उतार-चढ़ाव के बीच सेंसेक्स 32 अंक चढ़ा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 29 अप्रैल 2021

उतार-चढ़ाव के बीच सेंसेक्स 32 अंक चढ़ा

sensex-up-32-points
मुंबई, 29 अप्रैल, बड़े उतार-चढ़ाव के बीच घरेलू शेयर बाजार आज लगातार चौथे दिन हरे निशान में बंद हुये। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 32.10 अंक यानी 0.06 प्रतिशत चढ़कर 49,765.94 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 30.35 अंक यानी 0.20 प्रतिशत की बढ़त के साथ 14,894.90 अंक पर पहुंच गया। इससे पहले बाजार में बड़ा उतार-चढ़ाव देखा गया। सेंसेक्स में 840 अंक का उतार-चढ़ाव देखा गया। सुबह एक समय यह 640 अंक से अधिक चढ़कर 50,375.77 अंक पर पहुंच गया था तो दोपहर से पहले ही करीब 200 अंक लुढ़ककर 49,535.98 अंक तक उतरा भी। सेंसेक्स की 30 में से 19 कंपनियों में गिरावट रही, लेकिन रिलायंस इंडस्ट्रीज (1.36 प्रतिशत) के साथ बजाज फाइनेंस (3.89 प्रतिशत), बजाज फिनसर्व (6.60 प्रतिशत) और एक्सिस बैंक (1.65 प्रतिशत) जैसी कंपनियों में लिवाली ने बाजार को लाल निशान में बंद होने से बचा लिया। एचडीएफसी, एचसीएल टेक्नोलॉजीज, बजाज आॅटो, एलएंडटी और भारतीय स्टेट बैंक के शेयर एक से दो प्रतिशत के बीच टूटे। मझौली कंपनियों में बिकवाली से बीएसई का मिडकैप 0.18 प्रतिशत लुढ़ककर 20,445.44 अंक पर बंद हुआ। छोटी कंपनियों में लिवाली से स्मॉलकैप 0.13 फीसदी की बढ़त के साथ 21,686.04 अंक पर पहुंच गया। विदेशों में अधिकतर प्रमुख शेयर बाजार हरे निशान में रहे। एशिया में हांगकांग का हैंगसेंग 0.80 प्रतिशत, चीन का शंघाई कंपोजिट 0.52 प्रतिशत और जापान का निक्केई 0.21 प्रतिशत की बढ़त में बंद हुआ जबकि दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.23 प्रतिशत टूट गया। यूरोप में शुरुआती कारोबार में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.72 प्रतिशत मजबूत हुआ जबकि जर्मनी का डैक्स 0.34 फीसदी लुढ़क गया। 

कोई टिप्पणी नहीं: