गया : तीन काला कृषि कानून से किसानों की स्थिति बदतर होने वाली है - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 16 फ़रवरी 2021

गया : तीन काला कृषि कानून से किसानों की स्थिति बदतर होने वाली है

three-farmer-bill-black
गया। कृषि कानून के विरोध में सोमवार को शहर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने पदयात्रा निकाली। यह पदयात्रा शहर के गांधी मैदान स्थित महात्मा गांधी के स्थूप स्थल से निकलकर विभिन्न सड़क मार्गों से होते हुए नयामतपुर गांव स्थित स्वामी सहजानंद सरस्वती के आश्रम तक पहुंची। इस दौरान मेयर गणेश पासवान, डिप्टी मेयर मोहन श्रीवास्तव, जिलाध्यक्ष चंद्रिका प्रसाद यादव, महासचिव संजय सिंह सहित सैकड़ों की संख्या में महिला-पुरुष कार्यकर्ता शामिल हुए। जगह-जगह पर पदयात्रा में शामिल लोगों का फूल.माला पहनाकर ने स्वागत किया। इस मौके पर डिप्टी मेयर मोहन श्रीवास्तव ने कहा कि किसानों के लिए जो तीन कृषि कानून बनाया गया है, उसका विरोध पूरे भारतवर्ष में हो रहा है। जिन लोगों के लिए यह कानून लाया गया है अगर वे लोग इसे नहीं चाहते, तो इसे तत्काल प्रभाव से खत्म कर देना चाहिए। लेकिन सरकार जबरन कृषि कानून को किसानों के ऊपर थोपना चाहती है। यह कहीं से भी सही नहीं है। एक तरफ जहां महंगाई बढ़ी है, बेरोजगारी बढ़ी है, वहीं दूसरी तरफ रसोई गैस, पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि कर दी गई है। यह गरीबों को सताने का काम किया जा रहा है। इन्ही तमाम मुद्दों को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा पद यात्रा निकाली गई है।  पासवान, डिप्टी मेयर मोहन श्रीवास्तव, जिलाध्यक्ष चंद्रिका प्रसाद यादव, महासचिव संजय सिंह सहित सैकड़ों की संख्या में महिला-पुरुष कार्यकर्ता शामिल हुए। जगह-जगह पर पदयात्रा में शामिल लोगों का फूल.माला पहनाकर ने स्वागत किया। इस मौके पर डिप्टी मेयर मोहन श्रीवास्तव ने कहा कि किसानों के लिए जो तीन कृषि कानून बनाया गया है, उसका विरोध पूरे भारतवर्ष में हो रहा है। जिन लोगों के लिए यह कानून लाया गया है अगर वे लोग इसे नहीं चाहते, तो इसे तत्काल प्रभाव से खत्म कर देना चाहिए। लेकिन सरकार जबरन कृषि कानून को किसानों के ऊपर थोपना चाहती है। यह कहीं से भी सही नहीं है। एक तरफ जहां महंगाई बढ़ी है, बेरोजगारी बढ़ी है, वहीं दूसरी तरफ रसोई गैस, पेट्रोल की कीमतों में वृद्धि कर दी गई है। यह गरीबों को सताने का काम किया जा रहा है। इन्ही तमाम मुद्दों को लेकर कांग्रेस पार्टी द्वारा पद यात्रा निकाली गई है। वहीं कांग्रेस महासचिव डॉ गगन कुमार मिश्रा ने कहा कि केंद्र की सरकार ने जो किसानों के लिए कानून बनाया है, वह पूरी तरह किसान विरोधी है। इसी के विरोध में हम लोग पद यात्रा निकाल रहे हैं। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने किसानों की आय को दोगुना करने का वादा किया था। लेकिन आज वही नरेंद्र मोदी किसानों से मिलने तक नहीं जा रहे हैं। महीनों से किसान सड़कों पर है और नरेंद्र मोदी मूकदर्शक बने हुए हैं। नरेंद्र मोदी की सरकार ने जो कृषि कानून लाया है उससे किसानों की स्थिति बदतर होने वाली है।

कोई टिप्पणी नहीं: