कर चोरी का अब नहीं मिलेगा मौका : जेटली

tax-evasion-won-t-be-easy-now--jaitley
नयी दिल्ली,01 जुलाई, वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कर अपवंचना करने वालों को सख्त चेतावनी देते हुए आज कहा कि जीएसटी लागू होने के बाद उन्हें अब कर चोरी का कोई मौका नहीं मिलेगा, श्री जेटली ने आज यहां इंस्टीट्यूट आॅफ चार्टर्ड एकाउंटेटस अॉफ इंडिया के 50 वें स्थापना दिवस के मौके पर अायोजित कार्यक्रम में मोदी सरकार के शासन काल में लिए गए कड़े आर्थिक फैसलों का हवाला देते हुए कहा कि बड़े फैसले अधूरे मन से नहीं लिए जाते इनके लिए मन कड़ा करना पड़ता है। उन्हाेंने कहा कि अर्थव्यवस्था की सेहत के हिसाब से देश में कर संग्रह काफी कम है। इसी वजह से सरकार रक्षा,स्वास्थ्य ,शिक्षा और ग्रामीण विकास जैसे बुनियादी क्षेत्रों में पूरा निवेश नहीं कर पायी। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा,“आखिर कब तक देश दूसराें से मांगता रहेगा। देशवासियों को कर चुकाने की आदत डालनी होगी।” श्री जेटली ने कहा कि पूर्ववर्ती कर प्रणाली में मौजूद कमियों का फायदा उठाते हुए लोग कर चुकाने से बचते रहे लेकिन अब उन्हें अपनी यह सोच बदलनी होगी। इससे पूर्व एक निजी चैनल से साक्षात्कार में श्री जेटली ने कहा कि जीएसटी के खिलाफ जो दबाव डाला जा रहा है उसके आगे सरकार झुकने वाली नहीं है। उन्हाेंने कहा कि कई लोगों का यह मानना है कि कर नहीं चुकाना उनका मौलिक अधिकार है लेकिन सरकार यह तर्क सुनने के लिए तैयार नहीं है क्योंकि जब लोग सरकार द्वारा दी जा रही समस्त सुविधाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसका कर भी उन्हें चुकाना होगा। जीएसटी को लेकर कारेाबारियों में पनपे असंतोष की खबरों पर श्री जेटली ने कहा कि कारेाबारियों को वैसे भी क्या टैक्स देना पड़ता है, वे तो सब उपभोक्ताओं से ही वसूलते हैं। ऐसे में जब उपभोक्ता कर चुकाने के लिए तैयार है तो कारोबारियों के परेशान होने का क्या मतलब है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...