भारत, अमेरिका के बीच मंत्री स्तरीय वार्ता के लिए नई व्यवस्था का स्वागत

indo-us-new-talk-welcome
वॉशिंगटन, 17 अगस्त (भाषा) भारत और अमेरिका के बीच मंत्री स्तरीय नई व्यवस्था (टू प्लस टू) स्थापित करने के फैसले का शीर्ष अमेरिकी विशेषज्ञों ने स्वागत किया है, जिनका मानना है कि इससे दोनों देशों के बीच सामरिक सहयोग बढ़ेगा। व्हाइट हाउस के मुताबिक, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई टू प्लस टू मंत्री स्तरीय वार्ता स्थापित कर भारत-प्रशांत क्षेत्र में शांति और स्थिरता बढ़ाने पर सहमति जताई है जिससे उनके सामरिक परामर्शों का स्तर और ऊंचा होगा। भारत-अमेरिकी संबंधों के शीर्ष अमेरिकी विशेषज्ञ एश्ले टेलिस ने कहा, ‘‘ यह स्वागत योग्य कदम है। भारत के साथ विदेश-वाणिज्य वार्ता के बजाए संयुक्त विदेश-रक्षा संवाद कहीं अधिक संगत होगा क्योंकि दोनों देशों के बीच वाणिज्यिक मुद्दों की तुलना में सामरिक मुद्दों पर मेल कहीं अधिक है। ’’ नई व्यवस्था के तहत विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और रक्षा मंत्री अरूण जेटली अपने अमेरिकी समकक्षों क्रमश: विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन और रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस के साथ बातचीत करेंगे। शीर्ष अमेरिकी थिंक टैंक कार्नेज एंडाउमेंट फॉर इंटरनेशनल पीस में सीनियर फैलो टेलिस ने कहा, ‘‘ मुझे उम्मीद है कि बुश और ओबामा प्रशासन में हमने जो हासिल किया है उस पर हम काफी अच्छी प्रगति कर कर सकते हैं ।’’ विदेश विभाग के प्रवक्ता हीदर नोअर्ट ने विदेशी पत्रकारों को कल बताया कि वार्ता की तारीख अभी तय नहीं है। इस नई व्यवस्था के तौर-तरीकों पर मंगलवार को स्वराज और टिलरसन के बीच फोन पर चर्चा हुई थी।


काउंसिल ऑन फॉरेन रिलेशन्स की एलीशा आयरेस ने कहा, ‘‘ नई व्यवस्था के तहत रक्षा और विदेश मंत्रालयों को साथ में लाने से नई दिल्ली और वॉशिंगटन के बीच सामरिक सहयोग बढ़ेगा। हमारे बीच रक्षा और विदेश नीति पर मंत्री स्तरीय वार्ता की अच्छी व्यवस्था पहले से है लेकिन टू प्लस टू के जरिए इसी वार्ता में सैन्य और सियासी प्राथमिकताएं भी साथ आ जाएंगी। ’’ आयरेस ने पीटीआई...भाषा से कहा, ‘‘ अफगानिस्तान, हिंद महासागर, एशिया प्रशांत में जारी परिस्थितियों के साथ साथ उम्मीद है कि पश्चिम एशिया पर भी यह और करीब से मिलकर काम करने में मददगार होगा । ’’ शीर्ष अमेरिकी थिंक टैंक सेंटर फॉर स्ट्रेटेजिक ऐंड इंटरनेशनल स्टडीज में यूएस-इंडिया पॉलिसी स्टडीज से संबंद्ध और वरिष्ठ सलाहकार रिचर्ड एम रोसो ने कहा कि टू प्लस टू मंत्री स्तरीय वार्ता शुरू करना एक अच्छी खबर है।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...