बिहार : 2 अगस्त का बिहार बंद होगा ऐतिहासिक, 1 अगस्त की शाम में पटना में मशाल जुलूस - Live Aaryaavart

Breaking

मंगलवार, 31 जुलाई 2018

बिहार : 2 अगस्त का बिहार बंद होगा ऐतिहासिक, 1 अगस्त की शाम में पटना में मशाल जुलूस

  • राजद सहित अन्य वाम दलों ने किया बिहार बंद का समर्थन
left-band-will-be-historical
पटना 31 जुलाई, बिहार बंद को लेकर आज केदार भवन में वाम दलों से जुड़े विभिन्न जनसंगठनों की बैठक हुई. बैठक की अध्यक्षता भाकपा-माले के पोलित ब्यूरो सदस्य का. धीरेन्द्र झा व केडी यादव, सीपीआई के राज्य सचिव सत्यनारायण सिंह व विजय नारायण मिश्र और सीपीआई (एम) के सर्वोदय शर्मा, अरूण मिश्रा व गणेश प्रसाद सिंह ने संयुक्त रूप से की. जनसंगठनों की बैठक में आइसा-इनौस, एआईएसएफ, एआईवाईएफ, एसएफआई, डीवाईएफआई, ऐपवा, एनएफआईडब्लू, खेग्रामस, अखिल भारतीय किसान महासभा, अखिल भारतीय किसान सभा, बिजली मजदूर यूनियन, टेंपो यूनियन, रसोइया संघ, आशा कर्मी संघ, गर्दनीबाग झुग्गी झोपड़ी बचाओ पर्यावरण बचाओ मोर्चा, जनवादी सांस्कृतिक मोर्चा, आंगनबाड़ी यूनियन, इसकस, कर्मचारी महासंघ आदि संगठनों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया. मुख्य रूप से ऐपवा की राज्य अध्यक्ष सरोज चैबे, राज्य सचिव शशि यादव व अनीता सिन्हा; एनएफआईडब्लू की निवेदिता , रवीन्द्र नाथ राय, कपिलदेव यादव आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे. कन्वेंशन में 2 अगस्त के बिहार बंद को ऐतिहासिक बनाने के विभिन्न पहलुओं पर बातचीत हुई. छात्र-युवा संगठन अहले सुबह विश्वविद्यालय कैंपस व रेल परिचालन को बंद कराने का काम करेंगे. सुबह में अन्य जगहों पर भी स्थानीय स्तर पर बंद का कार्यक्रम आयोजित होगा. बंद का मुख्य मार्च 11 बजे कारगिल चैक से आरंभ होगा. इसके पूर्व 1 अगस्त को बिहार बंद के समर्थन में शाम 6 बजे जीपीओ गोलबंर से मशाल जुलूस निकलेगा और शहर में मुख्य प्रचार वाहन के अलावा मुहल्लों में बंद के समर्थन में प्रचार चलाया जाएगा. साथ ही, इन संगठनों के नेता कल पूरे शहर में विभिन्न स्थानों पर नुक्कड़ सभाओं को भी आयोजित करेंगे. इस बीच राजद, लोजद, हम आदि पार्टियों और कई दलित अध्किार संगठनों ने बिहार बंद का समर्थन किया है, वाम दलों ने इस सहयोग पर उन्हें धन्यवाद दिया है. वाम दलों ने बिहार की जनता से बंद को सफल बनाने की अपील की है.
एक टिप्पणी भेजें
Loading...