नीतियों में सुधार से कपड़ा क्षेत्र में बढ़ा विदेशी निवेश : स्मृति

increased-foreign-investment-in-textile-sector-by-improving-policies-memory
नयी दिल्ली, 10 अगस्त, सरकार ने आज कहा कि श्रमिक कानूनों में सुधार तथा अन्य उपायों के कारण पिछले तीन साल के दौरान कपड़ा उद्योग में विदेशी निवेश में जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है। लोकसभा में कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने एक पूरक प्रश्न के जवाब में कहा कि मोदी सरकार द्वारा श्रम कानूनों में किए गए सुधारों का असर कपड़ा उद्योग के लिए सबसे अच्छा रहा। वस्तु एवं सेवाकर(जीएसटी)के लागू होने तथा उद्योग द्वारा इस कर प्रणाली का स्वागत किए जाने से इस उद्योग में निवेशकों का उत्साह बढ़ा और बड़े स्तर पर विदेशी निवेश आकर्षित हो सका। एक अन्य सवाल पर उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार बुनकरों की स्थिति के बारे में संवेदनशील है। पहली बार उनके बच्चों की शिक्षा के लिए सरकारी स्तर पर पहल की गयी है। उन्होंने कहा कि 2009-10 में हुए एक सर्वेक्षण के अनुसार बुनकरों के महज एक प्रतिशत बच्चे ही उच्च शिक्षा हासिल करते हैं। सरकार ने बुनकरों के बच्चों को उच्च शिक्षा में मदद देने की पहल की है और उन्हें पर्याप्त रूप से वित्तीय सहायता दी जा रही है। उन्होंने कहा कि कपड़ा उद्योग को तकनीकी स्तर पर सहयोग देने की योजना शुरू की है और इसके लिए पिछले वर्ष 13 जनवरी को संशोधित तकनीकी उन्नत निधि योजना प्रारंभ की जिसके तहत उद्योगों को नयी तकनीक के इस्तेमाल तथा नया उद्योग लगाने के लिए आर्थिक मदद दी जाती है।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...