दुमका : जाली दानपत्र के आधार भूमाफियाओं ने कई एकड़ भूमि बेची, एसडीओ को दिया आवेदन

land-fraud-dumka
उप राजधानी दुमका में भूमाफियाओं द्वारा जमाबंदी जमीन की हेराफेरी का मामला पिछले कई वर्षों से लगातार जारी है। झारखण्ड अलग राज्य बनने के बाद भूमाफियाओं द्वारा उँची कीमत पर किसी की भी जमीन बेच दिये जाने का समाचार भी लगातार प्रकाशित होता रहा है बावजूद भूमाफियाओं के विरुद्ध किसी तरह की कार्रवाई का न होना यह प्रदर्शित करता है कि शासन-प्रशासन के बीच या तो उनकी गहरी पैठ है या फिर नियम-कानून को ताक पर रखकर निडरतापूर्वक वे इस कार्य को अंजाम देने से चूकते नहीं। दुमका मुफस्सिल थानान्तर्गत (सरदारी सर्किल ढोड़िया) ग्राम कोलहोड़िया न0 37 की अनिता हांसदा ने एसडीओ, दुमका भूमाफियाओं द्वारा बेच दी गई अपनी जमीन की वापसी का आवेदन दिया है। जामा थानान्तर्गत ग्राम दान्दो (डुमरिया) में रह रही अनिता हांसदा ने अपने आवेदन में जिक्र करते हुए लिखा है कि जमाबंदी न0 20 के अन्तर्गत प्लाॅट सं0-19/18, 21/ 20-21, अंश 22/ 21, अंश 192/ 124, 216/ 169, 218/ 167, 219/ 166, 241/ 147, 243/ 145, 245/ 143, व 246/ 141 के सभी प्लाॅटो पर भूमाफियाओं के सहयोग से पूर्व कार्यवाहक ग्राम प्रधान भोजो हरि पाल व लाल मोहन पाल द्वारा अन्य के मिलीभगत से उनके पूर्वज लखन मुर्मू के नाम से गैंजर सर्वे में दर्ज (वर्तमान मे जमाबंदी सं0-11/ 20 आवेदिका की नानी बुदिन मुर्मू के नाम से दर्ज) का जाली दानपत्र बनवाकर बेच दिया गया है। आवेदिका का कहना है कि लाल मोहन पाल, भूषण पाल, खुदीराम पाल, सुंदर देहरी, गोहनी पुजहरनी, शिवलाल देहरी, चिन्तामणि सोरेन, शोभा मुर्मू, राईसन मुर्मू, सोहागिनी मुर्मू, एमेली मराण्डी, मेरीनिला हेम्ब्रम, सोनामुनी टुडू, सुशील मुर्मू के नाम से जमीन की बिक्री कर दी गई है। आवेदिका ने आरोप लगाते हुए कहा है कि गैरसंवैधानिक तरीके से उनकी जमीन बिक्री की दलाली में भोजो हरि पाल, लाल मोहन पाल, हरण पाल, चिन्तामणि सोरेन, स्टीफन व विलियम मुर्मू  का मुख्य रुप से योगदान है। आवेदिका ने एसडीओ से अनुरोध किया है कि उपरोक्त दलालों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई करते हुए उनकी जमीन उपरोक्त से मुक्त करवायी जाए। मुख्यमंत्री व राज्यपाल, झारखण्ड सहित उपायुक्त, आयुक्त संपप्र, दुमका, आरक्षी अधीक्षक, अंचलाधिकारी, दुमका को उपरोक्त आशय की प्रतिलिपि दी गई है। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...