'छत्तीसगढ़ से 2022 तक खत्म हो जाएगा नक्सलवाद'

naxal-will-finish-in-cg-till-2022
रायपुर, 2 जनवरी, छत्तीसगढ़ के गृहसचिव वीवीआर सुब्रमण्यम ने मंगलवार को कहा कि वर्ष 2022 तक नक्सलवाद खत्म हो जाएगा। अब सिर्फ बीजापुर और सुकमा में नक्सलियों की मौजूदगी है। उन्होंने कहा, "केंद्र और राज्य सरकार के 70 से 75 हजार जवान नक्सलियों से लड़ रहे हैं। चार नई बटालियनों में 5चार हजार जवान मार्च तक तैनात किए जाएंगे। बस्तर में 60 से 65 फीसदी नक्सलियों का सफाया हो गया है।" महानिदेशक (नक्सल ऑपरेशन) डी.एम. अवस्थी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पिछले दो सालों से चलाए जा रहे 1476 नक्सल ऑपरेशंस के दौरान 300 से ज्यादा नक्सली ढेर हुए हैं। इसमें 1994 नक्सलियों की गिरफ्तारी हुई। अवस्थी ने कहा कि साल 2017 में 300 से ज्यादा नक्सलियों को आपरेशंस के दौरान मार गिराया गया। पिछले 2 सालों में 1476 नक्सल आपरेशंस चलाए गए। इन नक्सलियों पर कुल 4 करोड़ का इनाम था। वहीं 1280 किलो की आईईडी 263 स्थानों से बरामद की गई। 100 हैंड ग्रेनेड और 2319 डेटोनेटर भी बरामद किए गए। उन्होंने बताया कि इस दौरान 102 जवान शहीद हुए। जवानों के 43 हथियार लूटे गए। साल 2017 में 1017 नक्सली गिरफ्तार हुए, जिनमें 79 नक्सलियों पर इनाम था। इनामी नक्सलियों पर 1 करोड़ 41 लाख का इनाम था। डीजी ने कहा कि इन इलाकों में विकास कार्य भी हुए। बस्तर पुलिस की मौजूदगी में इन दो वर्षो में 7 सौ किलोमीटर की सड़क का निर्माण किया गया, 1330 किलोमीटर में कार्य जारी है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...