2022 तक देश की विद्युत उत्पादन क्षमता होगी साढ़े पांच लाख मेगावाट : आर. के. सिंह - Live Aaryaavart

Breaking

मंगलवार, 19 सितंबर 2017

2022 तक देश की विद्युत उत्पादन क्षमता होगी साढ़े पांच लाख मेगावाट : आर. के. सिंह

by-2022-countrys-power-generation-capacity-will-be-6-million-mw
 आरा 19 सितम्बर, केन्द्रीय ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) आर. के. सिंह ने आज कहा कि वर्तमान में देश की विद्युत उत्पादन क्षमता साढ़े तीन लाख मेगावाट है, जिसे वर्ष 2022 तक बढ़ाकर साढ़े पांच लाख मेगावाट की जायेगी। श्री सिंह ने यहां आयोजित सम्मान समारोह के बाद संवाददाताओं से कहा कि विद्युत उत्पादन में बढ़ोतरी करने के लिए केन्द्र की राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार प्रयासरत है और देश में वर्ष 2022 तक साढ़े पांच लाख मेगावाट बिजली का उत्पादन होगा। उन्होंने कहा कि इसके अलावा अक्ष्य ऊर्जा से देश में 60 से 70 हजार रिपीट हजार मेगावाट बिजली पैदा की जा रही है जिसे 2022 तक एक लाख 75 हजार मेगावाट करने का लक्ष्य है। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि देश में बिजली उपलब्धता की समस्या नहीं है। उन्होंने कहा कि पावरग्रिड से देश के सभी राज्य एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं इसलिए जहां जरूरत होगी, बिजली पहुंचा दी जायेगी। श्री सिंह ने कहा कि वर्तमान में देश के करीब तीन हजार गांव विद्युतीकरण से वंचित हैं और इन गांवों में बिजली पहुंचाने का लक्ष्य केन्द्र सरकार का मई 2018 तक का है, बावजूद इसके उनके विभाग ने इस वर्ष के दिसम्बर माह तक इन गांवों को बिजली से रौशन करने का लक्ष्य रखा है। उन्होंने कहा कि देश के जिन गांवों का पूर्व में आंशिक विद्युतीकरण हुआ था उन गांवों को भी मई 2018 तक बिजली उपलब्ध करा दी जाएगी। केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि बिजली का बिल सही तरीके से नहीं बनाया जाता है। उन्होंने कहा कि बिजली चोरी पर लगाम लगाने के लिए प्रीपेड व्यवस्था के तहत घर-घर में मीटर लगाये जायेंगे। उन्होंने बताया कि नोएडा और मणिपुर जैसे जगहों पर ऐसी व्यवस्था लागू है जो सफल हो रहा है। श्री सिंह ने कहा कि बिजली उत्पादन की व्यवस्था तो दुरुस्त है लेकिन वितरण की व्यवस्था सही नहीं है। तारों की स्थिति जर्जर है जिसपर उनका मंत्रालय ध्यान दे रहा है । इन सभी बातों पर राज्य सरकारों के साथ मिलकर समस्याओं को दूर कर लिया जायेगा । केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि कल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राज्य के ऊर्जा मंत्री के साथ उनकी वार्ता हुयी है। उन्होंने कहा कि श्री कुमार ने राष्ट्रीय स्तर पर एक दर पर बिजली उपलब्ध कराने की बात कही है जिसपर विचार किया जायेगा। उन्होंने कहा कि आरा स्टेशन का दो अक्टूबर को विस्तार किया जायेगा और नवम्बर माह में इंजीनियरिंग कॉलेज की आधारशिला रखी जायेगी। इस मौके पर बिहार के कृषि मंत्री प्रेम कुमार, विधान परिषद के पूर्व सभापति अवधेश नारायण सिंह, पूर्व मंत्री राघवेन्द्र प्रताप सिंह, भाई विरेन्द्र और भाजपा के जिलाध्यक्ष मिथिलेश कुशवाहा समेत अन्य नेता मौजूद थे।

एक टिप्पणी भेजें
Loading...