इंदिरा गांधी के दिल में था भारत के लिये जुनून : प्रणव

indira-gandhi-s-entire-life-was-infused-with-a-tremendous-passion-for-india-its-people-pranav
नयी दिल्ली, 13 मई, राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने भारत के भाग्य को संवारने में योगदान देने के लिये पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की तारीफ करते हुये आज कहा कि भारत और यहां के लोगों के लिये उनमें जबरदस्त जुनून था। श्री मुखर्जी को कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने श्रीमती इंदिरा गांधी पर लिखी किताब इंडियाज इंदिरा- ए सेंटेन्नियल ट्रिब्यूट’ की पहली प्रति भेंट की। इस किताब का संपादन कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने किया है। इस मौके पर श्री मुखर्जी ने कहा, “ इंदिरा जी का पूरा जीवन भारत और भारत के लोगों के प्रति जुनून से भरा था, हमारे बुनियादी मूल्यों के लिए वह पूरी तरह प्रतिबद्ध थी। उनमें भारत को गरीबी से निकालने और वंचितों को ऊपर उठाने की इच्छा के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश को ऊंचा उठाने के लिए प्रतिबद्धता थी।” इस किताब का विमोचन उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने तीनमूर्ति भवन के नेहरू मेमोरियल संग्रहालय एवं पुस्तकालय में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य कांग्रेसी नेताओं की मौजूदगी में किया। राष्ट्रपति ने कहा कि दिवंगत इंदिरा गांधी का जीवन साहस और दृढ़ विश्वास की गाथा है। उन्हाेंने कहा, “काम करने में निडरता और साहसी निर्णय उनके चरित्र की खासियत थी। उन्होंने अपने जीवन में सांप्रदायिक हिंसा के खिलाफ निरंतर संघर्ष किया।” इस माैके पर श्री अंसारी ने उनकी उपलब्धियों का बखान करते हुये कहा कि इंदिराजी के समय में भारत कुशल वैज्ञानिक एवं तकनीक संपन्न कामगारों के मामले में तीसरा सबसे बड़ा देश बना। उनके कार्यकाल के दौरान सैन्य शक्ति के मामले में यह दुनिया में पांचवे स्थान पर था, परमाणु शक्ति संपन्न छठा देश बना, अंतरिक्ष की दौड़ में सातवें और औद्योगिक क्षेत्र में दसवें स्थान पर रहा।’’

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...