बिहार : भोजपुर से सिवान तक सामंती-अपराधियों का तांडव, बिहार आज अपराधियों के चंगुल में: माले - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 13 जुलाई 2020

बिहार : भोजपुर से सिवान तक सामंती-अपराधियों का तांडव, बिहार आज अपराधियों के चंगुल में: माले

bihar-crime-state-cpi-ml
पटना, भाकपा-माले के राज्य सचिव कुणाल ने आज प्रेस बयान जारी करके कहा है कि भोजपुर से लेकर सिवान तक सामंती-अपराधियों का तांडव देखा जा रहा है और वे दलितों-पिछड़ों पर बर्बर किस्म के हमले कर रहे हैं. इस कोरोना काल में जब आम लोग अपनी जिंदगी बचाने के जद्दोजेहद से गुजर रहे हैं, सामंती अपराधियों के हमले बढ़ते ही जा रहे हैं. जो बेहद चिंताजनक हैं. इनपर रोक लगाने की बजाए बिहार सरकार वर्चुअल रैली में व्यस्त हो गई है. न तो उसे कोरोना की चिंता है और न ही दलितों-गरीबों पर बढ़ते हमले की. इस बीच भाकपा-माले के पोलित ब्यूरो सदस्य व सिवान के प्रभारी धीरेन्द्र झा ने कहा है कि सिवान में आए दिन भाजपा-जदयू समर्थित सामंती ताकतें गरीबों पर लगातार हमला कर रही हैं. सबसे हालिया हमले में जिले के असांव थाना क्षेत्र के खरादरा यादव व दुदही टोली पर सामंतों ने महज इसलिए हमला कर दिया कि उस टोली के लोगों ने रोड पर यादव टोल का बोर्ड लगा रखा था. सामंतों के हमले में दर्जनों लोग घायल हुए हैं, जिनमें 5 का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है. आगे कहा कि यह हमला भाजपा संरक्षित हिंदू युवा वाहिनी के जरिए किया गया है. घटना में घायल हुए लोगों से मिलने माले के पूर्व विधायक अमरनाथ यादव, विधायक सत्यदेव राम व स्थानीय नेता घटनास्थल पर पहुंचे और सभी हमलावरों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग उठाई. हमलावरों ने निरंजन यादव को गोली मार दी है. हमले में राहुल यादव, साहब यादव, सचिव यादव और कमलेश यादव बुरी तरह घायल हो गए हैं. मैरवां में भी हिंदू युवा वाहिनी की लंपटता देखी गई, जिसका जनप्रतिरोध करते हुए करारा जवाब दिया गया है. भोजपुर में विगत दिनों गड़हनी में राजपूत जाति से आने वाले दबंगों ने 50 वर्षीय गिराली प्रसाद की घर में घुसकर राॅड व डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी. गिराली प्रसाद कोरोना व लाॅकडाउन की वजह से दबंगों से लिए गए कर्ज की राशि नहीं चुका पा रहे थे. उसी प्रकार, विगत 11 जुलाई को उदवंतनगर प्रखंड के एडौरा गांव के रहने वाले गुड्डू पासवान की हत्या सिलिंग से फाजिल जमीन को लेकर चल रहे विवाद में कर दी गई. इस मामले में कमलेश ओझा पर प्राथमिकी दर्ज कराई गई है. पहले से सिलिंग की जमीन को लेका चल रहा विवाद कल 11 जुलाई को रोपनी के दौरान बहुत बड़ा हो गया और गुड्डू पासवान को गोली मार दी गई, जिन्हें अंततः बचाया नहीं जा सका. घटना की जानकारी मिलते ही माले नेता घटनास्थल पर पहुंचे  और अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग उठाई. माले नेताओं ने कहा है कि बिहार सरकार सामंतों का मनोबल बढ़ाना बंद करे और दलित-गरीबों के हक-अधिकार की रक्षा की गारंटी करे.

कोई टिप्पणी नहीं: