लवली,मलिक ने कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामा

lovely-malik-leave-congress-join-bjp
नयी दिल्ली ,18 अप्रैल, दिल्ली में अपनी राजनीतिक जमीन फिर से तलाश रही कांग्रेस को आज उस समय तगड़ा झटका लग जब पार्टी के पूर्व अध्यक्ष और शीला दीक्षित सरकार में मंत्री रहे अरविंदर सिह लवली तथा दिल्ली युवक कांग्रेस अध्यक्ष अमित मलिक भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गये । श्री लवली का भाजपा में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने स्वागत किया । दिल्ली निगमों के चुनाव से महज पांच दिन पहले श्री लवली के भाजपा में शामिल होने से कांग्रेस के उम्मीदों को करारा झटका लग सकता है । दिल्ली में गत विधानसभा चुनाव में पूरी तरह साफ हुई कांग्रेस निगम चुनावों में मेहनत कर अपनी वापसी की उम्मीद कर रही थी लेकिन श्री लवली और श्री मलिक के भाजपा में शामिल होने से पार्टी को तगड़ा झटका लगा है । श्री लवली दिल्ली में कांग्रेस की सिखों से जुड़ी राजनीति में कद्दावर नेता माने जाते थे । मौजूद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन के साथ श्री लवली के रिश्ते कभी मधुर नहीं रहे । कांग्रेस आलाकमान को अनदेखी से भी वह नाराज थे । शीला दीक्षित सरकार में श्री लवली ताकतवर मंत्री थे । उनके पास शिक्षा और परिवहन जैसे महत्वपूर्ण विभागों के अलावा कई अन्य मंत्रालय भी थे । गांधी नगर विधानसभा सीट से पांच बार विधायक श्री लवली ने 2015 का विधानसभा चुनाव नहीं लड़ा था । बाद में श्री लवली ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था और वह पार्टी से लगातार नाराज चल रहे थे। श्री मलिक उनके समर्थक हैं । दिल्ली निगम चुनावों में टिकट बंटवारे को लेकर भी श्री लवली पार्टी के वरिष्ठ नेताआें से नाराज थे । शीला सरकार में ही वरिष्ठ मंत्री अशोक कुमार वालिया ने भी अपने समर्थकों को टिकट न मिलने से नाराजगी जाहिर की थी । एक और पूर्व मंत्री मंगत राम सिंघल ने संवाददाता सम्मेलन कर निगमों में टिकट बेचने का आरोप लगाया था । पार्टी के कई कद्दावर नेता भी निगम में टिकट बंटवारे से खुश नहीं थे ।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...