बजट: भाजपा ने बताया विकास को आगे ले जाने वाला, विपक्ष ने कहा जुमलों के अलावा कुछ ठोस नहीं

diffrent-reaction-on-budget-2018
नयी दिल्ली, आठ फरवरी, भाजपा ने वर्ष 2018-19 के केंद्रीय बजट को ऐतिहासिक और विकास को आगे ले जाने वाला बताते हुए आज जोर दिया कि कांग्रेस ने वादे करके वोट लिये और फिर उन वादों को भूल गयी लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनावों से पहले किया गया हर वादा पूरा कर रहे हैं। वहीं, विपक्ष ने बजट को लेकर सरकार को कठघरे में खड़ा करने का प्रयास करते हुए कहा कि इसमें जुमलों के अलावा ठोस कुछ भी नहीं है। सरकार को सहकारी संघवाद की भावना का सही अर्थों में पालन करना चाहिए वरना सबका साथ, सबका विकास का सपना साकार नहीं होगा । लोकसभा में एक फरवरी को वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा पेश किये गये बजट पर सदन में कल शुरू हुई चर्चा को आगे बढ़ाते हुए भाजपा के गणेश सिंह ने कहा कि यह बजट ऐतिहासिक और देश के विकास को आगे ले जाने वाला है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार के विकास के कार्यों को पचा नहीं पा रहे हैं, इसलिए आरोप लगाते रहते हैं। भाजपा सांसद ने कहा कि कांग्रेस ने वादे करके वोट लिये और फिर उन वादों को भूल गयी लेकिन प्रधानमंत्री मोदी चुनावों से पहले किया गया हर वादा पूरा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री से राफेल सौदे पर सवाल कर रहे हैं लेकिन पहले वह बताएं कि बोफोर्स सौदे में हुए घोटाले का जवाब कौन देगा। जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी के समय देश से किये गये उन वादों पर जवाब कौन देगा जो पूरे नहीं हुए।

चर्चा में हिस्सा लेते हुए तृणमूल कांग्रेस के दिनेश त्रिवेदी ने कहा कि यह बजट उम्मीद का है लेकिन यह उम्मीद सच और ईमानदारी वाली होनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि इस बजट में जुमलों के अलावा कुछ ठोस नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की निष्ठा पर कोई संदेह नहीं कर सकता लेकिन सहकारी संघवाद की भावना का सही अर्थो में पालन करना होगा वरना सबका साथ, सबका विकास का सपना साकार नहीं होगा । त्रिवेदी ने कहा कि आज देश में कड़वाहट काफी बढ़ रही है, हमें इसे दूर करने के उपाए करने होंगे । हमारे बीच मतभेद हो सकते हैं लेकिन मनभेद नहीं होना चाहिए । भाजपा के गणेश सिंह ने कहा कि देश की निगाह आज प्रधानमंत्री मोदी पर है। पहले की सरकारों ने कभी किसानों की समस्याओं पर ध्यान नहीं दिया लेकिन मौजूदा सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य तय करके उस ओर काम शुरू कर दिया है। किसानों की हर जरूरत को पूरा करने का काम सरकार ने किया है। भाजपा सदस्य ने कहा कि कांग्रेस ने गरीबी हटाओ का नारा दिया लेकिन गरीबों को गरीब ही रहने दिया। वहीं मोदी सरकार गरीबों के कल्याण के लिए काम कर रही है और बेघरों को 2022 तक आवास देने के लक्ष्य के साथ आगे बढ़ रही है। उन्होंने अपने गृह राज्य मध्य प्रदेश में कुछ योजनाओं के लिए धन जारी करने की मांग की।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...