बगदादी की मौत के बाद भी खत्म नहीं हुआ है सीरिया में अमेरिका का मिशन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 29 अक्तूबर 2019

बगदादी की मौत के बाद भी खत्म नहीं हुआ है सीरिया में अमेरिका का मिशन

usa-continue-mission-in-syria
वाशिंगटन, 29 अक्टूबर, इस्लामिक स्टेट सरगना की नाटकीय मौत के बाद अब अमेरिका ने सीरिया के तेल क्षेत्रों को चरमपंथी समूह के साथ ही खुद सीरिया और उसके रूसी सहयोगियों से बचाने के लिए प्रयासों को तेज कर दिया है। देश के अन्य हिस्सों से अमेरिकी सैनिक वापस बुला लेने के बावजूद एक नया मिशन चलाया जा रहा है जिस पर बहुत कुछ दांव पर होगा।  रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने कहा कि सेना का तेल क्षेत्र मिशन सीरियाई कुर्दों के लिए आय भी सुनिश्चित करेगा जिन्हें इस्लामिक स्टेट कैदियों की निगरानी और समूह के शेष बचे तत्वों से निपटने में अमेरिकी बलों की मदद के काम में लगाया गया है। हालांकि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अब भी इस बात पर जोर दे रहे हैं कि सभी अमेरिकी सैनिकों को वापस बुला लिया जाएगा।  ट्रंप ने सीरिया में तुर्की के हमले के बाद अमेरिका की भूमिका को लेकर सोमवार को कहा था, “हम इस मामले में पुलिसवाला रवैया नहीं चाहते।”  अक्टूबर की शुरुआत में तुर्की की तरफ से अपनी सीमा के सीरियाई छोर पर “सुरक्षित जोन” बनाने के लिए सीरिया पर हमला करने की चेतावनी दिए जाने के मद्देनजर ट्रंप ने अमेरिकी बलों को इससे दूर रहने का आदेश दिया था। अमेरिकी सेना के साथ साझेदारी कर चुके कुर्द लड़ाके इस आदेश के बाद साफ तौर पर अकेले पड़ गए थे। अमेरिका के विशेष अभियान बलों के सफल मिशन पर प्रसन्नता जाहिर करने के लिए एस्पर और ज्वाइंट चीफ ऑफ स्टाफ के प्रमुख मार्क मिले ने पेंटागन में संवाददाता सम्मेलन का आयोजन किया था। इस मिशन में आईएस सरगना अबु बकर अल बगदादी मारा गया था। एस्पर ने अल बगदादी की मौत को संगठन के लिए “जबर्दस्त झटका” बताया। मिले ने कहा कि अमेरिका ने अल बगदादी के अवशेषों को ‘उचित ढंग” से और सशस्त्र संघर्ष के कानूनों के अनुरूप निपटाया है। साथ ही उन्होंने कहा कि अमेरिकी बलों को मौके से खुफिया जानकारी मिली है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...