झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 02 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 3 मार्च 2021

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 02 मार्च

समयावधि पत्रों के निराकरण के लिए सर्वोच्चय प्राथमिकता दी जाए -श्री सिंह


jhabua news
झाबुआ। समयावधि के लंबित पत्रों के निराकरण के लिए सर्वोच्चय प्राथमिकता दी जावें। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही तथा उदासीनता नहीं बरती जावे। यह निर्देश कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने सोमवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में समयावधि पत्रों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक में दिए। श्री सिंह ने इस बैठक में समयावधि पत्रों की विभागवार सघन समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि समयावधि के लंबित पत्रों का आगामी एक सप्ताह में शतप्रतिशत निराकरण सुनिश्चिित करें। श्री सिंह ने समाधान आॅनलाईन वीडियों कान्फ्रेंसिंग में चयनित विषयों की शिकायतों की विभाग तथा प्रकरणवार समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे इन लंबित शिकायतों का तत्काल निराकरण करें अन्यथा समयावधि में प्रकरणों का निराकरण नहीं करने पर 500 रूपये प्रति शिकायत प्रतिदिन का जुर्माना लगाया जावेगा। श्री सिंह ने जनपद पंचायत क्षेत्रों में शासकीय योजनाओं के प्रचार-प्रसार कार्य की सघन समीक्षा की और मुख्य कार्यपालन अधिकारियों तथा मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे शासकीय योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए पोस्टर, दिवान लेखन जैसे कार्य करें ताकि आम जनता को शासकीय योजनाओं का लाभ मिल सके। कलेक्टर ने इस बैठक में राजस्व प्रकरणों की तहसीलवार समीक्षा की और राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने न्यायालय में प्रकरणों में कम समय की पेशी लगाएं तथा प्रकरणों का शीघ्रता से निराकरण सुनिश्चित करें ताकि प्रकरणों का निराकरण समय पर हो सकें। श्री सिंह ने राजस्व मदों में बकाया वसूली के कार्य की समीक्षा की और वसूली कार्य में और अधिक सुधार लाने के निर्देश दिए। श्री सिंह ने मुख्य कार्यपालन अधिकारियों तथा मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अपने-अपने क्षेत्र में आधार सिडिंग के लिए कैंप आयोजित करें ताकि शतप्रतिशत आधार सिडिंग का कार्य पूर्ण हो सके। इस बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी श्री जे.एस.बघेल, अपर कलेक्टर श्री एम.एल.मालवीय, सहायक कलेक्टर श्री आकाश सिंह, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री सोहन कनास, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला सुश्री ज्योति परते, डिप्टी कलेक्टर डाॅ. अभयसिंह खराडी, डिप्टी कलेक्टर श्री अनिल भाना सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

 

वन अधिकार अधिनियम के अंतर्गत प्राप्त दावों के निराकरण की स्थिति की समीक्षा


झाबुआ। कलेक्टर श्री रोहित ंिसंह ने सोमवार हो यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में जिला अधिकारियों की बैठक ली। इस बैठक में वन अधिकार अधिनियम के अंतर्गत प्राप्त दावों की तहसील तथा जनपद पंचायतवार समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे प्राप्त दावों का पुनः परीक्षण करें और शासन की मंशानुरूप इस अधिनियम के अंतर्गत प्राप्त व्यक्तियों को वन भूमि के पट्टे से लाभांवित करें। श्री सिंह ने अनुविभागीय अधिकारियों तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारियों जनपद पंचायतों को इस संबंध में शासन के दिशा निर्देशों के अनुरूप पात्र हितग्राहियों को लाभांवित करने के लिए कार्यवाही के निर्देश दिए। इस बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी श्री जे.एस.बघेल, अपर कलेक्टर श्री एम.एल.मालवीय, सहायक कलेक्टर श्री आकाश सिंह, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री सोहन कनास, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व थांदला सुश्री ज्योति परते,सहायक आयुक्त जनजाति कार्यविभाग श्री प्रशांत आर्या सहित समस्त जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी उपस्थित थे।


श्री राजेन्द्र सूरि विहार धाम का मुनि द्वय ने किया भूमि पूजन हुआ

  • मुनिश्री रजत विजयजी के संयम रजत वर्ष पर जिनेंद्र भक्ति महोत्सव का आयोजन

jhabua news
थांदला। अपने अल्प प्रवास पर थांदला नगर पधारें जैन मूर्तिपूजक सम्प्रदाय के श्रीमद् विजय श्री ऋषभचंद्र सूरीश्वरजी महाराज साहेब के आज्ञानुवर्ती वर्षीतप आराधक मुनिराज श्रीपीयूषचंद्र विजयजी एवं श्री रजतचंद्र विजयजी महाराज साहेब के निश्रा में थांदला के धर्म सुश्रवक उमेशचंद्र  कमल  राजमल पिचा के थांदला लिमड़ी मार्ग पर स्थित फार्म हाउस पर आज प्रातःकाल श्री राजेंद्र विहार धाम की नींव रखी गई। इस अवसर पर पिचा परिवार ने पूज्य मुनिद्वय का गवली कर स्वागत वंदन अभिनंदन कर आशीर्वाद लिया वही पूज्य मुनिराजों ने वाक्षेप द्वारा क्षेत्र विशुद्ध की व उपाश्रय की नींव रखते हुए उपस्थित परिषद को मांगलिक फरमाई। इस अवसर पर थांदला मूर्तिपूजक श्रीसंघ अध्यक्ष कमलेश दायजी, वर्धमान तालेरा, प्रफुल्ल पोरवाल, मयूर तलेरा, अनोखीलाल मोदी, उमेश आर पिचा,  कमल आर पिचा, अर्पित लुणावत, यतीश दायजी, मूलचंद जैन आदि उपस्थित श्रावक उपस्थित थे।

 

मुनिश्री के संयम रजत वर्ष पर पर बदनावर में जिनेंद्र भक्ति महोत्सव का आयोजन 

अपनी संयमी यात्रा के 25 वर्ष पूर्ण करने पर श्रीमद् विजय राजतचंद्र विजयजी के संयम रजत वर्ष पर बदनावर शंखेश्वर तीर्थ पर त्रि दिवसीय जिनेंद्र भक्ति महोत्सव का आयोजन दिनांक 19 - 20 -  21 मार्च को पीयूष विजयजी  महाराज साहब के सानिध्य में होगा। जिनेंद्र भक्ति महोत्सव में होने वाले आयोजन की विस्तृत रूपरेखा तय कर ली गई है जिसकी पत्रिका लेखन का कार्य मुनिश्री द्वारा आज दोपहर में 1रू30 से 4रू30 तक होने वाले धर्मसभा के दौरान नयापुरा स्थित जिनालय के सन्निकट उपाश्रय पर थांदला में संपन्न होगा।


 थांदला तहसील के फर्जी डिग्रीधारी झोलाछाप चिकित्सकों पर मेहरबान हैं थांदला के अधिकारी

  • कलेक्टर रोहित सिंह के आदेशों की अवहेलना - अभी तक नही हुई कोई कार्यवाही

थांदला ।  नगर के स्वास्थ्य विभाग की कथित लापरवाही के चलते झोला छाप बंगाली जमकर चांदी काटने में लगे हुए है। प्राप्त जानकारी के अनुसार थांदला नगर व ग्रामीण अंचलों में लम्बे समय से झोलाछाप डॉक्टरों का मकड़जाल फैला हुआ है, जो निरंतर बढ़ता ही जा रहा है। ये झोलाछाप होम्योपैथी व आयुर्वेद की डिग्री लेकर एलोपैथी से सैकड़ों ग्रामीणों की जान से बेधड़क खिलवाड़ करते देखे जा सकते है। पूर्व में इन फर्जी डॉक्टरों के कारण अनेक जान भी जा चुकी है। फर्जी डिग्री, फर्जी पंजीयन के साथ चिकित्सा व्यवसाय करने वाले डॉक्टरों के विरूद्ध विभागीय और प्रशासनिक तौर पर कार्यवाही न होने से ऐसा लगता है जैसे उनका हौसला अफजाई की जा रही है जिसका सम्मान ये तथाकथित फर्जी डॉक्टर धनबल से कर रहे हो। आज भी थांदला ही नही अपितु ग्रामीण क्षेत्रों में भी बेखौफ होकर ये झोलाछाप डॉक्टर लूट की दुकान खोले बैठे हैं। आपको बता दे दो माह पूर्व झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्यवाही करने हेतु कलेक्टर द्वारा सख्त आदेश किए गए थे  जिसके लिए उन्होंने स्थानीय एसडीएम व बीएमओ के नेतृत्व में एक दल का गठन भी किया था परंतु यह आदेश महज कागजो पर सिमट कर रह गए। थांदला चिकित्सा अधिकारी (बीएमओ) एवं बदलते एसडीएम के कारण  या इनके संरक्षण के चलते झोलाछाप डॉक्टरों पर आज तक कोई कार्यवाही नही हो पाई है। नाम न बताने की शर्त पर एक बंगाली ने तो डॉक्टर को पैसे देने की बात स्वीकारते हुए कहा कि अब हम पर कोई कार्यवाही नही कर सकता। जिला कलेक्टर को जनता के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर होम्योपैथी व आयुर्वेद डिग्री लेकर फर्जी तरीके से इलाज करने वाले ऐसे फर्जी डॉक्टरों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करते हुए इनका लायसेंस रद्द करना चाहिए जिससे जनता की जान बचाई जा सके।


यह बोले -

नगर में अवैध क्लिनिक चलने की शिकायत लगातार मिल रही है जिला कलेक्टर महोदय ने भी आदेश दिए ही है लेकिन स्टॉफ की कमी है व श्रीमान एसडीएम को इसका प्रभारी बनाया है इसलिए उनके निर्देश व नेतृत्व में कार्यवाही की जाएगी। बीएमओ थांदला - अनिल राठौड़


अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् ने आरक्षक की अभद्रता को लेकर एसपी के नाम थाना प्रभारी को सौंपा ज्ञापन, निलंबित करने की मांग की


jhabua news
झाबुआ। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् विश्व का सबसे बड़ा अनुशासित छात्र संगठन है, जो सदैव समाज हित एवं छात्र हित को लेकर कार्य करता है। 27 फरवरी की रात्रि. मंे राजवाड़ा पर हो रहे कवि सम्मेलन को देखकर विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता घर जा रहे थे। झाबुआ थाने पर कुछ मित्रों को देख रुके, उनसे कारण पूछा इतने में वहां कांस्टेबल महेंद्र सोने ने आकर पूछा क्यों आया है नाम क्या है ?, परिषद के कार्यकर्ता ने अपना नाम और परिचय बताया और कहा कि अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ता ह,ै तो उन्होंने विद्यार्थी परिषद को अपशब्दों का प्रयोग करते हुए कहा की पढ़ाई करो, राजनीति में मत आओ समझे। इस तरह की भाषा का प्रयोग थाने में सभी के सामने किया गया। विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं के साथ अभद्र व्यवहार किया।


निलंबित करने की मांग

जिसको लेकर विद्यार्थी परिषद् के कार्यकर्ताआंे ने जिला पुलिस अधीक्षक के नाम थाना प्रभारी झाबुआ सुरेन्द्रसिंह गाडरिया को ज्ञापन सौंपकर उक्त आरक्षक को तत्काल निलंबित करने की मांग की। ज्ञापन सौंपते समय अभाविप के नगर मंत्री दर्शन कहार, हर्षित सिसोदिया, वैभव जैन, निलेश गणावा, मनीष बसोड़, साकिब सैयद आदि सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।


“07 साल बाद लोटी परिजनों के चेहरो पर मुस्कान”


झाबुआ । पुलिस अधीक्षक झाबुआ श्री आशुतोष गुप्ता द्वारा महिला संबंधी अपराधों को अधिक  गंभीरता से लेते हुए त्वरित निराकरण करने के सभी थाना प्रभारियों को निर्देश किया गया है। इसी क्रम में फरियादी की लड़की कक्षा 08 वीं में पड़ती थी। दिनांक 06.03.2014 को स्कूल से वापस नहीं आने पर अपने रिश्तेदारो के यहा तलाश करने पर कही कोई पता नहीं चला। जिस पर थाना कालीदेवी के अपराध क्रं. 36ध्2014 धारा 363 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। बालिका के कही चले जाने पर बालिका के माता-पिता इस घटना से व्यथीत हो गये थे। अपह्ता बालिका के रिश्तेदारो व जान पहचान वालों के यहा तलाश करने पर कही कोई पता नहीं चला, जिससे अपह्ता बालिका का परिवार मायुस हो गया था। पुलिस टीम द्वारा अपह्ता बालिका की दस्तयाबी के पिछले 07 वर्षो से प्रयास कर रही थी। पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा अपह्ता बालिका की दस्तयाबी हेतु 10,000ध्-रू. के ईनाम की उद्घोषणा की गई। थाना कालीदेवी की पुलिस टीम द्वारा दिनांक 28.02.2021 को बालिका को दस्तयाब किया गया। बालिका को उसके परिजनों को सूपूर्द कर उनके चेहरे पर मुस्कान लाने का कार्य झाबुआ पुलिस द्वारा किया गया। इस प्रकार नाबालिग अपह्त बालिका को उसके परिजन को सुपुर्द कर उनके घर की खुशिया वापस लाने का कार्य झाबुआ पुलिस द्वारा किया गया। झाबुआ पुलिस द्वारा किये गये इस सराहनीय कार्य की आम जनमानस द्वारा भूरी भूरी प्रशंसा की जा रही है। झाबुआ पुलिस द्वारा अपह्त बालिका को दस्तयाब करने का सराहनीय कार्य करने पर पुलिस अधीक्षक झाबुआ श्री आशुतोष गुप्ता द्वारा उनके कार्य की प्रशंसा कर पुलिस टीम को पुरूस्कृत करने की घोषण की। 


सराहनीय कार्य में योगदान रू- 

संपुर्ण घटनाक्रम का खुलासा करने में एसडीओपी झाबुआ श्री ईडला मौर्य, थाना प्रभारी कालीदेवी उनि नरेन्द्र सिंह राठौर, सउनि संतोष वसुनिया, सउनि अनिता तोमर,  प्रआर. 341 जितेन्द्र, प्रआर, सुरेन्द्र, आर. दिलीप, पुलकेरिया, शिला एवं सउनि एमएस नागर, आर. आरती, उपेन्द्र, प्रदीप एवं सायबर सेल का सराहनीय योगदान रहा। उक्त सराहनीय कार्य पर पुलिस टीम को पुलिस अधीक्षक झाबुआ द्वारा पुरूस्कृत करने की घोषणा की।


3 मार्च,  4 मार्च व 6 मार्च को टीकाकरण किया जावेगा

 

झाबुआ। कोविड-19 टीकाकरण के लिए 3, 4 व 6 मार्च को झाबुआ के जिला चिकित्सालय झाबुआ एवं सिविल अस्पताल पेटलावद,थांदला व समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मेघनगर,कल्याणपुरा,रामा,पारा,रानापुर पर कोविड वैक्सीन टीकाकरण किया जायेगा । मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. जयपाल सिंह ठाकुर ने अवगत कराया कि इस टीकाकरण में 60 वर्ष से अधिक आयु के हितग्राहियों को अपना फोटोयुक्त पहचान पत्र व आयु संबंधी प्रमाण-पत्र सत्र स्थल पर लाना अनिवार्य हैं और 45 से 60 वर्ष तक के निर्धारित को-मोर्बिड (ब्व.डवतइपक) वाले नागरिकों कों फोटो युक्त पहचान पत्र के अतिरिक्त मेडिकल काॅउंसिंल आॅफ इंडिया से पंजीकृत त्महपेजमतमक डमकपबंस च्तंबजपवदमत के द्वारा भारत सरकार से जारी 20 गंभीर बीमारियों की सूची में से निर्धारित चिकित्सकीय प्रमाण-पत्र प्रदाय किया गया हो को टीकाकरण सत्र स्थल पर लाना अनिवार्य होगा । पंजीकरण आॅनलाईन बुकिंग के माध्यम से एवं सत्र स्थल पर आॅन स्पाॅट की भी सुविधा उपलब्ध रहेगी।


कलेक्टर श्री रोहित सिहं की सख्ती का असर, सुधरने लगा माछलिया घाट


jhabua news
झाबुआ। यद्यंिप माछलिया घाट का सम्पूर्ण हिस्सा झाबुआ जिले की सीमा में नहीं आता और धार जिले की सीमा में आता है, किन्तु लोगो की जान की सुरक्षा तथा घाट पर लगने वाले जाम को देखते हुए कलेक्टर श्री रोहित सिंह द्वारा रोड़ एजेन्सी नेशनल हाईवे पर सख्ती की गई। इसी क्रम में शुक्रवार को रोड़ एजेन्सीयों की बैठक लेकर माछलिया घाट की दशा सुधारने के लिए एक हफ्ते का समय दिया गया था। सख्ती का असर यह हुआ की माछलिया घाट पर संवेदनशील स्थानो पर नेशनल हाईवे द्वारा तेजी से सुधार का कार्य प्रारम्भ कर दिया गया। घाट के तीन खतरनाक हिस्सो पर काॅक्रींट की मोटी सुरक्षा दीवार बनवा दी गई तथा इस दिवार पर अब सफेद रिफलेक्टिव पेंट किया जावेगा। इन स्थानो पर दो जगह सड़क को शोल्डर की ओर से काफी चैड़ा भी कर दिया गया है। जिन पर पेवर या डामरीकरण किया जायेगा। खाखरा पुलिया के दोनो ओर के स्पीड ब्रेकरो पर सफेद रिफ्लेक्टिव पेंट भी कर दिया गया है। इस क्रम में कलेक्टर श्री सिंह द्वारा दिये गये निर्देशों के परिपालन में जिला परिवहन अधिकारी श्री राजेश गुप्ता द्वारा सम्पूर्ण घाट सेक्शन में चल रहे कार्य का अवलोकन भी किया गया तथा तीन जगहों पर पहाड़ी को काटकर रोड़ चैड़ा करने तथा घाट की शुरूआत में यूटर्न पर शोल्डर को बढ़ाने एवं घाट के अन्तिम हिस्से की सुरक्षा दिवार वाले स्थान को पर्याप्त चैड़ा करने के निर्देश भी दिये। सम्बन्धीत एजेन्सीं द्वारा इन निर्देशो का पालन करने पर सहमती दी गई । इस प्रकार कलेक्टर श्री सिंह के सख्त रूख के कारण माछलिया घाट की दशा सुधरने लगी है तथा परिवर्तन नजर आने लगा है। यही कारण है की प्रतिदिन लगने वाला आम जाम विगत चार दिनो से नज़र नही आ रहा है।


कलेक्टर श्री सिंह द्वारा जिला स्तरीय रोजगार मेले का अवलोकन


jhabua news
झाबुआ। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने मंगलवार को यहां जिला मुख्यालय पर स्थित आजीविका दीर्घा में आयोजित जिला स्तरीय रोजगार मेले का अवलोकन किया। श्री सिंह ने इस अवसर पर इस रोजगार मेले में भाग लेने वाले कम्पनियों के स्टालों पर पहुंचकर रिक्त पदों और उम्मीदवारों को दी जाने वाली सुविधाओं जैसे वेतन इत्यादि के संबंध में आवश्यक जानकारी प्राप्त की। साथ ही कम्पनियों से कहा की वे जिले के अधिक से अधिक शिक्षित बेरोजगारों का चयन कर रोजगार प्रदान करें।श्री सिंह ने जनपद पंचायतवार शिक्षित बेरोजगार युवाओं के पंजीयन कीे स्थिति की जानकारी प्राप्त की और आवश्यक निर्देश दिए। श्री सिंह ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे मेला स्थल पर युवाओं के पंजीयन की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करें। भविष्य मंे भी आयोजित होने वाले रोजगार मेलों में शिक्षित बेरोजगारों के पंजीयन के लिए पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे।कलेक्टर श्री सिंह ने आजीविका दीर्घा परिसर में गिट्टी तथा मूरंम डलवारक समतली करण एक सप्ताह में कराने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री सोहन कनास, महा प्रबंधक जिला उद्योग एवं व्यापार केन्द्र श्री विरेन्द्र सिंह इस्क्या, जिला रोजगार अधिकारी श्री मोहन सिंह गरवाल, तहसीलदार श्री प्रवीण ओहरिया, जिला परियोजना प्रबंधक आजीविका मिशन श्री विशाल राॅय सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।


जिला स्तरीय जनसुनवाई में कलेक्टर श्री सिंह द्वारा समस्याएं सुनी गई, 67 आवेदन पत्र प्राप्त


jhabua news
झाबुआ। जिला स्तरीय जनसुनवाई मंगलवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में कलेक्टर श्री रोहित सिंह की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इस जनसुनवाई में 67 आवेदन पत्र प्राप्त हुए। श्री सिंह ने इस जनसुनवाई में आम जनता की समस्याएं सहानुभूतिपूर्वक सुनी और उनकी समस्याओं का निराकरण करने के निर्देश दिए। इस जनसुनवाई में अवैध कब्जा हटाने, मजदूरी का भुगतान दिलाने, मुआवजा राशि दिलाने, जमीन का सीमांकन कराने, पेंशन राशि दिलाने इत्यादि से संबंधित आवेदन पत्र प्रस्तुत किए गए। रामा तहसील के ग्राम बोचका के फलिया कालिदेवी, ग्राम मरूगारूण्डी, ग्राम पंचायत हडमतिया में गातला फलिया, झाबुआ तहसील के ग्राम भीमफलिया के रतनामेडा फलिया के ग्रामीणों ने पेयजल समस्या के लिए नवीन हैण्डपम्प स्वीकृत कर स्थापित करने का अनुरोध किया। कलेक्टर श्री सिंह ने कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को निर्देश दिए हैं कि वे प्राप्त आवेदन पत्रों का परीक्षण कर समस्या का निराकरण करें। इस जनसुनवाई में ग्राम पंचायत अगराल के ग्रामीणों ने सरपंच द्वारा किए गए कार्यों की जांच करने, ग्राम पंचायत मोकमपुरा के ग्राम चन्द्रगढ़ की समस्त प्राथमिक विद्यालय तथा आंगनवाड़ी केन्द्रों को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क से जोडने, जनपद पंचायत झाबुआ के पिलिया खदान मालफलिया के ग्रामीणों ने तालाब स्वीकृत करने, पेटलावद तहसील के विभिन्न ग्रामों के किसानों द्वारा माही परियोजना की नहरों द्वारा सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराने का अनुरोध किया। कलेक्टर श्री सिंह ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया की उनकी समस्याओं का निराकरण करने का हरसंभव प्रयास किए जाएगें। एक ग्रामीण ने आगर मालवा जिले में वन विभाग के अंतर्गत मजदूरी कार्य किया था। जिसकी मजदूरी की राशि दिलाने का अनुरोध किया। कलेक्टर श्री सिंह ने वनमण्डलाधिकारी झाबुआ को निर्देश दिए हैं कि वे इन श्रमिकों को मजदूरी दिलाने के लिए आगर मालवा के कलेक्टर को पत्र लिखा जाए ताकि श्रमिकों को बकाया मजदूरी का भुगतान हो सके। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी श्री जे.एस.बघेल, अपर कलेक्टर श्री एम.एल.मालवीय, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री सोहन कनास, डिप्टी कलेक्टर सुश्री विशा माधवानी, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी मौजूद थे।


ग्रीष्मऋतु में जलजनित बीतारियों पर नियंत्रण एवं रोकथाम एवं पेयजल व्यवस्था के सुचारू संचालन के लिए जिला एवं विकासखंण्ड स्तर पर प्रकोष्ट का गठन

  • कंन्ट्रोल रूम पर बैठकर कर्मचारी करेगे पेयजल समस्या का समाधान

झाबुआ।कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी खण्ड झाबुआ श्री एन.एस.भिन्डे़ ने अवगत कराया कि ग्रीष्मऋतु में जलजनित बीमारियों की रोकथाम एवं पेयजल व्यवस्था के सुचारू संचालन के लिए जिला एवं विकासखंण्ड स्तर पर पेयजल समस्या निवारण के लिए कंन्टोेल रूम की स्थापना कर प्रकोष्ट का गठन किया गया। जिले के समस्त ग्रामवासी अपने क्षेत्र के पेयजल स्त्रोत हेण्ड पंप व नलजल योजना की तकनिकी खराबी की जानकारी जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर कन्ट्रोल रूम पर उपस्थित प्रकोष्ट अधिकारी को देकर शिकायत पंजी में दर्ज कर समस्या का समाधान कर सकेगे। जिला स्तर पर श्री एन.एस.भिडे कार्यपालन यंत्री मोबा.नं. 07392244306 एवं विकासखण्ड स्तर पर श्री राहुल सूर्यवंशी सहायक यंत्री झाबुआ मो.नं. 8839147006 ,श्री गंगासिह रावत सहायक यंत्री थांदला मो.नं. 9752015623 श्री शैलेन्द्र बघेल सहायक यंत्री पेटलावद मो.नं. 6264491943 रहेगे। ग्राम पंचायत स्तर पर श्री एस.के.तिवारी रामा मो.नं. 9407454546, श्री डी.के. जैन झाबुआ मो.न.9425102602 श्री रविन्द्र सिसोदिया रानापुर मो.नं.,9424932742 श्री अन्तरसिह मण्डलोई थांदला, मो.नं. 7987818128 श्री जंे.एस. चैधरी मेघनगर मो.नं. 7987818128 श्री थानसिह बामनिया पेटलावद मों.नं. 9907599210 रहेंगे । हैण्डपंप टूटे प्लेटफार्म से जल की निकासी की समुचित व्यवस्था संबंधित पंचायत के माध्यम से कराया जाये ,जिससे इनके आसपास गंदगी/कीचड न हो। ग्रामवासी शुद्व पेयजल स्त्रोतो से ही पीने व भोजन पकाने के लिये पानी का उपयोग करें। पेयजल उपसमिति के माध्यम से ग्रामीण नलजल योजनाओं का संचालन संधारण कर टंकियों में उचित मात्रा एवं गुणवत्ता के ब्लीचिंग पाउडर के माध्यम से जीवाणुनाशक (डिसइन्फेक्शन) किया जाये। पंचायतो को ब्लीचिंग पाउडर/क्लोरीन की समुचित मात्रा जल के निर्जीवीकरण के लिए उपलब्ध रखें।कंन्टोल रूम के प्रभारी श्री महेश जोशी वरिष्ट उपयंत्री तकनिकी शाखा प्रभारी रहेंगें।


जिले के राष्ट्रीय खिलाडियों को पुलिस अधीक्षक श्री गुप्ता ने किया सम्मानित

 

jhabua news
झाबुआ। खेल और युवा कल्याण विभाग झाबुआ द्वारा संचालित तीरंदाजी सह प्रशिक्षण केन्द्र के खिलाडियों के द्वारा 18वीं सब जूनियर तीरंदाजी प्रतियोगिता भोपाल में 27 फरवरी 2021 को तीरंदाजी की इण्डियन राउण्ड विधा में श्री यश प्रताप सिकरवार एवं कु0 सलोनी भूरिया ने स्वर्ण पदक अर्जित किया हैं एवं राष्ट्रीय तीरंदाजी प्रतियोगिता के लिए चयनित हुए हैं। विभागीय हैण्डबाल प्रशिक्षक श्री अवलोक शर्मा द्वारा संचालित हैण्डबाल प्रशिक्षण केन्द्र के खिलाडियों ने 11 वीं राज्य स्तरीय सब जूनियर हैण्डबाल प्रतियोगिता में रजत पदक प्राप्त किया एवं 3 खिलाडी राष्ट्रीय प्रतियोगिता के लिए चयनित हुए। विभागीय महिला प्रशिक्षक सुश्री शिफाली मसीह द्वारा संचालित एथलेटिक्स प्रशिक्षण केन्द्र के 3 खिलाडियों ने 55वीं म0प्र0 राज्य एथलेटिक्स मीट 2021, शिवपुरी में श्री बन्टू परमार ने 10000 मी. दौड में स्वर्ण पदक, श्री संजू डामोर ने 10000 मी. दौड में रजत पदक एवं श्री पंकज धोती ने 400 मी. दौड में रजत पदक प्राप्त किया हैं । एथलेटिक्स के 3 तीनों खिलाडियों का चयन राष्ट्रीय एथलेटिक्स मीट पटियाला के लिये किया गया हैं। खिलाडियों की उपलब्धी पर पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता ने सभी खिलाडियांे एवं प्रशिक्षकों को सम्मानित कर, उनकी उपलब्धि पर बधाई दी एवं राष्ट्रीय प्रतियोगिता में अपना श्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिये शुभकामनायें दी । इस अवसर पर जिला खेल और युवा कल्याण अधिकारी, श्री विजय सलाम भी उपस्थित थे ।

कोई टिप्पणी नहीं: