झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 11 जनवरी

जीवन में तीन सूत्रों को अपनावे वह है धैर्य, अपने आप पर नियंत्रण एवं आत्म विष्वास का होना -- विधायक शांतिलाल बिलवाल
  • उत्कृष्ठ विद्यालय मे विधायक ने किया स्नेह  सम्मेलन का शुभारंभ

jhabua news
झाबुआ । वार्षिकोत्सव छात्र-छात्राओं की प्रतिभाओ ं को निखारने का मंच होता है ।इसके माध्यम से सभी मित्रों एवं सहपाठियो ं को छात्रों की विभिन्न विधाओं से रूबरू होने तथा अनुकरण करने की प्रेरणा प्राप्त होती है । छात्र-छात्राओं का मुख्य लक्ष्य ही अपने अध्ययन के प्रति पूरी संवेदनाओं के साथ लक्ष्य प्राप्ति के लिये जुट जाना होता है।उत्कृष्ठ स्कूल मे यथा नाम तथा गुण - गत वर्ष के परीक्षा परिणाम भी उत्कृष्ठ रहे है यह सब छात्रों की मेहनत एवं गुरूओं के मार्गदर्शन का ही परिणाम है । प्रदेश की शिवराजसिंह की सरकार ने छात्र-छात्राओ ं के लिये  विभिन्न योजनाओ ं के माध्यम से शिक्षा के स्तर को उंचा उठाने के लिये सराहनीय कदम उठाया है । बच्चों के लिये मध्यान्ह भोजन, सायकिल वितरण योजना, गणवेशों का प्रदाय, शिष्यवृति आदि सुविधायें देने के साथ ही कक्षा 12 वीं में 75 प्रतिशत से अधिक अंक अर्जित करने पर लेपटाॅप प्रदाय एवं महाविद्यालय में जाने पर स्मार्ट फोन देने के साथ ही उच्च अध्ययन के लिये  आर्थिक सहायता भी हमारी सरकार दे रही है । इसका पूरा लाभ उठाना चाहिये ।स्कूलोंके उन्नयन के साथ ही वहां विभिन्न सुविधायें यथा बाउंडरीवाल अतिरिक्त कक्ष आदि संसाधनों के लिये भी प्रदेश सरकार पर्याप्त धनराशि का आबंटन करता है । छात्र-छात्राओं को जीवन मे आगे बढने के लिये अपना लक्ष्य निर्धारित करना होगा इस लक्ष्य प्राप्त करने के लिये अपनी पढाई पर पूरा ध्यान देना होगा । जो लक्ष्य को तय करके काम करते है वे ही जीवन मे आगे बढते है ।स्वामी विवेकानंद ने भी कहा था कि युवाओं को लक्ष्य मे आने वाली कठिनाईयों से नही डरते हुए सतत आगे बढने पर ही लक्ष्य हांसील होता है  ।युवा का उल्टा वायु होता है  और युवाओं को वायु के वेग की तरह आगे बढते रहना है। युवा ही इतिहास को बदल सकते है, श्री राम, कृष्ण, चन्द्रशेखर आजाद, विवेकानंद, भगतसिंह आदि सभी युवा ही थे जिन्होने युग कोबदला है  । हमारा देश विश्वगुरू बनने की ओर कदम बढा चुका है।हम सभी भाग्यशाली है  कि इस भारत की पावन धरा पर हमने जन्म लिया है । इसलिये जरूरी है है कि जीवन में लक्ष्य एवं दिशा बना कर आगे की ओर बढे। जीवन में तीन सूत्रों को अपनावे वह है धैर्य, अपने आप पर नियंत्रण एवं आत्म विश्वास का होना  इससे  शत प्रतिशत सफलता मिलती ही है । प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान का संदेश खुब पढे खुब बढे को अंगीकार किया जावे ।उक्त उदबोधन विधायक शांतिलाल बिलवाल ने गुरूवार को स्थानीय शासकीय उत्कृष्ठ उ.मा.विद्यालय के स्नेह सम्मेलन के शुभारंभ के अवसर पर उपस्थित छात्र छात्राओ ं एव ंविद्यालय परिवार को संबोधित करते हुए कहीं । स्थानीय उत्कृष्ठ उमा विद्यालय के स्नेह सम्मेलन का मां सरस्वती की प्रजितमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन के साथ विधायक शांतिलाल बिलवाल ने शुभारंभ किया इस अवसर पर जिला भाजपा अध्यक्ष दौलत भावसार, बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष शैलेष दुबे, नगर भाजपा मंडल अध्यक्ष बबलु सकलेचा, ठा महेन्द्रसिंह के अलावा प्राचार्य श्रीमती आयशा कुर्रेशी, छात्रसंघ के अध्यक्ष एवं सचिव, पीएस ठाकुर, श्रीमती अमीनाखान, सुूशील जायसवाल, सीमा चैहान, राजा ठाकुर आदि  उपस्थित थे । स्नेह  सम्मेलन को संबोधित करते हुए जिला भाजपाध्यक्ष दौलत भावसार ने भी अपने सरगर्भित उदबोधन में स्नेह  सम्मेलनको छात्र जीवन मे आत्मसात करने का आव्हान किया उन्होने कहा कि जीवन लमे कभी भी अंहकार नही आना चाहिये । मैं की बजाय हम के साथ काम किये जावे । श्री भावसार ने मोदीजी के डिजीटल इण्डिया के बारे में भी विस्तार से बताया ।उन्होने विश्व मे सर्वाधिक युवाओं वाला देश भारत को बताते हुए नारी शक्ति के महत्व को भी प्रतिपादित किया । इस अवसर पर शैलेष दुबे ने भी अपने उदबोधन में कक्षा 9 वी सं 12 तक के चार वर्षो में कठोर परिश्रम करके इस प्रतिस्पर्धा के युग मे आगे बढने का आव्हान किया ।उन्होने  अपने  जीवन के लिये लक्ष्य बना कर पढाई करके आगे बढने के लिये  मेहनत करने का आव्हान किया । कार्यक्रम में श्रीमती आयशा कुर्रेशी ने भी अपने विचार व्यक्त किये । शाला का प्रतिवेदन श्रीमती अमीना खान ने प्रस्तुत किया । इस अवसर पर छात्र परिशद को विधायक श्री बिलवाल ने सामूहिक शपथ दिलवाई । विधायक बिलवाल ने स्कूल में प्रदर्शनी का फीता काट कर उदघोटन किया । कार्यक्रम का सफल संचालन श्रीमती सीमा चैहान एवं सुशील जायसवाल ने किया ।आभार प्रदर्शन पीएस राठौर ने माना ।

विधायक एवं कलेक्टर ने कौषल संवर्धन एवं कौषल्या योजना में सिलाई मषीन आप्रेटर प्रषिक्षण का किया शुभारंभ

jhabua news
झाबुआ । स्थानीय शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था में  मुख्यमंत्री कौशल संवर्धन योजना एवं मुख्यमंत्री कौषल्या योजना के अन्तर्गसिलाई मशीन आपरेटर के अल्पावधि प्रशिक्षण सत्र का क्षेत्रीय विधायक शांतिलाल बिलवाल एवं जिला कलेक्टर आशीष सक्सेना द्वारा भगवान विश्वकर्मा एवं माता सरस्वतीजी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया । इस अवसर पर विधायक एवं कलेक्टर द्वारा आईटीआय  में सिलाई सत्र मे प्रशिक्षण प्राप्त कर रही महिलाओं को स्वरोजरोग के माध्यम से अपने परिवार का आर्थिक ग्राफ बढाने के साथ ही प्रशिक्षण के बाद अन्य महिलाओं को भी सिलाई विधा मे पारंगत करने के लिये सेवाओं का उपयोग करने का आव्हान किया । प्रशिक्षण सत्र के शुभारंभ के अवसर पर बाल कल्याण समिति के बबलू सकलेचा, विधायक प्रतिनिधि राजेन्द्र कुमार सोनी, प्राचार्य श्रीमती सावित्री भिडे एवं प्रशिक्षण अधीक्षक सुरेन्द्रसंिह बारिया के अलावा आईटीआई का पूरा स्टाफ उपस्थित था । कलेक्टर श्री सक्सेना ने प्रशिक्षण प्राप्त करने वाली महिलाओं के स्पेसमेट कराने के निर्देश प्राचार्य को दिये तथा भविष्य मे समुह के माध्यम से इन प्रशिक्षित महिलाओं से स्कूल यूनिफार्म आदि कार्यो मे भी इनकी सेवाये लिये जाने के बारे में कहा ।

जादू नही विज्ञान प्रतियोगिता के विजेताओं को विधायक ने किया पुरस्कृत

jhabua news
झाबुआ । झाबुआ विकास खण्ड की तलावली हाईस्कूल के विद्यार्थियों द्वारा जादू नही विज्ञान है- काम्पीटिशन में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर विधायक शांतिलाल बिलवाल ने शासकीय हाईस्कूल तलावली मे आयोजित कार्यक्रम में  प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली छात्रा कुमारी मनीषा मखोडिया एवं मानिया मेडा को पुरस्कार प्रदान करते हुए उनकी प्रतिभा की प्रसंशा की । इस अवसर पर तलावली स्कूल के प्राचार्य जितेन्द्र सोलंकी के अलावा स्कूल परिवार के सदस्यगण, मंडल कल्याणपुरा के भाजपा अध्यक्ष भूरू चैहान उपस्थित थे ।

पितृ पुरूष चाणक्य युग निर्माता एवं संकल्प शक्ति के भंडारण थे -ः महेष शर्मा
  • सर्व ब्राहा्रण समाज ने चाणक्य स्मृति दिवस पर किया व्याख्यान माला का आयोजन

jhabua news
झाबुआ। आचार्य चाणक्य युग निर्माता थे, अद्भुगत संकल्प शक्ति एवं पुरूषार्थ के बल पर चाणक्य मोर्य साम्राज्य के निर्माता बने। चंद्रगुप्त की प्रतिभा का परिमार्जन कर उन्होंने एक नए सुषासन की आधार षिला रखी। राजनीति, धर्म, परिवार और समाज की दृष्टि से इनका ग्रंथ शास्त्र पूरे विष्व में अद्वितीय है और चाणकय नीति हर युग में प्रासंगिक है। उक्त विचार सर्व ब्राहा्राण समाज द्वारा स्थानीय ैलेस गार्डन में बुधवार रात्रि को आयोजित चाणक्य स्मृति दिवस पर आयोजित व्याख्यान माला के अवसर पर मुख्य अतिथि एवं मुख्य वक्ता षिवगंगा ्रप्रमुख महेषजी शर्मा ने व्यक्त किए। श्री शर्मा ने आगे चाणक्य के गुणो ंका बखान करते हुए कहा कि जिनके चरित्र में निर्भयता होती है, वह समृद्ध एवं शक्तिषाली होती है तथा अन्याय के खिलाफ हमेषा अपने स्वर मुखर करता है। उन्होंने आगे बताया कि चाणक्य ने कहा था कि अन्याय स्वयं झुक सकता है, किन्तु हम अन्याय के आगे नहीं झुक सकते है तथा हमेषा सत्य और न्याय की ही जीत होती है।

शत्रु का शत्रु मित्र होता है
वरिष्ठ समाजसेवी यषवंत भंडारी ने अपने उद्बोधन में बताया कि चाणक्य और चंदग्रुप्त का समय एक ही है एवं अंग्रेजी गणना में ईसा 25 वर्ष पूर्व मोर्य साम्राज्य का चंद्रगुप्त का समय चाणक्य का समय बताया गया है। चाणक्यजी में एक विषेषता थी कि वह किसी पर विष्वास नहीं करते थे। वहदृढ़ इच्छा शक्ति वाले व्यक्ति थे तथा जिन बात को ठान लेते थे, उसे पूरा करके छोड़ देते थे। चाणक्यजी ने बताया कि शत्रु का शत्रु मित्र होता है। उनके अनुसार राजनीति में वहीं सफल होता है, जो साम-दाम-दंड और भंेद के साथ अपने लक्ष्य की ओर बढ़ता है। उन्होंने सुंदर कविता के माध्यम से उपस्थित माहौल को रोमांचित कर दिया।

आचार्य के सूत्र आज भी प्रासंगिक
वरिष्ठ प्राध्यापक डाॅ. गीता दुबे ने अपने संबोधन में चाणक्यजी की विभिन्न घटनाओं का उल्लेख करते हुए कहा कि चाणक्यजी ने संगठित ब्राह्राण समाज की अवधारणा को प्रस्तुत किया है और आज के संदर्भ में जो संगठित होता है, वहीं शक्तिशाली होता है। उन्होंने बताया कि आचार्य चाणक्य की सूत्रों के माध्यम से लिखी गई कई बाते आज भी प्रासंगिक है। उन्होने संदेष दिया है कि प्रजा की रक्षा करने एवं प्रजा को सुखी करने के लिए स्वयं उनके बीच में रहकर कार्य करना पड़ता है। आज के मनुष्य को भी उनके सिद्धांतों को व्यवहार में लाना होगा। चाणक्य की नीति आज पूरे विष्व में एक चर्चा का विषय बना हुआ है।

चाणक्य
वरिष्ठ अभिभाषक विरेन्द्र मोदी ने कहा कि वर्तमान समय में चाणक्य आचरण को देखकर सिंकदर जैसा महान व्यक्ति भी घुटने टेकने पर मजबूर हो गया था। उनकी कार्यशैली ऐसी थी कि कोई भी विद्वान एवं शक्तिषाली भी उनके सामने टिक नहीं पाता था। उनकी निर्भयता ही उनका मुख्य चारित्रिक गुण था तथा वे हमेषा प्रजा तथा राज्य की रक्षा के लिए कार्य करते थे तथा उनके पास निजी कुछ भी नही था। श्री मोदी ने इस दौरान अपनी चित-परिचित शैली में -तैरते हवाअेों में संवार ही संवार ही ..... देखिए देष का क्या हुआ है हाल’ कविता प्रस्तुत कर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। शरत शास्त्री ने बताया कि चाणक्य एक ऐसे राजनीतिक थे, जिसमें एक ओर मगध देष के नंद राजाओं द्वारा शासित राज्य सत्ताओं का विनाष कर मोर्य सामा्राज्य की स्थापना की तो दूसरी ओर कोटिल्य शास्त्र. जैन अभूूतपर्वू ग्रंथ की रचना कर संस्कृत साहित्य में अपना नाम और काम अमर कर दिया।

कूटनीति की होती है विषेष चर्चाएं
कार्यक्रम का संचालन करते हुए डाॅ. केके त्रिवेदी ने कहा कि चाणक्य ब्राह्राण ही नहीं अपितु पूरे विष्व के आदर्ष पुरूष है। आज समस्त विष्व में उनकी कूटनीति की विषेष रूप से चर्चाएं की जाती है। कर्यक्रम की अध्यक्षता सर्व ब्राहा्रण समाज के जिलाध्यक्ष राकेष त्रिवेदी ने करते हुए बताया कि मप्र सर्व बहा्राण समाज के निर्देष पर इस व्याख्यान माला का आयोजन किया जा रहा है। इस व्याख्यान माला के माध्यम से सकल हिन्दू समाज को जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आरक्षण नीति में अब समय की मांग है कि इसमें आमूलचूल परिवर्तन हो तथा देष के सभी समाज एवं स्रपंदायों के बीच ऐसा वातावरण बने, जो एकजुट होकर राष्ट्र को ओर अधिक शक्तिषाली बनाने में मद्द करे तथा भारत की जो प्रतिभा है, उन्हें भी उचित सम्मान मिले।

वंदे मातरमृ के साथ हुई कार्यक्रम की शुरूआत
सर्वप्रथम राष्ट्र गीत वंदे मातरम् गान की प्रस्तुति संकल्प ग्रुप की संयोजक श्रीमती भारती सोनी, विपुल सारोलकर, भाग्य त्रिपाठी, किर्ती देवल ने दी। पश्चात् अतिथियो द्वारा आचार्य चाणक्यजी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन किया गया। स्वागत भाषण सर्व ब्राहा्रण समाज के नगर अध्यक्ष हर्ष भट्ट ने दिया एवं कहा कि विगत 3 वर्षों से चाणक्य जयंती मनाई जा रहीं है। इस वर्ष भी यह चाणक्य जयंती सर्व समाज के सहयोग से व्याख्यान माला का अभिनव आयोजन किया गया है। इस व्यख्यान माला के जरिए चाणक्य के बताए गए उद्देष्यों को हम आत्मसात करे और राष्ट्र निर्माण में आचार्य चाणक्य के बताए गए रास्तों पर चलकर सहयोगी बने। अतिथियों का स्वागत समाज के अजय रामावत, पपीष पानेरी, राजेन्द्र जोषी, ओमप्रकाष शर्मा, अमित शर्मा, जयंती बैरागी, प. राजकुमार देवल, रविराजसिंह राठौर, सुनील शर्मा आदि द्वारा किया गया।

श्रीमती देवयानी नायक का किया गया सम्मान
इस अवसर पर वरिष्ठ साहित्यकार श्रीमती देवयानी नायक का विषेष सम्मान अभिनंदन पत्र देकर एवं शाल तथा पुष्प गुच्छ भेंटकर श्रीमती रेखा अष्विन शर्मा, मधु शर्मा, उमा त्रिवेदी आदि द्वारा किया गया। अभिनंदन पत्र का वाचन समाज की महिला इकाई अध्यक्ष श्रीमती सुषीला भट्ट ने किया। अपने सम्मान के प्रति उत्तर में उन्होंने सभी का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम के अंत में आभार युवा इकाई अध्यक्ष अष्विन शर्मा ने माना। राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

ये थे उपस्थित
कार्यक्रम में जितेन्द्र शाह, विनोदकुमार जायसवाल, ललित त्रिवेदी, जयंतीलाल राठौर, नवीन पाठक, शंभुसिंह पुरोहित, महेष बैरागी, प्रदीप पंड्या, रूपक त्रिवेदी, दौलत गोलानी, अखिल त्रिवेदी, विलास सारोलकर, श्रीमती संगीता त्रिवेदी, किर्ती देवल, प्रीती गौड़ सहित बड़ी संख्या मंे समाज के महिला-पुरूष एवं युवाजन उपस्थित थे।

परिवहन विभाग की बडी कार्यवाही, 2 लाख से अधिक राजस्व वसूला गया
  • नियम विरूद्ध चलने वाले वाहन किये जप्त

jhabua news
झाबुआ । विगत दो दिवस में परिवहन विभाग द्वारा बडी कार्यवाही करते हुए लगभग 15 स्कूली वाहनो की जाॅच की गई तथा 01 वाहन का फिटनेस निरस्त किया गया। जैन पब्लिक स्कूल में तीन वाहनो से बिना परमिट चलने पर चार गुना टैक्स की शास्ती लगाकर वसूल की गई तथा केशव इन्टर नेशनल स्कूल के दो वाहनो से 6600 रूपये वसूल किये गये। स्कूल वाहनो से कुल 19000 टेैक्स तथा शुल्क वसूल किया गया। इसके अलावा लगभग 50 वाहनों की जाॅच की गई जिससे एक लाख रूपये टैक्स तथा पैनल्टी वसूल की गई। साथ ही दो जेसीबी, एक बस थाना झाबुआ में जप्त कर रखी गई। थांदला में एक मैजिक वाहन जिस पर लगभग 70 हजार टैक्स बकाया था जप्त की गई। इस प्रकार विगत दो दिन में 2 लाख से अधिक शास्ती शुल्क तथा टैक्स परिवहन विभाग द्वारा वसूला गया। पारा चैकी में 3 ओवर लोड वाहन को जप्त कर रखा गया। इनसें शासन को लगभग 5.5 लाख रूपये राजस्व की प्राप्ती होगी अतः कुल राजस्व 7.5 लाख रूपये वसूल होने है। यह परिवहन विभाग की अब तक की सबसे बडी कार्यवाही है अभियान में जिला परिवहन अधिकारी राजेश गुप्ता के साथ श्री महेन्द्र कुमार पारगी, मनीष जैन प्रा. आरक्षक सौरभ आदि उपस्थित थे।

फलिया नू जात्रा में घर-घर पहुॅचकर हिंतग्राही से की जा रही चर्चा
  • ग्राम बोडायता में पहुॅचे जिला अधिकारी

jhabua news
झाबुआ । जिले में हर व्यक्ति तक पहुंचने एवं उसे पात्रतानुसार शासन की योजना से लाभान्वित करने के उद्देश्य से सुशासन पखवाडे के अंतर्गत नागरिकों एवं क्षेत्रीय शिकायतो/समस्याओं के निराकरण के संबंध में ‘‘फलिंया-नू-जात्रा‘ का आयोजन किया जा रहा है। हितग्राहियों को लाभान्वित करने के लिये संपूर्ण जिले में जात्राएॅ आयोजित कर शासकीय सेवक फलिये फलिये एवं घर-घर जाकर ग्रामीणो की समस्याएॅ जान रहे है। आज 11 जनवरी 2018 को जात्रा को सफल बनाने के लिए एसडीएम पेटलावद सहित जिला अधिकारी एवं शासकीय सेवको ने ग्राम बोडायता में आयोजित फलिया नू जात्रा में सहभागिता कर ग्रामीणो की समस्याए जानी।

14 विभागो की योजनाओं के बारे की जा रही चर्चा
जात्रा के दौरान शासकीय सेवक घर-घर पहुॅचकर 14 विभागो की प्राथमिकता वाली हितग्राही मूलक योजनाओं के बारे में लोगो से बात करके एवं पात्रतानुसार छूटे हुए लोगो को योजना से लाभान्वित किया जाएगा। जिसमें म.प्र. राज्य पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण की  सौभाग्य योजना, मुख्यमंत्री स्थायी पंप कनेक्शन योजना, पोस्ट आॅफिस की सुकन्या सौभाग्य योजना, बचत खाता खुलवाना, सी.एफएल.वित्त/विक्रय रू. 70 रूपये, कृषि विभाग  में साईल हैल्थ कार्ड, प्रधानमंत्री फसल बीमा-15 जनवरी तक, शत-प्रतिशत पंजीयन करना, भावांतर योजना। खाद्य विभाग में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, पात्रता पर्ची सूची प्राप्त करना,  पशु चिकित्सा/डेयरी आचार्य विद्या सागर में पशुपालन के प्रकरण तैयार करना, स्वयं सहायता समूह के प्रकरण तैयार करना, कुक्कुट पालन के प्रकरण तैयार करना, उद्योग विभाग में स्वरोजगार योजनाओं का पंजीयन, उद्यानिकी विभाग प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, सब्जी विस्तार योजना, महिला बाल विकास विभाग की लाडली लक्ष्मी योजना, आंगनवाडी कार्यकत्र्ता की नियमित उपस्थिति, संाझा चूल्हा , स्वास्थ्य विभाग में मैदानी चिकित्सा कर्मियों का मुख्यालय पर निवास, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, मिशन इन्द्रधनुष, पल्स पोलियों 0-05 वर्ष, यूडीआईडी निःशक्तजन कार्ड वितरण, लोक स्वास्थ्य यांत्रीकी विभाग की, नल-जल योजना का सत्यापन, घर-घर पानी हो, गा्रमीण विकास विभाग में स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत माॅर्निग फाॅलोअप, मनरेगा योजना में सभी जरूरतमदों को रोजगार उपलब्ध कराना,संभावित पेंशनरों का चिन्हांकन करना, प्रत्येक पंचायत में दिये टेंकर का उपयोग निर्धारित किराये पर देना। प्रत्येक फलिया में तालाब हेतु जगह का चयन, भवन संनिर्माण एवं कर्मकार मंडल की योजना के प्रकरण, आनंदम साथीदार भवन की स्थापना, ग्राम पंचायत एवं कोटवार की शिकायत की पंजी संधारित करना, राजस्व विभाग के नामांतरण बंटवारा, खसरे बी-1/अतिक्रमण/ वसूली का मौके पर समझौता व निराकरण करना, जनजातीय कार्य विभाग प्रत्येक स्कूल में विद्युतीकरण, प्रत्येक स्कूल में पेयजल की व्यवस्था, वन विभाग में वनाधिकर पट्टो का निराकरण, सभी डिप्टी रेजर्स एवं फारेस्ट गार्ड की उपस्थिति । सभी विभाग प्रमुख संबंधित योजनाओं की जानकारी प्रतिदिन गुगलशीट में इन्ट्री करायेगे तथा जानकारी का संकलन जिला स्तर पर किया जावेगा। इस संबंध में जिला स्तर पर कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है, जिसका नं. 07392-244201 रहेगा। कंट्रोल रूम के नोडल अधिकारी श्री सुधीर सिंह कुशवाह अन्वेषक जिला पंचायत समस्त जानकारी का संकलन करेगे। इस संबंध में कलेक्टर श्री सक्सेना ने सभी शासकीय सेवको को उक्त योजनाओं के बारे में क्रियान्वयन सुनिश्चित करने के लिए कहा। प्रातः 10 बजे जात्रा पहुंचती है फलिये में जात्रा प्रतिदन निर्धारित दिवस को निर्धारित ग्राम में प्रातः 10.00 बजे ग्राम में पहुॅचकर एक प्रमुख स्थान पर समस्त ग्रामवासियो को एकत्रित कर प्रातः 10.00 से 12 बजे तक ग्राम में चैपाल का आयोजन किया जाता है। दोपहर 12.00 बजे के पश्चात गाॅव के विभिन्न फलियों में घर-घर जाकर तथा प्रत्येक फलिये में कम से कम 1 घण्टा भ्रमण एवं संपर्क कर ग्रामीणो से योजनाओं के लाभ के बारे में चर्चा की जाती है। रात्रि में पुनः ग्राम चैपाल सायं 6.00 बजे से 8.00 बजे तक आयोजित की जाती है, तथा ग्रामीणो से संवाद किया जाता है। अगले दिवस प्रातः 5.00 बजे से माॅर्निग फालोअप एवं समग्र स्वच्छता अभियान की वास्तविक स्थिति का सर्वेक्षण करने के बाद जात्रा अगले ग्राम हेतु प्रस्थान करती है। जात्रा में प्रत्येक विकासखण्ड/तहसील स्तर पर 4 जात्राएॅ साथ-साथ चलती है। जो कि प्रत्येक राजस्व निरीक्षक वृत्त में 2 जात्राएॅ है। प्रत्येक जात्रा में मुख्यमंत्री सामुदायिक नेतृत्व क्षमता विकास के कम से कम 8 छात्र सम्मिलित होकर प्रत्येक ग्रामीण से संपर्क कर रहे है एवं संबंधित विभाग के ग्राम स्तरीय शासकीय सेवक ग्रामीणो को चिन्हित कर रहे है।

झाबुआ शहर को नम्बर वन बनाने के लिए 1969 पर काॅल करे

झाबुआ । सी.एम.ओ नगरपालिका झाबुआ श्री निगवाल ने बताया कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2018 में शहर झाबुआ को नम्बर-वन बनाने के लिए फीडबैंक देने के लिए शासन द्वारा 1969 सेवा शुरू की गई है। अपने एवं अपने परिवार के सदस्यों के मोबाईल से 1969 पर काॅल करे और मिस काॅल के विकल्प को चुने। भारत सरकार के स्वच्छ भारत काॅल सेंटर से आपको ूपी किया जाएगा। जिसमें अपनी भाषा का चयन करने के बाद अपने शहर झाबुआ एवं शौचालयो की सफाई से संबंधित प्रश्नों के जवाब में ’1नम्बर का बटन दबाकर सभी प्रश्नों के सकारात्मक जवाब देकर अपने शहर को नम्बर वन बनाने में सहयोग प्रदान करे शहरवासियों के सहयोग से ही झाबुआ बनेगा वन।

मिशन इन्द्रधनुष अभियान के तहत किया जा रहा टीकाकरण

jhabua news
झाबुआ । सघन मिशन इंन्द्रधनुष अभियान अंतर्गत बच्चो एवं गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण किया जा रहा है आज शहरी क्षेत्र झाबुआ के किशन पुरी आउटरीच सत्र स्थल पर सिविल सर्जन डाॅ. आर एस प्रभाकर, रोटरी क्लब अध्यक्ष श्री उमंग सक्सेना व श्री ईन्दरसिंह तोमर कृषि वैज्ञानिक द्वारा अभियान का उद्घाटन, समारोह पूर्वक किया गया। इस अवसर पर वार्ड के पार्षद जुवानसिंह गुण्डिया व जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ राहुल गणावा, श्री याशवंत भंडारी, शैलेन्द्र चोरे, श्री आर आर खन्ना जिला कार्यक्रम प्रबंधक व सत्यनारायण सोनी तथा महिला बाल विकास एवं स्वास्थ्य विभाग के लोक सेवक इत्यादि उपस्थित थे।

पीठासीन अधिकारियो का प्रशिक्षण 12 जनवरी को
झाबुआ । त्रि स्तरीय पंचायत उप निर्वाचन के लिए नियुक्त पीठासीन अधिकारियों का प्रशिक्षण 12 जनवरी को प्रातः 11 बजे से शासकीय पोलीटेकनिक काॅलेज झाबुआ में आयोजित किया जायेगा।

सफलता की कहानी : सौभाग्य योजना से रोशन हुआ उमरी गाॅव

jhabua news
झाबुआ । मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर सौभाग्य योजना के अंतर्गत घरो में निःशुल्क बिजली कनेक्शन प्रदान करने का काम तीव्र गति से चल रहा है। जिले में विद्युत वितरण कंपनी द्वारा बिजली विहीन घरो को निःशुल्क बिजली कनेक्शन प्रदान करने के लिये लगातार गहन सर्वेक्षण किया जा रहा है एवं बिजली विहिन घरो को रोशन करने के प्रयास जारी है। झाबुआ जिले के गाॅव उमरी में सौभाग्य योजना में बिजली पहुॅचने से उत्सव जैसा माहौल है। गाॅव में कनेक्शन विहीन 28 परिवारो को कनेक्शन दिये जा चुके है एवं अब पूरा गांव विद्युतीकृत हो गया है गाॅव में आवश्यकतानुसार ट्रांसफार्मर लगाये जा चुके है। उमरी निवासी बापू, रूपा, तेतिया, पारसिह, धूमा, मुन्ना ने बताया कि पूरे गाॅव में बिजली की लाइन का काम पूरा हो गया है। घर-घर बिजली के कनेक्शन दिये गये है। बिजली आने से गाॅव का बुनियादी विकास सुनिश्चित हो गया है। ग्रामीणो को घर बैठे बिजली कनेक्शन, एक बोर्ड और एक बल्ब मुफ्त मिला है। अगर यह व्यवस्था नहीं होती तो ग्रामीणो को बिजली कनेक्शन लेने के लिये लगभग 3 हजार रूपये प्रति घर का खर्च देना पडता। घर में निःशुल्क बिजली कनेक्शन मिलने से गाॅव के बच्चे अपनी पढाई अब रात में भी कर पायेंगे और अब मोबाईल, टी.वी., रेडियो आदि की सुविधा का उपयोग भी आसानी से कर पायेगे। देश-दुनिया से ग्रामीणो का सम्पर्क बढेगा और प्रगति के नये रास्ते भी खुलेगे।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...