नहाय-खाय के साथ सूर्य उपासना का चार दिवसीय महापर्व छठ आज से प्रारंभ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 1 नवंबर 2019

नहाय-खाय के साथ सूर्य उपासना का चार दिवसीय महापर्व छठ आज से प्रारंभ

nahay-khay-ke-saath-chhath-starts
पटना, 31 अक्टूबर, भगवान भास्कर की आराधना का चार दिवसीय महापर्व छठ बृहस्पतिवार को नहाय-खाय के साथ से शुरू हो गया। आस्था के पर्व छठ के प्रथम दिन आज सुबह प्रात: व्रतियों ने नहाय-खाय किया। नहाय-खाय के दौरान व्रती अरवा चावल, चने की दाल, लौकी की सब्जी ग्रहण करते हैं। सूर्य उपासना के इस पावन पर्व पर नहाय-खाय के अगले दिन यानि कल व्रतियों द्वारा निर्जला उपवास रखकर खरना किया जाएगा। खरना में शाम में दूध, अरवा चावल व गुड़ से बनी खीर एवं रोटी का प्रसाद ग्रहण किया जाता है। खरना के बाद व्रतियों का 36 घंटे का निर्जला उपवास शुरू हो जाएगा जो कि आगामी 2 नवंबर की शाम को अस्ताचलगामी सूर्य और 3 नवंबर को उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के बाद पारण के साथ पूरा होगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोक आस्था के महापर्व छठ के मद्देनजर छठ घाटों का आज दूसरी बार निरीक्षण किया। उन्होंने स्टीमर से दानापुर के नासरीगंज से पटना सिटी के कंगन घाट तक गंगा घाटों का निरीक्षण किया और घाटों की सफाई, सुरक्षा एवं स्वच्छता के संबंध में पदाधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने लगभग ढ़ाई घंटे तक नासरीगंज से कंगन घाट के बीच स्थित सभी छठ घाटों का सूक्ष्म अवलोकन किया और अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने छठव्रतियों के लिए आने-जाने का सुगम रास्ते का प्रबंध करने के साथ-साथ पार्किंग की व्यवस्था एवं घाटों का ठीक ढंग से बैरिकेटिंग करने को कहा। मुख्यमंत्री ने गायघाट में पत्रकारों से कहा कि किसी चीज की कमी नहीं रह जाय, इसके लिए हमलोगों ने प्रयास किये हैं। उन्होंने कहा कि पिछली बार के कुछ घाटों को इस बार छठ व्रत के लिये तैयार नहीं किया गया है। प्रशासन द्वारा ऐसे खतरनाक घाटों के बारे में जानकारी दी गयी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब 48 घंटे से भी कम का समय बचा है। थोड़े बहुत बचे हुये कार्यों को पूर्ण किया जा रहा है। जिन घाटों पर छठ पूजा होनी है, वहां पर लोगों की सुविधा के लिये सारे इंतजाम किये गये हैं। इस बात का ख्याल रखा जा रहा है कि किसी प्रकार की असुविधा न हो, इसके लिए अधिकारियों को भी निर्देश दिये गये हैं। उन्होंने कहा, ‘‘पूरे बिहार में छठ व्रत का इंतजाम प्रशासन द्वारा किया जा रहा है और पटना में हमलोग इसके लिये काम कर रहे हैं। सभी लोगों को छठ की शुभकामनाएं।’’  मुख्यमंत्री द्वारा निरीक्षण के दौरान उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, लोक स्वास्थ्य अभियंण मंत्री बिनोद नारायण झा, जल संसाधन मंत्री संजय झा, पटना नगर निगम की मेयर सीता साहू, मुख्य सचिव दीपक कुमार, पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पाण्डेय सहित अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे। बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजद प्रमुख लालू प्रसाद की पत्नी राबडी देवी स्वास्थ्य कारणों से इसबार छठ पर्व पर व्रत नहीं रखेंगी। राबड़ी ने राज्य के निवासियों को छठ पर्व की बधाई एवं शुभकामनाएं देते हुए बृहस्पतिवार को कहा कि भगवान भास्कर की कृपा सदा हम सब पर बनी रहे। देशवासियों और छठ व्रतियों की कामनाएं ईश्वर पूरी करें। देश, दुनिया में अमन, शांति बनी रहे और मानव के बीच प्रेम सद्भाव का रिश्ता मज़बूत हो।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...