योगी की भाषा संतों वाली नहीं है : शिवपाल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 18 मार्च 2021

योगी की भाषा संतों वाली नहीं है : शिवपाल

yogi-language-not-like-sant-shivpal-yadav
गोरखपुर (उत्तर प्रदेश), 18 मार्च, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी- लोहिया के मुखिया शिवपाल सिंह यादव ने बृहस्पतिवार को कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वैसे तो संत हैं लेकिन उनकी भाषा संतों वाली बिल्कुल भी नहीं है। शिवपाल ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में कहा,‘‘ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ वैसे तो संत हैं लेकिन वह जिस भाषा का इस्तेमाल करते हैं, वह संतो वाली कतई नहीं है। योगी अकसर 'ठोक दो' की बात करते हैं। प्रदेश में अपराधियों के करीबी लोगों के मकान तोड़े जा रहे हैं जबकि उन लोगों ने कुछ भी गलत नहीं किया है।’’ उन्होंने एक सवाल पर कहा कि उनकी पार्टी ने समाजवादी पार्टी के पास गठबंधन के लिए एक प्रस्ताव भेजा है और यह गठबंधन प्रदेश में अगली सरकार बनाएगा। शिवपाल ने भाजपा सरकार पर हमला करते हुए कहा कि उसकी गलत नीतियों की वजह से देश में महंगाई चरम पर पहुंच गई है और राम राज्य के तमाम वादे कोरे साबित हुए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार की गलत नीतियों की वजह से लाखों मजदूर सड़क पर आ गए हैं। उन्होंने दावा किया कि भाजपा के विधायक उससे खुश नहीं हैं और पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में उनकी अंतरकलह सामने आ गई है। शिवपाल ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस वहां एक बार फिर पश्चिम बंगाल में सरकार बनाएगी।






live news, livenews, live samachar, livesamachar

कोई टिप्पणी नहीं: