झारखंड विधानसभा का मॉनसून सत्र आज से शुरु

jharkhand-monsoon-session
रांची 08 अगस्त, झारखंड विधानसभा का मॉनसून सत्र आज से शुरु हो गया। सदन की कार्यवाही शुरु होते ही विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव ने प्रारंभिक संबोधन में कहा कि देश के शीर्ष संवैधानिक पदों राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति के लिए निर्वाचन कार्य हाल ही में संपन्न हुआ है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति पद के लिए राम नाथ कोविन्द और उपराष्ट्रपति पद पर वेंकैया नायडू निर्वाचित हुए हैं, दोनों का राजनीतिक सफर काफी लम्बा रहा है। श्री उरांव ने बताया कि श्री कोविंद ने बिहार के राज्यपाल के पद से जुड़े दायित्वों का निर्वाह निर्विवाद रुप से किया है, वहीं श्री नायडू ने केन्द्र सरकार के विभिन्न मंत्रालयों का दायित्व का निर्वहन अत्यंत कुशलता से किया। उन्होंने कहा कि दोनों के कुशल नेतृत्व में भारत विकास की नई ऊंचाईयों को छूएगा। विधानसभाध्यक्ष ने कहा कि श्री प्रणव मुखर्जी का कार्यकाल अत्यंत स्वच्छ और देश के लिए प्रेरणादायी रहा है और उनकी इस सूझबूझ और अनुभव का लाभ देश को आगे भी मिलता रहेगा। उन्होंने उम्मीद जतायी कि राष्ट्रपति श्री कोविंद भी अपने पूववर्ती राष्ट्रपतियों की राह पर चलते हुए और भी बेहतर कीर्तिमान स्थापित करेंगे।


श्री उरांव ने कहा कि इसी महीने उपराष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी भी सेवानिवृत्त होंगे। उपराष्ट्रपति और संसद के उच्च सदन राज्यसभा के सभापति के रुप में अपना उत्कृष्ट योगदान उन्होंने देश को दिया है। उन्होंने ने कहा कि पांच दिवसीय इस सत्र में सरकार इस वित्तीय वर्ष का अपना अनुपूरक बजट पेश करने के साथ-साथ कुछ महत्वपूर्ण विधेयकों को भी सदन के समक्ष विचार के लिए लाएगी। इस मॉनसून सत्र के लिए विधानसभा अध्यक्ष ने पीठासीन पदाधिकारियों का मनोनयन किया, जिनमे स्टीफन मरांडी, अशोक कुमार, फूलचंद मंडल, आलमगीर आलम और गीता कोड़ा को सभापति मनोनीत किया गया। वहीं कार्यमंत्रणा समिति में विधानसभा अध्यक्ष के अलावा मुख्यमंत्री, नेता प्रतिपक्ष, संसदीय कार्यमंत्री सरयू राय, मंत्री चंद्रप्रकाश चौधरी, आलमगीर आलम, प्रदीप यादव, विशेष कार्यमंत्रणा समिति के सदस्य के रुप में मंत्री सीपी सिंह, नीलकंठ सिंह मुंडा, सत्तारुढ़ दल के मुख्य सचेतक राधाकृष्ण किशोर, विपक्ष के मुख्य सचेतक नलिन सोरेन, झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के स्टीफन मरांडी, कांग्रेस के सुखदेव भगत, झामुमो के रवींद्रनाथ महतो, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विरंची नारायण, जय भारत समानता पार्टी की गीता कोड़ा और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के कुशवाहा शिवपूजन मेहता को शामिल किया गया है। इस मौके पर संसदीय कार्यमंत्री सरयू राय ने राज्यपाल द्वारा प्रख्यापित अध्यादेशों की प्रमाणीकृत प्रतियां और पिछले सत्र के दौरान विभिन्न प्रश्नों पर सरकार की ओर से सदन में दिये गये आश्वासनों पर कृत कार्रवाई प्रतिवेदन, की गयी कार्रवाई संबंधित प्रतिवेदन (एटीआर) की प्रति सभा पटल पर रखा। जबकि विधानसभा के प्रभारी सचिव द्वारा सभा द्वारा गत सत्र में स्वीकृत तथा राज्यपाल द्वारा अनुमत विधेयकों की विवरणी को सभा पटल पर रखा। 


इससे पूर्व सत्र के पहले दिन आज सदन में दिवंगत कई राजनेताओं , साहित्यकार, कलाकार एवं लेखक तथा अन्य लोगों के निधन पर शोक व्यक्त किया गया। सदन में पूर्व केंद्रीय मंत्री संतोष मोहन देव, कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एन.धर्म सिंह, सिक्किम के तीन बार मुख्यमंत्री रहे नर बहादुर भंडारी, पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं फिल्म निर्माता दसारी नारायण राव , राज्यसभा सदस्य एवं पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे, पुड्डुचेरी के पूर्व मुख्यमंत्री रामासामी, फिल्म अभिनेता एवं पूर्व सांसद विनोद खन्ना के निधन पर शोक व्यक्त किया गया । इसी तरह अंतरिक्ष वैज्ञानिक उडुपी रामचंद्र राव, भाकपा के वरिष्ठ नेता बद्री नारायण लाल, पूर्व विधान पार्षद पीके सिन्हा, ज्ञानपीठ पुरस्कार से सम्मानित प्रख्यात तेलुगू कवि सी.नारायण रेड्डी, तेलंगाना के राज्यसभा सांसद पी.गोवर्धन रेड्डी, पंजाब के पूर्व पुलिस महानिदेशक के पी एस गिल, हाईकोर्ट की पहली मुख्य न्यायाधीश लीला सेठ, प्रख्यात वैज्ञानिक प्रो.यशपाल के अलावा कश्मीर में अमरनाथ यात्रा से लौट रहे यात्रियों पर हुए आतंकी हमले में मारे गये सात तीर्थयात्रियों,श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर दुर्घटनाग्रस्त हुई यात्री बस में 17 तीर्थयात्रियों की मृत्यु, बिहार में वज्रपात से 26 लोगों की मृत्यु समेत अन्य घटनाओं में देश के विभिन्न भागों में कई लोगों की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया गया । इसके बाद सदन में दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए दो मिनट का रखा गया जिसके बाद विधानसभा अध्यक्ष ने सभा की कार्यवाही को कल 11 बजे दिन तक के लिए स्थगित करने की घोषणा की। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...