2जी मामले में संप्रग सरकार पर आरोप कभी सत्य नहीं थे : चिदंबरम

2g-blame-was-fake-chidambaram
नई दिल्ली, 21 दिसम्बर, कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने गुरुवार को कहा कि 2जी स्पेक्ट्रम मामले में अदालत द्वारा सभी आरोपियों को बरी करने के फैसले ने एक बड़े घोटाले में सरकार के शीर्ष नेतृत्व को शामिल करने के आरोप कभी सत्य नहीं थे। 2जी स्पेक्ट्रम मामले पर फैसले के बारे में चिदंबरम ने संवाददाताओं को बताया, "मुझे नहीं लगता कि मुझे अभी टिप्पणी करनी चाहिए। लेकिन एक चीज स्पष्ट हो चुकी है कि एक बड़े घोटाले में सरकार के शीर्ष नेतृत्व को शामिल करने के आरोप कभी सत्य नहीं थे, सहीं नहीं थे जिसका आज खुलासा हो चुका है।" विशेष न्यायाधीश ओ. पी. सैनी ने दूरसंचार मंत्री ए. राजा और द्रमुक सांसद कनिमोझी समेत सभी आरोपियों को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्र्वतन निदेशालय (ईडी) द्वारा दाखिल 2जी मामलों में बरी कर दिया है। दूरसंचार विभाग द्वारा लाइसेंस जारी करने और 2जी स्पेक्ट्रम आवंटन मामले में कथित घोटाला 2008 में कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए सरकार के पहले कार्यकाल में हुआ था। लेकिन 2010 में भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (सीएजी) विनोद राय की एक रिपोर्ट के बाद यह व्यापक रूप से लोगों के सामने आया।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
Loading...