गुजरात व हिमाचल मे काॅग्रेस का होगा पूर्ण सफाया, पूरे विश्व में मोदी को स्वीकारा गया : रघुवर

04 दिसम्बर 2017 को पाकुड़ में बजट पूर्व संगोष्ठी से भाग लेकर रात्रि विश्राम के लिये राजभवन दुमका पहुँचे मुख्यमंत्री रघुवर दास ने राँची प्रस्थान से पूर्व दिन मंगलवार के पूर्वा0 9 बजे पत्रकारों से मुखातिब होते हुए अपनी बातें कही। 

congress-cleen-in-gujrat-himachal-raghuvar-das
दुमका (अमरेन्द्र सुमन) जतिवाद, वंशवाद, सम्प्रदायवाद की राजनीति को वर्ष 2014 में त्याग कर देश की जनता ने विकासवाद की राजनीति पर मोहर लगा दिया है। गुजरात विधान सभा में 150 से अधिक सींटें भाजपा को प्राप्त होगी। 30 वर्षों के बाद मोदी के नेतृत्व में कोई बहुमत की सरकार बनी है। राजभवन, दुमका में दिन मंगलवार की सुबह प्रेस प्रतिनिधियों से मुखातिब होते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास ने उपरोक्त बातें कही। 04 दिसम्बर को पाकुड़ में बजट पूर्व संगोष्ठी से रात्रि विश्राम के लिये दुमका पहुँचे मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि बीजेपी के नेत्त्व को पूरा देश स्वीकार कर रहा है। गुजरात की धरती से देश की आजादी का बिगुल बजाने वाले महात्मा गाँधी, पाँच सौ से अधिक रियासतों को एकसूत्र में करने वाले सरदार बल्लभ भाई पटेल की धरती की उपज नरेन्द्र मोदी ने पूरे विश्व में भारत की शान बढ़ाई है। पूरा विश्व मोदी के नेत्त्व को स्वीकारा है। मुख्यमंत्री श्री दास ने कहा हिमाचल व गुजरात दोनांे ही राज्यों में काॅग्रेस का पूर्ण सफाया है। काॅग्रेस सिर्फ गुजरात के लिये ही नहीं अपितु पूरे देश के लिये बोझ है। कमल ही गुजरात की समृद्धि को अक्षुण्ण रख सकता है। उन्होंने कहा काॅग्रेस का अर्थ इन्दिरा, राजीव, सोनिया और अब राहुल रह गया है। दो-तीन जातियों के नेताओं को सामने लाकर काॅग्रेस फूट डालो, शासन करो की राजनीति खेलती रही है। झारखण्ड मुक्ति मोर्चा की बात करते हुए श्री दास ने कहा कि ए के राय, विनोद बिहारी महतों व शिबू सोरेन के संयुक्त प्रयास से जेएमएम की स्थापना हुई है। इस राज्य को अब मुक्ति की कोई दरकार नहीं। मुख्यमंत्री ने कहा गाँव से योजना बनाओ कार्यक्रम का प्रारंभ किया गया। पिछड़े इलाकों को प्राथमिकता देते हुए प्रि-बजट ंसंगोष्ठी का आयोजन किया गया था। उन्होंने कहा विकास की सोंच को बदलना होगा। 40-50 वर्ष पूर्व की सोंच को सामने रखकर विकसित राज्य नहीं बना सकते। उन्होंने कहा मुहल्ले-टोलों की सोंच को लोग बदलें। उन्होंने कहा सांस्कृतिक टूरिज्म को डवलप किया जा रहा है। 

बोधगया-इटखोरी, देवघर-तारापीठ, राँची-रजरप्पा, पारसनाथ,चांडिल्य चतरा, इटखोरी, जैसे स्थानों को प्राथमिकता सूची में रखकर काम किया जा रहा है। झारखण्ड मंे प्रतिवर्ष टूरिस्टों का आना लगातार जारी है। झारखण्ड में निवेशकों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा सदन राज्य का सबसे बड़ा पंचाट है। विपक्ष पर प्रहार करते हुए कहा कि संवाद करने से वह लगातार भागती है। तीन वर्षों में सरकार ने एक लाख से अधिक की नियुक्तियाँ की है। वर्ष 2018 तक 50 हजार नियुक्तियाँ और भी कर ली जाएगी। उप राजधानी दुमका के शिकारीपाड़ा प्रखण्ड अन्तर्गत अवैध पत्थर खनन कारोबारियों द्वारा नये-नये खदानों का निर्माण कर दोहन किये जा रहे पत्थरों से मुख्यमंत्री को अवगत कराने पर उन्होंने कहा ऐसे लोगों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा उग्रवाद के नाम पर मुखौटा पहनने वालों, सफेदपोशांे व असमाजिक तत्वों को किसी भी हालत में छोड़ा नहीं जाएगा। उपरोक्त के विरुद्ध ग्रामीणों को समझाया जाएगा। जेबकतरा भ्रष्टाचारियों को चिन्हित कर उन्हें सबक सिखाने का काम सरकार व प्रशासन करेगी। इस अवसर पर डीसी दुमका ने मुख्यमंत्री को मलूटी के मंदिरांे की बड़ी तस्वीर भेंट की। गांव के विकास में ग्रामों की महती भूमिका, ग्राम प्रधान अपनी-अपनी भूमिका का निर्वाह करें-मुख्यमंत्री संताल परगना स्थापना दिवस (22 दिसम्बर) व 2 जनवरी 2018 को गाँधी मैदान दुमका में ग्राम प्रधान/ मांझी संगठन संताल परगना प्रमण्डल, दुमका के तत्वावधान में सोहराय पर्व मनाने का निर्णय लिया गया। 

congress-cleen-in-gujrat-himachal-raghuvar-das
बजट पूर्व सगोष्ठी में पाकुड़ के एक कार्यक्रम से राजभवन, दुमका पहुंचे मुख्यमंत्री रघुवर दास से ग्राम प्रधान/ मांझी संगठन के प्रमण्डलीय अध्यक्ष व प्रवक्ता ने मुलाकात की। 22 दिसम्बर को दुमका में आहुत संताल परगना प्रमण्डल स्तरीय सौहराय पर्व के पावन अवसर पर मुख्यमंत्री रघुवर दास को आमंत्रित किया। मुख्यमंत्री ने कहा गांव के विकास में ग्राम प्रधान अपनी-अपनी भूमिका का निर्वाह करें। संगठन के प्रतिनिधियों से कहा कि ग्राम विकास समिति में ग्राम प्रधानों की अहम भूमिका होगी। सरकार के स्तर से ऐसा प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा राज्य की जनता की आँखों में खुशी देखना चाहता हूँ। इससे पूर्व जिले के जामा अंचल विकास भवन में ग्राम प्रधान मांझी संगठन की मासिक बैठक संगठन के प्रखंड अध्यक्ष विभूति भूषण यादव की अध्यक्षता में संपन्न हुई। अंचल निरीक्षक सागेन मुर्मू  व संगठन के प्रमंडलीय प्रवक्ता मुकेश कुमार मिश्र की मौजूदगी में सम्पन्न हुई बैठक में संगठन द्वारा जिला में प्रस्तावित बैठक पर विस्तार से चर्चा हुई। इस अवसर पर अध्यक्ष ने उपस्थित ग्राम प्रधानों से जिले में होनेवाली प्रस्तावित बैठक के लिये अधिक से अधिक संख्या में उपस्थिति दर्ज कराने का अनुरोध किया।  उपस्थित ग्राम प्रधानों कोे मुख्यमंत्री, झारखंड के घोषणानुसार अंचल के ग्राम प्रधानों को राजस्व उगाही के लिये अंचल निरीक्षक, जामा ने मुख्यालय से अंचल कार्यालय को टैब उपलब्ध हो जाने की जानकारी दी। उन्होंने कहा बहुत जल्द  सभी ग्राम प्रधानों को टैब उपलब्ध करा दिया  जाएगा। इस बैठक में  राधेश्याम  साह , निर्मल रक्षित, मुकेश कुमार  मिश्र, सुरेन्द्र राय, अशोक साह  सहित सैंकड़ों ग्राम प्रधान उपस्थित थे। 
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...