मोदी के चेहरे पर घबराहट है, 2019 में उन्हें हराएंगे : राहुल गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 7 फ़रवरी 2019

मोदी के चेहरे पर घबराहट है, 2019 में उन्हें हराएंगे : राहुल गाँधी

will-defeat-modi-in-2019-rahul-gandhi
नयी दिल्ली, सात फरवरी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बृहस्पतिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा हमला बोला और दावा किया कि मोदी को समझ आ गया है कि देश को बांटकर नहीं चलाया जा सकता और उनके चेहरे पर घबराहट एवं डर है। उन्होंने प्रधानमंत्री पर मोदी पर चीन के समक्ष हाथ जोड़ने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस 2019 में भाजपा, आरएसएस और नरेंद्र मोदी को हराएगी। कांग्रेस के अल्पसंख्यक विभाग के राष्ट्रीय अधिवेशन में कहा, ‘‘आप लोगों ने मोदी जी का चेहरा देखा है। अगर आप ध्यान से देखेंगे तो आप नरेंद्र मोदी के चेहरे में घबराहट देखेंगे, डर देखेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ मोदी जी को पता लग गया है कि हिंदुस्तान को बांटने से, नफरत फैलाने से हिंदुस्तान को नहीं चलाया जा सकता है। हिंदुस्तान का प्रधानमंत्री देश को जोड़ने का काम करता है और अगर वह ये नहीं करेगा तो उसे हटा दिया जाएगा।’’ गांधी ने कहा, ‘‘ पांच साल पहले कहा करते थे कि प्रधानमंत्री की 56 इंच की छाती है और मोदी जी 15 साल राज करेंगे। आप लोगों ने, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने, नरेंद्र मोदी की सच्चाई देश को बताई है। 2019 में मोदी जी, भाजपा और आरएसएस को भाजपा को हराने जा रही है।’’ कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘यह देश हिंदुस्तान के हर व्यक्ति का है। लड़ाई दो विचारधाराओं के बीच है। एक विचारधारा कहती है कि यह देश एक प्रोडक्ट (उत्पाद) है। दूसरी तरफ एक विचाराधारा कहती है कि यह देश सबका है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘देश के पहले शिक्षा मंत्री मौलाना आजाद थे। अगर आईआईटी की बात करते हो, देश की शिक्षा की बात करते हो तो मौलाना आजाद की बात करनी पड़ेगी। अगर आप अंतरिक्ष कार्यक्रम की बात करते हो तो विक्रम साराभाई की बात करनी पड़ेगी। अगर आप उदारवाद की बात करते हैं तो आपको मनमोहन सिंह की बात करनी पड़ेगी।’’ गांधी ने कहा, ‘‘आरएसएस चाहता है कि देश के संविधान को अलग रख दिया जाए और देश को नागपुर से चलाया जाए। हर संस्था में आरएसएस के लोगों को डाला जाए। वे चाहते हैं कि मोहन भागवत पूरे देश को रिमोर्ट कंट्रोल से चलाएं।’’ उन्होंने कहा कि हम मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ के विभिन्न संस्थानों में बैठाए गए आरएसएस के लोगों को हटाएंगे। गांधी ने डोकलाम में चीनी सेना के अतिक्रमण वाले प्रकरण का हवाला देते हुए कहा कहा, ‘‘चीन डोकलाम में अपनी सेना को भेज देता है। नरेंद्र मोदी बीजिंग जाते हैं और चीन की सरकार के साथ बिना एजेंडे के बातचीत होती है। चीन की सरकार को दो मिनट को पता चल गया कि 56 इंच छोड़िए। इनकी तो चार इंच की भी छाती नहीं है। उन्होंने चीन के सामने हाथ जोड़ा है।’’ उन्होंने राफेल मामले पर कहा, ‘‘देश के चौकीदार गुस्से में हैं और वे कहते हैं आपने हमें बदनाम कर दिया। हम कहना चाहते हैं कि हम सिर्फ एक चौकीदार के बारे में बात कर रहे हैं।’’

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...