मधुबनी : DM ने कृषि कार्यक्रमों का व्यापक निरीक्षण किया - Live Aaryaavart

Breaking

रविवार, 5 अगस्त 2018

मधुबनी : DM ने कृषि कार्यक्रमों का व्यापक निरीक्षण किया

dm-inspect-agriculture-programe
मधुबनी  (आर्यावर्त डेस्क) जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा आज जिले में चल रहे कृषि कार्यक्रमों का व्यापक निरीक्षण किया गया । इस दौरान उन्होंने सबसे पहले सागरपुर पंचायत के अन्तर्गत संचालित सामुदायिक नर्सरी का अवलोकन किया और उसमें उपजाए जा रहे धान के किस्मों के बारे में तथा उसके खर्च एवं उत्पादन के बारे मंे कई सवाल किये, इस अवसर पर जिला कृषि पदाधिकारी एवं प्रखंड के अन्य कृषि विभाग से संबंधित कर्मियों ने उन्हें विस्तार से जानकारी प्रदान की। प्रखंड के कृषि पदाधिकारियों को उन्होनें फिल्ड में लागातार रहने का निर्देष दिया। इस दौरान उन्होनें वहां मौजूद किसानांे से इस साल हुए आम के पैदावार की  जानकारी मांगी। वहीं किसान षिवकुमार चैपाल के आम के बागीचे में लगे हल्दी के पौधों एवं वर्मी कम्पोस्ट खाद् के निर्माण के लिए लगाए गये प्रोजेक्ट का भी अवलोकन किया। तत्पष्चात  उन्होनें अनूप लाल परियोजना $02 उच्च विद्यालय, ब्रम्होत्तरा, पंडौल के प्रांगण मे मनरेगा द्वारा चलाए जा रहे वन महोत्सव सह सघन वृक्षारोपण अभियान का भी दीप प्रज्वलित कर षुभारंभ किया। इस मौके पर उनके साथ श्री कुमार गौरव, प्रषिक्षु आई0ए0एस0 सह सहायक समाहत्र्ता, मधुबनी, श्री अजय कुमार सिंह, डी0डी0सी0, मधुबनी, श्री ब्रज बिहारी भगत,निदेषक डी0आर0डी0ए0, मधुबनी, श्री सुधीर कुमार, जिला कृषि पदाधिकारी, मधुबनी, प्रमुख, प्रखंड पंडौल, प्रखंड विकास पदाधिकारी, पंडौल, मुखिया ग्राम पंचायत राज,सागरपुर के साथ-साथ विद्यालय के प्राचार्य, मो0 असमततुल्लाह एवं सैकड़ों की संख्या में छात्राएं एवं अभिभावक मौजूद थे। इस मौके पर वक्तव्य देते हुए जिला पदाधिकारी महोदय ने छात्राओं का वृक्षारोपन कार्यक्रम में बढ़ चढ़ कर भूमिका अदा करने का आहवान किया। मौके पर विद्यालय के प्राचार्य द्वारा मुख्य सड़क से विद्यालय तक पी0सी0सी0 सड़क का निर्माण, गल्र्स काॅमन रूम का निर्माण एवं विद्युत व्यावस्था को दूरूस्त करने का अनुरोध किया जिसके संदर्भ में जिला पदाधिकारी महोदय ने तत्काल संबंधित अधिकारियों को आवष्यक निर्देष जारी किये। तत्पष्चात जिला पदाधिकारी महोदय द्वारा रहिका प्रखंड के अन्तर्गत सनौर पंचायत में संचालित सामुदायिक कृषि नर्सरी का भी निरीक्षण किया गया। इस दौरान उन्होनें खेतों में रोपनी करते हुए किसानों से रोपनी के तरीकों को भी दिखाने को कहा। वहां तीन एकड़ भूमि में सवर्णा एक प्रवेध के धान के विचरा उत्पादन पर संतोष व्यक्त किया। निरीक्षण के दौरान स्थानीय किसानों ने रैयाम चीनी मिल के बंद हो जाने से गन्ना किसानों को हो रही कठिनाईयों से भी जिला पदाधिकारी महोदय को अवगत कराया। किसानों का कहना था कि गन्ने की फसल को बेचने के लिए  उन्हें समस्तीपुर जिले के हसनपुर चीनी मिल जाना पड़ता है जिसका खर्च बहुत आता है। अतः उन्होनें सनौर में ही राटन की व्यवस्था करने का अनुरोध किया। किसानों कि समस्या को देखते हुए जिला पदाधिकारी महोदय द्वारा जिला कृषि पदाधिकारी, मधुबनी  को चीनी मिल के खुलने तथा राटन की व्यवस्था से संबंधित समुचित प्रस्ताव को उपस्थापित करने का निदेष दिया।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...