बिहार में बुनियादी ढांचा विकास के लिए नाबार्ड ने दिया 2820 करोड़ ऋण

nabard-gave-2820-crore-for-bihars-basic-structure
 पटना 18 सितंबर, राष्ट्रीय कृषि एवं ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) ने बिहार में बुनियादी ढांचा विकास के लिए 2820.41 करोड़ रुपये का सावधि ऋण दिया है। नाबार्ड के अध्यक्ष डॉ. हर्ष कुमार भनवाला ने आज यहां मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात कर नाबार्ड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट असिस्टेंस (एनआईडीए) के तहत 2820.41 करोड़ रुपये सावधि ऋण का स्वीकृति पत्र सौंपा। उल्लेखनीय है कि ग्रामीण कार्य विभाग ने राज्य सरकार के सात निश्चय के तहत अंतिम ग्रामीण सम्पर्कता के लिये ग्रामीण टोला सम्पर्क निश्चय योजना लागू की है, जिसके लिये एक वितीय पोषण का अभिनव प्रयोग करते हुये नाबार्ड के तहत गठित एक विशेष निधि एनआईडीए के तहत 3827 करोड़ रुपये की परियोजना समर्पित की थी। इसी के आलोक में नाबार्ड अध्यक्ष ने आज मुख्यमंत्री श्री कुमार को 2820.41 करोड़ रूपये की वितीय सहायता का स्वीकृति पत्र सौंपा। यह ऋण ग्रामीण कार्य विभाग के बिहार ग्रामीण पथ विकास अभिकरण (बीआरआरडीए) के तहत सीधे उपलब्ध कराया गया है। बीआरआरडीए ने सात निश्चय के तहत ही सर्वेक्षित टोलों के लिये मुख्यमंत्री ग्राम सम्पर्क योजना के तहत 6046 करोड़ रुपये की परियोजना के वित्त पोषण के लिए आग्रह किया गया है। इस पर श्री भनवाला ने आश्वस्त किया कि इस परियोजना को भी प्राथमिकता के तहत अनुमोदन की कार्रवाई की जा रही है। इसके अलावा कृषि क्षेत्र में जैविक खेती को बढ़ावा देने, सहकारी क्षेत्र में सब्जी प्रसंस्करण एवं विपणन के लिये खाद्य प्रसंस्करण को बढ़ावा देने तथा डेयरी विकास के क्षेेत्र में वित्त पोषण की संभावना पर चर्चा हुयी और नाबार्ड ने इन क्षेत्रों में वितीय सहयोग देने का आश्वासन दिया। इस अवसर पर ग्रामीण कार्य मंत्री शैलेष कुमार, विकास आयुक्त शिशिर सिन्हा, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, मुख्यमंत्री के सचिव अतीष चन्द्रा एवं मनीष कुमार वर्मा, सचिव ग्रामीण कार्य विनय कुमार, समेत नाबार्ड के अन्य वरीय अधिकारी उपस्थित थे। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...