करना, राजस्व विभाग के नामांतरण बंटवारा, खसरे बी-1/अतिक्रमण/ वसूली का मौके पर समझौता व निराकरण करना, जनजातीय कार्य विभाग प्रत्येक स्कूल में विद्युतीकरण, प्रत्येक स्कूल में पेयजल की व्यवस्था, वन विभाग में वनाधिकर पट्टो का निराकरण, सभी डिप्टी रेजर्स एवं फारेस्ट गार्ड की उपस्थिति । सभी विभाग प्रमुख संबंधित योजनाओं की जानकारी प्रतिदिन गुगलशीट में इन्ट्री करायेगे तथा जानकारी का संकलन जिला स्तर पर किया जावेगा। इस संबंध में जिला स्तर पर कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है, जिसका नं. 07392-244201 रहेगा। कंट्रोल रूम के नोडल अधिकारी श्री सुधीर सिंह कुशवाह अवेषक जिला पंचायत समस्त जानकारी का संकलन करेगे।

जात्रा का समय - जात्रा प्रतिदन निर्धारित दिवस को निर्धारित ग्राम में प्रातः 10.00 बजे ग्राम में पहुॅचेगी तथा ग्राम के एक प्रमुख स्थान पर समस्त ग्रामवासियो को एकत्रित कर प्रातः 10.00 से 12 बजे तक ग्राम में चैपाल का आयोजन किया जायेगा। दोपहर 12.00 बजे के पश्चात गाॅव के विभन्न फलियों में घर-घर जाकर तथा प्रत्येक फलिये में कम से कम 1 घण्टा भम्रण एवं संपर्क करेगे। रात्रि में पुनः ग्राम चैपाल सायं 6.00 बजे से 8.00 बजे तक आयोजित की जावेगी। अगले दिवस प्रातः 5.00 बजे से माॅर्निग फालोअप एवं समग्र स्वच्छता अभियान की वास्तविक स्थिति का सर्वेक्षण करेगे तथा लोगो को खुले में शौच से मुक्ति के लिये एवं समग्र स्वच्छता के लियें भी प्रेरित करेगे। प्रातः 8.00 बजे अगले ग्राम हेतु जात्रा प्रस्थान करेगी। 

जात्रा में शामिल होने वाले- प्रत्येक विकासखण्ड/तहसील स्तर पर 4 जात्राएॅ चलेगी। जो कि प्रत्येक राजस्व निरीक्षक वृत्त में 2 जात्राएॅ रहेगी। प्रत्येक जात्रा में मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास के कम से कम 8 छात्र सम्मिलित होगे। एवं संबंधित विभाग के ग्राम स्तरीय शासकीय सेवक ग्रामीणो को चिन्हित कर सेवाएॅ देगे। जात्रा को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री सक्सेना एवं विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल ने कहा कि सभी शासकीय सेवक इस कार्य को सेवा समझकर करे। जिन लोगो का काम होगा वे आपको हमेशा याद करेगे कि आपने उनके घर जाकर उनका काम किया। यह पुण्य कमाने का अवसर आपको मिला इसे गवाये नहीं।

सफलता की कहानी : बैंक सखी बनकर सीमा पंचाल को मिली नई पंहचान

jhabua news
झाबुआ । शासन द्वारा महिला सक्तिकरण के लिए किये जा रहे प्रयास  अब फलीभूत होकर सामने आने लगे है मध्यप्रदेश शासन द्वारा ग्रामीण क्षैत्र की महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने में सार्थक सहयोग किया जा रहा है। ग्रामीण महिलाएॅ पलायन कर मजदूरी करने गृह कार्य करने के साथ ही स्वयं का स्वरोजगार स्थापित कर परिवार का भरण-पोषण कर रही है। और नये आत्म विश्वास के साथ विकास के नये आयाम तय कर रही है। झाबुआ जिले के रामा ब्लाक के ग्राम खरडूबडी की सीमा पंचाल ने मध्यप्रदेश शासन की स्वरोजगार ऋण योजना एवं स्वरोजगार प्रशिक्षण का लाभ लेकर स्वयं का व्यावसाय प्रारंभ कर अपनी पहचान बैंक प्रतिनिधि के रूप में स्थापित कर ली है। कक्षा 8 वी तक पढी सीमा अपने क्षेत्र में बैंक अधिकारी के रूप में कार्य करती है। ग्रामीणो के बैंक संबंधी छोटे-छोटे लेन देन का काम करती है, जिससे हर ट्रांजिक्सन पर बैंक की तरफ से कमीशन मिल जाता है एवं ग्रामीणो को घर बैठे बैंक की सुविधा। चर्चा के दौरान सीमा ने बताया कि मध्यप्रदेश शासन की ऋण योजना एवं स्वरोजगार का प्रशिक्षण प्राप्त करने के पूर्व  वह घर के काम के साथ साथ किराना की दुकान एवं आटा चक्की के काम में परिवार का सहयोग करती थी। जिससे मासिक 4-5 हजार रूपये की आमदनी हो जाती थी। इतनी कम राशि से परिवार का भरण-पोषण संभव नहीं हो पाता था एवं कभी-कभी तो बच्चो के स्कूल की फीस भरने का संकट भी पेैदा हो जाता था। आजीविका मिशन के संपर्क में आने के बाद उसका चयन बैंक सखी के रूप में हुआ। बैंक सखी का काम आगे बढाने के लिए बैक से 1 लाख रूपये दिसम्बर 2016 में मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना में ऋण लेकर बैंक का कार्य करने के लिये लेपटाॅप इन्टरनेट कनेक्शन एवं कियोस्क सेन्टर चलाने के लिये आवश्यक उपकरण खरीदे एवं कार्य प्रारंभ करने के लिए आर सेटी संस्थान बैक आॅफ बडौदा से प्रशिक्षण प्राप्त किया। सीमा बताती है कि उसने कभी यह नहीं सोचा था कि बैंक सखी के रूप में काम करने पर उसे इतना सम्मान मिलेगा और पैसा भी। पहले वह बडे अधिकारियों से बात करने में संकोच करती थी और घर से बाहर निकलना तो मानो असंभव सा प्रतीत होता था। बैंक सखी बनने के बाद आत्म विश्वास बढा और बडे अधिकारियों से संपर्क होने से काम और आसान हो गया। बैंक सखी के रूप में चयन होने के बाद दिल्ली जाने का अवसर भी मिला जो ग्रामीण महिला के लिए सिर्फ सपना ही रहता है। मैने कभी नहीं सोचा था कि सिर्फ 8 वी पास होने पर भी मुझे इतना अच्छा व्यावसाय मिलेगा। सीमा बताती है कि उन्हे लेपटाप के बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं थी और कम्पयूटर व लेपटाप की बटन पर हाथ रखने में भी डर लगता था। अब प्रशिक्षण के बाद वह पूरे आत्मविश्वास के साथ बैंक का काम कर रही है। बैंक संबंधी कार्य करके 10-12 हजार रूपये प्रतिमाह आय अर्जित हो जाती है। जिससे परिवार का भरण-पोषण बहुत अच्छे से हो पा रहा है एवं बच्चो की शिक्षा भी वह निजी स्कूलों में करवा पा रही है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...