भारतीय सेना को चीन की धमकी, इतिहास से ले सबक

indian-army-should-learn-lesson-from-past-china
बीजिंग 29 जून, सिक्किम में भारत-चीन सीमा पर दोनों देशों के बीच बढ़े तनाव के बीच चीन ने आज भारत को इतिहास से सबक लेने की धमकी दी है, चीन के रक्षा मंत्रालय की प्रेस बीफ्रिंग में मंत्रालय के सूचना कार्यालय के उप निदेशक और प्रवक्ता कर्नल वू क़ियान ने एक सवाल के जवाब में इशारों इशारों में 1962 के युद्ध का जिक्र करते हुये कहा, “हमें उम्मीद है कि भारतीय सेना इतिहास से सबक लेगी।” कर्नल वू की यह प्रतिक्रिया उस सवाल पर आई जिसमें भारत के सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत के उस बयान के बारे में पूछा गया था जिसमें उन्होंने कहा था कि भारत ढाई मोर्चे पर युद्ध लड़ने के लिए तैयार है। जनरल रावत ने कहा था कि भारत चीन, पाकिस्तान और आंतरिक चुनौतियों से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार है। चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, “भारतीय सेना प्रमुख से ऐसी टिप्पणी बेहद गैरजिम्मेदार है। हमें उम्मीद है कि भारतीय सेना का यह व्यक्ति इतिहास से सीख लेकर ऐसे उकसाने वाली टिप्पणी नहीं करेगा।” वहीं दूसरी तरफ चीन के विदेश मंत्रालय ने कहा कि दोनों देशाें के बीच ताजा विवाद तभी सुलझ सकता है जब भारतीय सेना इस क्षेत्र से वापस जाएगी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कंग ने सिक्किम के डोका ला में भारतीय सेना की घुसपैठ का दावा करते हुये तस्वीरें दिखाईं। उन्हाेंने कहा, “ इस गैरकानूनी घुसपैठ के बारे में हमने नयी दिल्ली और बीजिंग में भारत से विरोध दर्ज करा दिया है। चीन अपने अधिकार वाले इलाके में सड़क निर्माण को आगे बढ़ा रहा है। डोकलाम इलाके में उसके सड़क निर्माण से भूटान या भारत का कोई लेना देना नहीं है।”

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...