भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारियों पर होगी कार्रवाई : रघुवर

रांची 27 जुलाई, झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने आज कहा कि भ्रष्टाचार पर सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति कायम रहेगी और भ्रष्टाचार के लंबित मामलों का निष्पादन कर दोषी अधिकारियों को दंडित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यहां मुख्य सचिव को यह निर्देश दिया कि भ्रष्टाचार के लंबित मामलों का समयबद्ध निष्पादन कर दोषी अधिकारियों को दण्डित किया जाये। उन्हेंने लोगों से सार्वजनिक जीवन तथा निजी स्तर पर शुचिता को जीवन शैली का अंग बनाने की अपील की और कहा कि आचरण ऐसा हो कि आमलोग उदाहरण दें। श्री दास ने कहा कि भूल किसी से भी हो सकती है लेकिन गलत मनोवृत्ति से किया गया कार्य या आचरण इस सरकार को स्वीकार्य नहीं है। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए 181 पर शिकायत का प्रावधान किया गया है। भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो तथा विभागीय कार्यवाही द्वारा ऐसे तत्वों को दूर करना प्राथमिकता होनी चाहिए। 

मुख्यमंत्री ने रांची पॉलिटेक्निक कॉलेज को उच्च शिक्षा एवं कौशल विकास का एक अति महत्वपूर्ण केन्द्र के रूप में विकसित करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि ऐसा करने से इसकी पहचान राष्ट्रीय स्तर पर कायम हो सकेगी। उन्होंने कहा कि इसके जीर्णोद्धार करने और पहले चरण में रांची पॉलिटेक्निक कॉलेज की चाहरदीवारी का निर्माण अविलम्ब शुरू करें। श्री दास ने कहा कि पॉलिटेक्निक कॉलेज के पूरब में अतिक्रमित भूमि के एक हिस्से पर उच्च न्यायालय के निर्देशानुसार 444 परिवारों को जुडको द्वारा निर्मित होने वाले भवनो में पुनर्वासित कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि परिसर के पूरब में भी रह रहे 50-60 परिवारों की अस्थायी झुग्गी को भी परिसर के पश्चिम में पुनर्वास के लिए चिन्हित भूमि पर अगले दो दिनों में शिफ्ट करते हुए पूरे परिसर की मजबूत चाहरदीवारी बनाने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। बैठक में मुख्यमंत्री के अलावा मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, अपर मुख्य सचिव एवं विकास आयुक्त अमित खरे, मुख्यमंत्री के सचिव सुनील कुमार वर्णवाल, उच्च शिक्षा सचिव अजय कुमार और भवन निर्माण सचिव के. के. सोन सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...