नक्सलियों के विरूद्ध चलाया जाएगा संयुक्त अभियान, इंटर स्टेट पुलिस अधिकारियों ने बनाई ये रणनीति - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 31 मई 2020

नक्सलियों के विरूद्ध चलाया जाएगा संयुक्त अभियान, इंटर स्टेट पुलिस अधिकारियों ने बनाई ये रणनीति

पूर्वी सिंहभूम जिला पुलिस मुख्यालय में शुक्रवार को इंटर स्टेट पुलिस अधिकारियों की एक अहम बैठक हुई. नक्सली आकाश और उसके दस्ते से जुड़े सदस्यों की धर पकड़ पर विशेष रूप से चर्चा हुई. कोल्हान के तीनों जिलों के पुलिस अधिकारी, पश्चिम बंगाल और सीआरपीएफ पुलिस ने मजबूत और अच्छे समन्वय के साथ संयुक्त अभियान चलाने की सटीक रणनीति तैयार की है.
action-against-naxal
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) पूर्वी सिंहभूम जिला पुलिस मुख्यालय में शुक्रवार को इंटर स्टेट पुलिस अधिकारियों की एक अहम बैठक हुई. नक्सली आकाश और उसके दस्ते से जुड़े सदस्यों की धर पकड़ के लिए कोल्हान के तीनों जिलों के पुलिस अधिकारी, पश्चिम बंगाल और सीआरपीएफ पुलिस ने मजबूत और अच्छे समन्वय के साथ संयुक्त अभियान चलाने की सटीक रणनीति तैयार की है. इस बैठक में नक्सलवाद और अपराध से संबंधित कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा की गई. पूर्वी सिंहभूम जिला मुख्यालय में सीमावर्ती राज्य पश्चिम बंगाल और झारखंड पुलिस के आला अधिकारियों की बैठक हुई. तकरीबन दो घंटे तक चली बैठक में कोल्हान प्रमंडल के डीआईजी राजीव रंजन सिंह, पूर्वी सिंहभूम के एसएसपी डॉक्टर एम तमिल वणन, एएसपी अभियान समेत पुरुलिया, झाड़ग्राम और मयूरभंज जिलों के बड़े पुलिस अधिकारी शामिल हुए. बैठक में दोनों राज्यों की सीमावर्ती जिलों के लिए सिरदर्द बने नक्सली की रणनीति पर चर्चा हुई. सीमावर्ती घने जंगलों और बीहड़-पहाड़ियों की भौगोलिक स्थिति के आलोक में संयुक्त अभियान, टॉस्क फोर्स गठन और सटीक रणनीति बनाने के अलावा सूचनाओं का आदान-प्रदान पर विस्तृत मंथन किया  गया ।नक्सलियों की सप्लाई चेन को भी कट करने पर सहमति बनी. खुफिया तंत्र को सटीक और मजबूत करना ताकि सटीक सूचना मिलते ही मजबूत तैयारियों के साथ संयुक्त सर्च अभियान चलाकर नक्सली गतिविधियों पर पूर्णतः लगाम लगाए जाने पर विचार-विमर्श हुआ.

कोई टिप्पणी नहीं: