विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 06 जून

अधिकांश आवेदनोें का मौके पर निराकरण

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी के द्वारा आज मंगलवार को आहूत की गई जनसुनवाई कार्यक्रम मेें 252 आवेदकों ने अपने आवेदन प्रस्तुत कर व्यक्तिगत और सार्वजनिक समस्याओं की ओर कलेक्टर श्री सुचारी का ध्यान आकर्षित कराया। मौके पर कलेक्टर द्वारा 201 आवेदनों का निराकरण किया गया है। शेष लंबित आवेदनों पर समय सीमा में कार्यवाही करने के निर्देश कलेक्टर द्वारा संबंधित विभागों के जिलाधिकारियों को दिए गए है। कलेक्टर न्यायालय कक्ष में हुई जनसुनवाई कार्यक्रम में गंजबासौदा तहसील के मेवली पंचायत के दिव्यांग श्री प्रेम सिंह अहिरवार ने अपने पैरो के आपरेशन हेतु आर्थिक सहायता दिलाए जाने का अनुरोध किया। आवेदक को अवगत कराया गया कि शासकीय योजनाआंे के तहत निःशुल्क आपरेशन कराने की व्यवस्था है। आवेदक को किसी भी प्रकार की आर्थिक सहायता मुहैया कराए जाने का प्रावधान नही है। चिकित्सक द्वारा मौके पर आवेदक को जिला चिकित्सालय भिजवाने की व्यवस्था क्रियान्वित की गई। मोहनगिरी की आवेदिका श्रीमती प्यासीबाई जाटव ने बताया कि उन्हें वृद्वावस्था पेंशन विगत तीन माह से नही मिली है प्र्रकरण की जांच कर पात्रतानुसार शीघ्र राशि दिलाए जाने की कार्यवाही करने के लिए मुख्य नगरपालिका अधिकारी को निर्देश दिए गए है। गुलाबगंज तहसील के ग्राम बर्रीघाट की आवेदिका श्रीमती शिववती पंथी ने बताया कि निजी नर्सिंग होम काॅलेज में अध्ययनरत हूं किन्तु छात्रवृत्ति नही मिल रही है। प्रकरण की जांच करने हेतु नोड्ल शासकीय कन्या महाविद्यालय की प्राचार्यो को अधिकृत किया गया है। ग्राम कुल्हार के बीपीएलधारी श्री कमल सिंह रायकवार ने बताया आवास दिलाए जाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया था। आवेदक को प्रधानमंत्री आवास योजना की पात्रता से अवगत कराया गया औार बताया गया कि एसीसी डाटा सूची में नाम होने पर कुटीर आवंटित करने का कार्य श्रृखलांबद्व किया जा रहा है। अहमदानगर की आवेदिका श्रीमती वैजन्ती अहिरवार ने नलजल योजना से कनेक्शन दिलाने हेतु आवेदन प्रस्तुत किया था जिस पर जनपद सीईओ को कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया था। गंजबासौदा के श्री मनोज कुमार ने बताया कि उनके द्वारा बीमा पाॅलिसी ली गई थी जिसकी अवधि पूर्ण होने के उपरांत भी बीमा कंपनी द्वारा राशि देने में आनाकानी की जा रही है। प्रकरण की जांच हेतु लीड़ बैंक आफीसर को अधिकृत किया गया है।  आज हुई जनसुनवाई कार्यक्रम में अधिकांश आवेदन विद्युत बिलों की राशि कम करने, सीमांकन कराने, आर्थिक सहायता दिलाए जाने और बीपीएल सूची में नाम दर्ज करने तथा पात्रतापर्ची जनरेट नही होने की शिकायते प्राप्त हुई थी जिन पर कार्यवाही करने के निर्देश कलेक्टर द्वारा संबंधित विभागों के अधिकारियों को दिए गए। जनसुनवाई के दौरान एसडीएम श्री आरपी अहिरवार, डिप्टी कलेक्टर श्री एके मांझी समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।  


जिला स्तरीय प्रवेशोत्सव कार्यक्रम 16 को पालकी में

स्कूल चले हम अभियान के तहत जिले में 16 जून को प्रवेशोत्सव कार्यक्रमों का आयोजन हर शासकीय शैक्षणिक संस्थाओं में आयोजित किया जाएगा। इस दिन विद्यार्थियों को तिलक लगाकर शालाओं में प्रवेश दिलाया जाएगा और उन्हेें पाठ्यपुस्तके एवं अन्य सामग्री प्रदाय की जाएगी। जिला स्तरीय प्रवेशोत्सव कार्यक्रम का आयोजन ग्राम पालकी में आयोजित किया गया है कि जानकारी देते हुए जिला शिक्षा अधिकारी श्री एचएन नेमा ने बताया कि आयोजन के मद्देनजर तमाम तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इस दिन प्रवेशित बच्चों को विशेष मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम के तहत खीर-पूरी और लड्डू परोसे जाएंगे।

कृषि आदान समीक्षा

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने सोमवार को कृषि आदान समीक्षा की। उन्होंने कृषि, उद्यानिकी, मत्स्यपालन, पशुपालन विभागों के माध्यम से क्रियान्वित योजनाओं के लक्ष्य प्राप्ति हेतु अब तक संबंधित विभागांे के अधिकारियों द्वारा की गई कार्यवाही का जायजा लिया। ज्ञातव्य हो कि रबी 2016-17 की समीक्षा एवं खरीफ 2017 की तैयारियों के परिपेक्ष्य में मुख्य सचिव एवं कृषि उत्पादन आयुक्त की अध्यक्षता में संभाग स्तरीय बैठक 12 जून को भोपाल में आयोजित की गई है के परिपेक्ष्य में जिले में हुई तैयारियों की बिन्दुवार समीक्षा कलेक्टर द्वारा की गई है। कलेक्टर श्री सुचारी ने कृषि आदान को क्रियान्वित करने वाले विभागों के अधिकारियों से कहा कि वे गतवर्ष के लक्ष्य में 10 से 15 प्रतिशत वृद्वि कर अभी से फील्ड में कार्य करना शुरू कर दें ताकि समय पर हितग्राहियों को विभागीय योजनाओं से लाभांवित किया जा सकें। कृषि एवं सहकारिता के माध्यम से क्रियान्वित गतिविधियों की गहन समीक्षा कलेक्टर द्वारा की गई है जिसमें प्रमुख रूप से सोयाबीन बीज, खाद की उपलब्धता, सोयाबीन की बोनी रिचफरो पद्वति से करने हेतु प्रायोगिक प्रदर्शन, खरीफ बीमा पालिसी, पशुपालन हेतु डेयरी व्यवसाय के तहत अधिक से अधिक प्रकरण को तैयार कराने, इसी प्रकार जलाश्यों में मत्स्य बीजों को डालने तथा उद्यानिकी विभाग के माध्यम से पाॅली हाउस की स्थापना इत्यादि शामिल है। कलेक्टर चेम्बर में हुई इस बैठक में किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के उप संचालक श्री पीके चैकसे, पशु चिकित्सा सेवाएं के उप संचालक डाॅ एमएल मेहरा, उद्यानिकी विभाग के सहायक संचालक श्री केएस व्यास, मत्स्य पालन विभाग के सहायक संचालक श्री एसपी सैनी, काॅ-आपरेटिव बैंक के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह, सहकारिता विभाग के उपायुक्त श्री एके सिंह मौजूद थे।

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत रामेश्वरम् जाएंगे तीर्थ यात्री

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत जिले के तीर्थ यात्री 24 जुलाई एवं 17 अगस्त को रामेश्वरम् तीर्थ दर्शन हेतु स्पेशल टेªन से रवाना होंगे। मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के जिला नोड्ल अधिकारी ने बताया कि जिले के तीर्थ यात्री जुलाई एवं अगस्त माह में रामेश्वरम् तीर्थ हेतु जाएंगे। 24 जुलाई को जिले के 215 तथा 17 अगस्त को 210 तीर्थ यात्री रवाना होंगे। 24 जुलाई की तीर्थ यात्रा में शामिल होने के लिए तीर्थ यात्री अपने आवेदन 13 जुलाई तक तथा 17 अगस्त की तीर्थ यात्रा हेतु आवेदन 11 अगस्त तक नजदीक के तहसील कार्यालय में जमा कर सकते है। पूर्व में योजना का लाभ ले चुके हितग्राही पुनः आवेदन जमा ना करें। लक्ष्य से अधिक आवेदन प्राप्त होने पर हितग्राहियों का चयन कम्प्यूटर रेण्डमाइजेशन से किया जाएगा। 


पेड़ लगाने का संदेश दे रहा है रथ

vidisha newsपेड़ लगाओं यात्रा का संदेश आमजनों तक पहुंचाने के लिए हर संभव प्रयास जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे है। जिले में अधिक से अधिक पौधो का रोपण हो और उनकी देखभाल के लिए पृथक से कार्ययोजना बनाई गई है।कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने बताया कि पंचायत एवं वन विभाग के माध्यम से पौधे लगाने का कार्य सर्वाेच्च प्राथमिकता से कराया जा रहा है। पौधरोपण के उपरांत उनकी देखभाल करने वालों को मनरेगा के तहत मजदूरी मुहैया कराए जाने की भी कार्यवाही क्रियान्वित की जा रही है। जन अभियान परिषद की जिला समन्वयक श्रीमती पूजा श्रीवास्तव ने पेड लगाओं यात्रा अभियान का संदेश जन-जन तक पहुंचाने के लिए जिला मुख्यालय से रवाना हुए प्रचार रथ के भ्रमण की जानकारी देते हुए बताया कि रथ जिन-जिन गांव में पहुंचेगा। उन गांव में ग्रामीणजनों को पौधरोपण करने और सुरक्षा की महत्वता से अवगत कराते हुए प्रतीक स्वरूप पांच-पांच पौधे रथ में शामिल दल के सदस्य अपने सामने रोपित करवाएंगे। प्रचार रथ में साउण्ड सिस्टम, माइक, जनरेटर की व्यवस्था की गई है। वाहन में जन अभियान परिषद, सीआरसी, एसआरएलएम, कृषि मित्र, नेहरू युवा केन्द्र, वन समिति के सदस्यों को शामिल कर रूटचार्ट तैयार किया गया है। बुधवार सात जून को पेड लगाओं यात्रा रथ कुरवाई के करैया, शेखपुर, दादूसर, नाउकुंड, टंेकू, कांकर, झगरिया, भौंरासा ग्रामों में पहुंचेगा।

छात्रावासों में प्रवेश हेतु परीक्षा दस को

आदिम जाति कल्याण विभाग के माध्यम से संचालित जिला स्तरीय उत्कृष्ट अनुसूचित जाति बालक एवं कन्या छात्रावासों में प्रवेश लेने के इच्छुक छात्र-छात्राओं के चयन हेतु चयन परीक्षा दस जून को शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय विदिशा में प्रातः दस बजे से प्रवेश परीक्षा आयोजित की गई है। जिला संयोजक श्री नरेन्द्र कुमार अवस्थी ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि अनुसूचित जाति एवं जनजाति के ऐसे बालक बालिका जिन्होंने कक्षा आठवीं की परीक्षा में साठ प्रतिशत से अधिक अथव बी-ग्रेड से उत्तीर्ण की है वे आवेदन प्रारूप में समस्त जानकारियां अंकित कर दस जून के पूर्व जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण विभाग कार्यालय में जमा कर सकते है। 

आर्थिक मदद जारी

कलेक्टर श्री अनिल सुचारी ने आर्थिक सहायता के प्रकरणों में मदद के आदेश जारी कर दिए है। मुख्यमंत्री कृषक जीवन कल्याण योजना के तहत एक प्रकरण में कुल एक लाख दो हजार की आर्थिक मदद जारी की गई है तदानुसार कुरवाई तहसील के ग्राम छपारा निवासी हरदास की मृत्यु कृषि कार्य के दौरान करंट लगने से हो जाने के कारण मृतक की मां श्रीमती कोमलबाई को आर्थिक मदद जारी की गई है। विदिशा तहसील के ग्राम पहो के कल्याण सिंह के कच्चे मकान में अचानक आग लगने से हुई क्षति के तहत आरबीसी के प्रावधानों के अनुसार पीड़ित को एक लाख एक सौ रूपए की आर्थिक मदद जारी की गई है। सर्पदंश से ग्र्राम नैनवास कला के मास्टर रवि की मृत्यु हो जाने पर मृतक के पिता रामबक्श अहिरवार को चार लाख रूपए की तथा हिट एण्ड रन के तीन प्रकरणों में क्रमशः 25-25 हजार रूपए की आर्थिक मदद जारी की गई है जिसमें कुरवाई तहसील के ग्राम नेहरा के तीन व्यक्तियों की मृत्यु हो जाने पर उनके आश्रितजनों को आर्थिक मदद जारी की गई है जिसमें श्री धर्मेन्द्र सिंह की मृत्यु होने पर मृतक के पिता सनमान सिंह को, श्री कल्याण सिंह मृत्यु होने पर मृतक की पत्नी श्रीमती नंदनी दांगी को और श्री सोनू रजक की मृत्यु होने पर मृतक की पत्नी श्रीमती सरोज रजक को आर्थिक मदद जारी की गई है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...