दुमका (झारखण्ड) हलचल 16 सितम्बर

डीसी ने किया आदिवासी कठपुतली लोककला प्रशिक्षण कार्यशाला का अवलोकन 

दुमका (अमरेन्द्र सुमन) झारखण्ड सरकार के कला संस्कृति विभाग के सहयोग से जनमत शोध संस्थान द्वारा इंडोर स्टेडियम स्थित, झारखण्ड कला मंदिर में पिछले चैदह दिनों से चल रहे आदिवासी कठपुतली लोक कला ‘चादर-बदोनी’ प्रशिक्षण कार्यशाला का अवलोकन डीसी मुकेश कुमार ने किया। अवलोकन के क्रम में प्रतिभागी कलाकारों, प्रशिक्षकों और आयोजकांे से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि विलुप्त आदिवासी कला को पुनर्जीवित करने की दिशा में जनमत द्वारा आयोजित किया जा रहा यह प्रशिक्षण बहुत ही महत्वपूर्ण और उपयोगी है। जिला प्रशासन ऐसे कलाकारों को हर संभव सहयोग और संरक्षण प्रदान करेगा। बातचीत के क्रम में उन्हांेने कलाकारों से कठपुतलियों के सेट से एक मोमेेंटो तैयार करने के लिए प्रेरित किया ताकि 22 तारीख को आयोजित समारोह में अतिथियों को स्मृति चिन्ह देने पर विचार किया जा सके। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि उक्त अवसर पर एक स्टाॅल भी लगाया जाए जहाँ इससे जुड़े कलाकार इसके निर्माण कार्य के साथ-साथ इसका प्रदर्शन भी करेंगे। प्रशिक्षण कार्यशाला के अवलोकन के इस अवसर पर डीसी के साथ डीडीसी शशि रंजन व प्रशिक्षु आईएएस विशाल सागर तथा जिले के अन्य अधिकारी सहित जनमत के सचिव अशोक सिंह एवं कार्यशाला संयोजक गौरकांत झा, दिवाकर सिंह, जनजातीय संग्रहालय के थोमस तिर्की आदि मौजूद थे। जनमत शोध संस्थान के सचिव अशोक सिंह के निर्देशन एवं गौरकांत झा के संयोजन में आयोजित इस 21 दिवसीय आवासीय कार्यशाला के प्रथम सत्र में जहाँ एक ओर रिसोर्स पर्सन के रुप में बोलपुर शांति निकेतन से आये कठपुतली कला के विशेषज्ञ सोम मुर्मू ने प्रशिक्षण ले रहे आदिवासी कलाकारों से बातचीत की और बातचीत के क्रम में उन्होंने उनके कार्यों को देखकर उन्हें प्रोत्साहित किया। साथ ही साथ कठपुतली निर्माण कार्य की बारिकियों को भी बताया। इस क्रम में चादर बादोनी के इतिहास और उससे जुड़े गीत-संगीत को लेकर भी उन्होंने चर्चा की तथा आवश्यक सुझाव और मार्गदर्शन भी दिये। दूसरे सत्र में उपायुक्त के नेतृत्व में अतिथियों ने कार्यशाला का अवलोकन किया तथा तीसरे और अंतिम सत्र में राँची से आये सामाजिक कार्यकर्ता इफ्तेखार अहमद ने भी प्रतिभागी कलाकारों को संबोधित किया और इस कला को स्वरोजगार से जोड़ने पर बल दिया। जनमत के सुशील कुमार मंडल, महेन्द्र साहनी, सहायक समन्वयक, शंभू सेन एवं कुंदन कुमार के समन्वय व प्रबंधन में पिछले चैदह दिनों से चल रही यह प्रषिक्षण कार्यशाला 02 सितम्बर से शुरू हुई जो 22 सितम्बर तक चलेगी और 23 सितम्बर को विधिवत इसका समापन समारोह आयोजित किया जायेगा, जिसमें प्रतिभागी कलाकारों द्वारा तैयार की गई कठपुतलियों का प्रदर्शन किया जायेगा।


एक भारत, श्रेष्ठ भारत भ्रमण दल में अशोक सिंह का चयन

भारत सरकार के प्रौढ़ शिक्षा निदेशालय द्वारा आयोजित ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ कार्यक्रम के तहत राज्य स्तर पर अन्तर राज्य भ्रमण दल के 6 सदस्यीय टीम में जिला साक्षरता समिति के डीपीएम अषोक सिंह भी चयनित किये गये हैं। स्टेट रिसोर्स सेन्टर झारखण्ड राँची के द्वारा, झारखण्ड की ओर से यह छह सदस्यीय, राज्य स्तरीय टीम आंध्रप्रदेश के विशाखापतनम व  हैदराबाद के ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित वयस्क साक्षरता एवं कौशल विकास के क्षेत्रों में बेहतर कार्यशैली, विभिन्न हितकारियों के अनुभव एवं वहाँ की कला संस्कृति सहित सामाजिक आर्थिक स्थितियों का अध्ययन करेंगें तथा अपने राज्य के कार्यानुभवों को साझा करेंगे। स्टेट रिसोर्स सेन्टर झारखण्ड राँची के संयोजन में उक्त राज्यस्तरीय 06 सदस्यीय टीम में अपने-अपने क्षेत्र में ग्रासरुट स्तर पर कार्य करने वाले जिला एवं राज्य साक्षरता मिषन के पदाधिकारी शामिल किये गये हैं। ‘एक भारत श्रेष्ठ भारत’ के तहत 17 से 22 सितम्बर तक इस अंतर राज्य भ्रमण कार्यक्रम में झारखण्ड की यह टीम अनेकता में एकता के साथ-साथ अपनी संस्कृति व अस्मिता को बचाते हुए विकास की मुख्यधारा में शामिल होने के उनके अनुभव से रुबरु होंगें। साथ ही क्षेत्र भ्रमण पर आधारित अपना एक अध्ययन रिपोर्ट भी तैयार करेंगें, जिसका उद्देश्य एक-दुसरे राज्यों के अनुभवों से सीखकर अपने राज्य एवं कार्यक्षेत्र में उसको क्रियान्वित करने की दिशा में पहल करना होगा। गौरतलब है कि जिला शिक्षा पदाधिकारी दुमका धर्मदेव राय के मार्गदर्शन में जिला कार्यक्रम प्रबंधक अशोक सिंह जिले में संचालित साक्षर भारत कार्यक्रम की जिम्मेदारी संभाल रहे हैं, जिनको शिक्षा साक्षरता के साथ-साथ आदिवासी भाषा-साहित्य, संस्कृति पर शोध-अध्ययन में गहरी रुचि रही है, तथा अपने शोध पत्रकारिता एवं सामाजिक सांस्कृतिक कार्यों में उल्लेखनीय योगदान के लिए राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर कई अवार्ड से भी सम्मानित हो चुके हैं।

दमकता दुमका कार्यक्रम के तहत जिला खेलकूद संघ व जिला कला संस्कृति संघ के तत्वावधान में स्वच्छता कार्यक्रम : बी बी सारस्वत

राज्य को स्वच्छ, साफ सुथरा ,एवं हरा भरा बनाने के लिए राज्य सरकार द्वारा चलाया जा रहा स्वच्छता ही सेवा है कार्यक्रम के तहत दुमका में भी इसके तहत कई प्रकार के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इसी क्रम में  19 सितम्बर  को प्रातः 7ः 30 बजे से दमकता दुमका कार्यक्रम के तहत तथा राज्य सरकार के 1000 दिन का कार्यकाल पूरा होने के उपलक्ष में नगरपालिका चैक दुमका से एक स्वच्छता कार्यक्रम चलाया जाएगा। जिसमें जिला खेलकूद संघ तथा जिला कला संस्कृति संघ के सदस्य शामिल होंगे। इस कार्यक्रम को सफल बनाने के उद्देश्य से दुमका के सूचना भवन स्थित सभागार में दुमका के उप विकास आयुक्त शशि रंजन की अध्यक्षता में एक बैठक आहूत की गई ।बैठक में जिला कला संस्कृति एवं खेलकूद संघ से जुड़े बड़ी संख्या में सदस्यगण शामिल हुए। बैठक को संबोधित करते हुए उप विकास आयुक्त ने  इस कार्यक्रम को सफल बनाने की अपील करते हुए कहा कि स्वछता में ही ईश्वर का वास होता है ।आने वाले समय में भारत सरकार के गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह का दुमका आगमन हो रहा है साथ ही राष्ट्रीय स्तर का सब जूनियर कबड्डी प्रतियोगिता का भी आयोजन हो रहा है। जिसमें देशभर के कोने-कोने से कई गणमान्यजन दुमका आएंगे उन तमाम अतिथियों का हम ऐसा सत्कार करें ताकि यहां के शानदार आतिथ्य को वह लंबे समय तक याद रख सकें। बैठक में उप विकास आयुक्त दुमका शशि रंजन के अलावा जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय कुमार सिंह, जिला खेलकूद संघ के सचिव उमाशंकर चैबे, उपाध्यक्ष राजीव रंजन मिश्रा, राहुल दास ,बीबी गुहा , गौर कान्त झा ,गोविंद प्रसाद, हैदर हुसैन ,रेणु चैबे, नीमाय कांत झा, मदन कुमार, सुमिता सिंह ,महेंद्र प्रसाद साह ,कजरूल हुसैन, संजय कुमार, वरुण कुमार ,अरविंद कुमार, अशोक राउत, रिंकू मोदी , ब्यूटी कुमारी ,प्रतिभा कुमारी आदि सहित बड़ी संख्या में जिला कला संस्कृति एवं खेलकूद संघ से जुड़े सदस्य सम्मिलित हुए।

विभिन्न प्रकार के वस्त्रों की बिक्री हेतु लगाया गया स्टॉल

dumka news
दारुका पेट्रोल पम्प (मेन रोड, दुमका) के सामने नगर पालिका पार्किंग स्थल में झारक्राफ्ट रांची के तत्वावधान में 16 सितम्बर से 26 सितम्बर तक विभिन्न प्रकार के वस्त्रों की बिक्री हेतु स्टॉल लगाया गया है। सहायक उद्योग निदेशक रेशम संथाल परगना प्रमंडल दुमका सुधीर कुमार सिंह व अग्र परियोजना पदाधिकारी, अग्र परियोजना केंद्र काठीकुंड दुमका मोहम्मद नईमुद्दीन ने फीता काटकर स्टाॅल का उद्घाटन किया। मालूम हो रेशमी वस्त्रो सहित खादी कुर्ता, सलवार-सूट, तौलिया, रेशमी साड़ी, बेडसीट, रुमाल, थैला इत्यादि स्टाॅल के माध्यम से बिक्री किया जाएगा। यह भी मालूम हो पूरे झारखण्ड में खादी वस्त्रों की प्रदर्शनी लगाई गई है। अलग-अलग वस्त्रों पर अलग-अलग छूट की सीमा निर्धारित की गई है। अधिकतम छूट की सीमा 50ः तक है। इस अवसर पर मोहम्मद अब्दुल कादिर वरीय वन्य क्लस्टर, निरंजन पंडित क्लस्टर विकास पदाधिकारी, सरैयाहाट कलस्टर के ग्रुप लीडर मोहम्मद करीम अंसारी, संताल परगना बुनकर प्रतिनिधि मोहम्मद असगर अंसारी आदि उपस्थित थे।

पंचायत समिति सदस्यों की बैठक आहुुत

बिजली, शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि, बाल विकास परियोजना, खाद्य सुरक्षा, पशुपालन, पेयजल एवं स्वच्छता व अन्य जन कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन से संबंधित दिन शनिवार को दुमका प्रखण्ड आॅफिस में पंचायत समिति सदस्यों की बैठक आहुुत की गई। इस अवसर पर प्रतिनिधिगणों के अलावे पदाधिकारीगण व पर्यवेक्षकगण भी मौजूद थे। प्रमुख ने निदेश  देते हुए कहा कि प्रखण्ड विकास पदाधिकाकरी, दुमका द्वारा सभी विभागों को योजनाओं के क्रियान्वयन से संबंधित  अनुपालन के लिये ससमय स्थल पर मोजूद रहें। दुधानी पंचायत में खराब चापानलों की मरम्मती की आवश्यकता है। आगामी 22 सितम्बर को केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में सरकार के एक हजार दिनों की विकास उपलब्धियों में अधिक से अधिक पंचायत समिति सदस्यों की उपस्थिति  हो इसपर बल दिया गया। प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, दुमका ने कहा कि सभी पंचायत समिति सदस्यों को प्रशिक्षण संस्थान, जसीडीह में 09 अक्टूबर से  11 अक्टूबर (तीन दिवसीय) आवासीय प्रशिक्षण की व्यवस्था भी सुनिश्चित की गई है जिसमें भाग लेकर वे प्रशिक्षण प्राप्त करें। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...