अखिलेश को सत्ता की चाभी सौंपना मेरी सबसे बडी भूल : मुलायम

making-akhilesh-as-cm-was-my-biggest-mistake-mulayam
मैनपुरी, 07 मई, उत्तर प्रदेश राज्य विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी (सपा) की हार की ठीकरा कांग्रेस के साथ गठबंधन पर फोडते हुये सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने आज कहा कि अगर वह सूबे की सत्ता अखिलेश के हाथ में न देते तो ये हालात नही होते। मैनपुरी की करहल बिधान सभा क्षेत्र के गुनेहया गाँव में राम सिंह की प्रतिमा का अनावरण करने आये श्री यादव ने कहा कि कांग्रेस के साथ गठबंधन समाजवादी पार्टी के लिए नुकसानदायक साबित हुआ। जिसकी वजह से पार्टी की करारी हार हुई। कांग्रेस ने उनकी जिंदगी बर्बाद करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। उन्होने कहा “ सपा की बुरी दशा की जिम्मेदार कांग्रेस है। कांग्रेस ने मुझे बर्बाद करने के लिए क्या नहीं किया। झूठे केस लगाये, मेरे मना करने के बाद भी अखिलेश ने कॉंग्रेस से गठबंधन किया। अखिलेश यादव और रामगोपाल यादव ने उनकी कोई बात नहीं मानी, रामगोपाल यादव ने शकुनि का काम किया है। ” सपा की हार का जिम्मेदार खुद को बताते हुए उन्होंने कहा कि अगर वह सत्ता अखिलेश के हाथ में न देते तो ये हालात नही होते। उन्होने कहा “ सपा के शकुनि (रामगोपाल) ने शिवपाल को हराने के लिए 52 लाख खर्च किये, फिर भी शिवपाल 52 हजार मतों से चुनाव जीते। शिवपाल यादव को तो मैं बहुत समझाता हूं मगर शिवपाल का भी तो सम्मान है।” श्री यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने झूठ बोलकर देश को ठगने का काम किया है। झूठ बोलने वाला भी भ्रष्टाचारी होता है। प्रधानमंत्री के झूठ से देश को नुकसान हुआ है। महिलाओं को नसीहत देते हुए सपा नेता ने कहा कि महिलाएं पर्दा न करें। पर्दा करने से उनकी तरक्की रुक जाती है। इस अवसर पर समाजवादी पार्टी के क्षेत्रीय विधायक सोबरन सिंह यादव मौजूद रहे।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...