सक्रिय राजनीति में आऊंगी : शशिकला - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 8 फ़रवरी 2021

सक्रिय राजनीति में आऊंगी : शशिकला

will-join-active-politics-shashikala
तिरुपातूर (तमिलनाडु), आठ फरवरी, अन्नाद्रमुक से निष्कासित नेता वी के शशिकला ने सोमवार को कहा कि तमिलनाडु लौटने के बाद वह स्वयं को सक्रिय राजनीति में शामिल करेंगी। शशिकला आय से अधिक संपत्ति मामले में चार साल जेल की सजा काटने के कुछ दिन बाद तमिलनाडु लौटी हैं। शशिकला ने कर्नाटक की राजधानी के एक अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद अपनी पहली टिप्पणी में कहा था कि वह तमिलनाडु के लोगों की ऋणी हैं। उन्होंने हालांकि यह भी कहा था कि वह ‘‘दमन’’ के आगे झुकेंगी नहीं। उल्लेखनीय है कि कोविड-19 से संक्रमित पाये जाने के बाद शशिकला का उक्त अस्पताल में इलाज चल रहा था। यह पूछे जाने पर कि क्या वह चेन्नई में अन्नाद्रमुक मुख्यालय जाएंगी, उन्होंने कहा, ‘‘कृपया प्रतीक्षा करें और देखिये।’’ जब संवाददाताओं ने पूछा कि क्या वह राज्य विधानसभा चुनाव से पहले सक्रिय राजनीति में शामिल होंगी, उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित रूप से, पार्टी कार्यकर्ताओं के लिए।’’ वह बेंगलुरु से चेन्नई जा रही थीं और कुछ ही समय में उन्होंने यहां समर्थकों को संबोधित किया। उन्होंने कहा, ‘‘मैं तमिल लोकाचार और उन सिद्धांतों से प्यार करती हूं, जिन पर मैंने विश्वास किया है। लेकिन मैं कभी भी उत्पीड़न के आगे नहीं झुकूंगी।’’ इससे पहले, जब वह 66.6 करोड़ रुपये के आय से अधिक संपत्ति मामले में बेंगलुरू में जेल की सजा काटने के कुछ दिनों बाद तमिलनाडु लौटीं तो उनका भव्य स्वागत किया गया। अपनी कार पर अन्नाद्रमुक के झंडे के इस्तेमाल को लेकर तमिलनाडु में सत्तारूढ़ पार्टी के मंत्रियों द्वारा पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के बारे में संवाददाताओं द्वारा पूछे जाने पर, उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह उनकी आशंका को दर्शाता है।’’ चेन्नई में दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता के स्मारक को रखरखाव के लिए बंद किये जाने के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘तमिलनाडु के लोग अच्छी तरह जानते हैं कि इसका मतलब क्या है।’’ समर्थकों की ‘‘अन्नाद्रमुक का नियंत्रण हासिल करने’’ की मांग के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘मैं जल्द ही आप सभी से मिलूंगी। उसके बाद विस्तार से बात करेंगे।’’

कोई टिप्पणी नहीं: