बिहार : रक्तवीर सुनील सिंह का 16वां रक्तदान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 1 अगस्त 2018

बिहार : रक्तवीर सुनील सिंह का 16वां रक्तदान

  • घर और बाहर वाले मिलकर शिल्पी की जान बचा लिए
16th-time-blood-donation
पटना (आर्यावर्त डेस्क) : आजकल लोग समझने लगे हैं कि रक्तदान ही महादान है.इस समझ को साकार किया है शिल्पी कुमारी के घर और बाहर वालों ने मिलकर. कहा जाता है कि रक्त तो सबके पास होता है लेकिन हर कोई रक्तवीर नहीं बन जाते.आज का दिन बहुत ही खास रहा. पारस हिमगिरी में 4 यूनिट रक्त को पूरा कर दिया गया. शिल्पी कुमारी जिनका प्लेटलेट्स 4000 हो गया था,जो मात्र न के बराबर जिंदा थीं. इसके पहले उनके घर वालों की तरफ से 5 यूनिट रक्त उपलब्ध कराया गया था. आज फिर उन्हें रक्त की जरूरत आ पड़ी, तो हमारे भाइयो ने आज उनके लिए रक्तदान किया.हमारे तीन रक्तवीर भाइयों ने आज इनकी जिंदगी बचाने में कामयाब हुए .रक्तवीर चन्दन कुमार का पहला रक्तदान था.सुनील सिंह जी का 16वाँ रक्तदान और हमारे छोटे भाई रविभूषण का 9वाँ रक्तदान है. चार दिनों से जूझ रहे प्रमोद जी के लिए राजीव रंजन जी ने आज अपना पहला रक्तदान किया.रणवीर पटेल चारों रक्तवीर भाइयों को जगत जनन्नी संस्थान की तरफ से शत शत नमन है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...