सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 28 जुलाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 28 जुलाई 2021

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 28 जुलाई

 जिले में अब तक 480.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज, बीते 24 घंटे में 7.4 मिलीमीटर औसत वर्षा


जिले में 01 जून से 28 जुलाई, 2021 तक 480.2 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। जो कि गत वर्ष इसी अवधि में औसत वर्षा से 414.8 मिलीमीटर कम है। जिले की वर्षा ऋतु में सामान्य औसत वर्षा 1148.4 मिलीमीटर है। अधीक्षक भू-अभिलेख द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 01 जून से 28 जुलाई, 2021 तक जिले के वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 473.3 मिलीमीटर,  श्यामपुर में 548.0, आष्टा में 471.0 जावर में 440.0, इछावर में 480.0, नसरूल्लागंज में 490.0,  बुधनी में 571.0, रेहटी में 364.0 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


बीते 24 घंटे में 7.4 मिलीमीटर औसत वर्षा

जिले में बीते 24 घंटे में प्रात: 08 बजे तक 7.4 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई। वर्षामापी केन्द्र सीहोर में 22.0 मिलीमीटर, श्यामपुर में 11.0, आष्टा में 6.0 जावर में 1.0, इछावर में 8.0, नसरूल्लागंज में 2.0, बुधनी में 3.0, रेहटी में 5.8 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है।


"आजादी के 75 साल" युवा लेखकों के लिए सुनहरा मौका


स्वतंत्रता का अमृत महोत्सव कार्यक्रम श्रंखला के तहत युवा लेखकों से अपने कौशल  का लाभ उठाने के लिए स्वतंत्रता आंदोलन की अज्ञात गाथाएं, राष्ट्रीय आंदोलन के कम ज्ञात तथ्य, राष्ट्रीय आंदोलन में विभिन्न स्थानों का योगदान एवं राष्ट्रीय आंदोलन के राजनैतिक, सांस्कृतिक, आर्थिक एवं वैज्ञानिक पहलुओं से संबंधित नए परिप्रेक्ष्य को सामने लाने संबंधी लेखन संबंधी प्रविष्टियां आमंत्रित की गई  है।  उल्लेखनीय है कि शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार के तहत उच्च शिक्षा विभाग ने युवा लेखकों को अवसर प्रदान करने के उद्देश्य से एक नई योजना प्रधानमंत्री युवा योजना प्रारंभ की है। देश के युवाओं में पढ़ने लिखने और पुस्तक संस्कृति को बढ़ावा देने के उद्देश्य से प्रारंभ की गई यह योजना 30 वर्ष से कम आयु समूह के उभरते लेखकों के लिए है। योजना से संबंधित विस्तृत जानकारी mygovt.in पर उपलब्ध है। शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार के तहत राष्ट्रीय पुस्तक न्यास इस योजना को कार्यान्वित करेगा। योजना के माध्यम से देश भर से कुल 75 युवाओं का चयन किया जाएगा। योजना में भाग लेने के लिए 31 जुलाई 2021 तक Mygov.in के माध्यम से विस्तृत जानकारी प्राप्त की जा सकती है साथ ही आवेदन भी किया जा सकता है।


15 अगस्त तक प्रतिबंधित है मछली मारना, क्रय करना या बेचना


जून से 15 अगस्त तक मत्स्य प्रजनन काल की अवधि होने के कारण इस बंद ऋतु के दौरान मछली मारने, क्रय करने या इन्हें बेचने या पकड़ने या बेचने की चेष्टा करने, परिवहन करने या परिवहन का प्रयास करने पर प्रतिबंध रहेगा। इस प्रतिबंध का उल्लंघन किए जाने पर एक वर्ष तक के कारावास या 5 हजार रुपये तक के जुर्माने या दोनों दण्ड दिए जा सकेंगे। छोटे तालाब व अन्य स्त्रोत जिनका कोई संबंध किसी नदी से नहीं है और जिन्हें निर्दिष्ट जल की परिभाषा के अंतर्गत नहीं लिया गया है, के लिए उक्त नियम लागू नहीं होगा।


जहरीले कीड़े के काटने पर अस्पताल में इलाज की सलाह


सर्पदंश की स्थिति में मरीज को तत्काल अस्पताल ले जाने की सलाह दी गई है। बरसात के दिनों में सांप काटने के केस अत्याधिक सामने आते हैं। सांप काटने में व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तथा सांप काटने को अनदेखा न करें, किसी  नजदीकी  अस्पताल तुरन्त लेकर जायें, झाड़-फूंक में न रहें, सांप के दांत के नीचे विष की थैली होती है, काटने पर विष की थैली सीधे शरीर में खून के माध्यम से जहर फैल जाता है। सामान्तयः जहरीले सांपों के काटने पर दांतों के दो निशान अलग ही दिखाई देते हैं। गैर विषैले सांप के काटने पर दो से ज्यादा निशान हो सकते हैं, परन्तु ये निशान नहीं दिखता है, ये सोचना गलत होगा कि सांप ने नही काटा है, ज्यादातर सांप गैर विषैले भी होते हैं। सांप के काटने पर करीब-करीब 95 प्रतिशत मामलों में पहला लक्षण नींद का आना है, इसके साथ ही निगलने या सांस लेने में तकलीफ होती है, आमतौर पर सांप काटने पर आधे घंटे बाद लक्षण दिखाई देने लगते हैं।

"सांप के काटने पर यह ना करें"  - रस्सी से न बांधें, ब्लेड से न काटें, पारम्परिक तारीकों का इस्तेमाल न करें, मुंह से खून न चूसें। ओछा, कुनिया के पास न जायें। सांप काटे व्यक्ति को नदी में प्रवाहित करें। अन्धविश्वास में न पड़े।

"यथा संभव निम्नानुसार कार्य करें"  – सांप काटे व्यक्ति को दिलासा दिलायें। घटना के तथ्यों का पता लगायें। गीले कपडे़ से डंक की जगह की चमड़ी को साफ करें, जिससे वहां पर लगा विष निकल जाये। सांप काटे व्यक्ति को करवट सुलायें, क्योंकि कई बार उल्टी भी होने लगती है, इसलिये करवट सुलाने से उल्टी श्वसनतंत्र में ना जाये। जहां पर सांप ने काटा है उस स्थान पर हल्के कपडे़ से बांध देवें, ताकि हिलना डुलना बंद हो जाये।

"उपचार" - सांप काटे व्यक्ति को तत्काल नजदीकि अस्पताल ले जाने की व्यवस्था बनायें। सांप के काटने के जहर को मारने के लिये अस्पताल में निःशुल्क एंटी स्नेक इंजेक्शन लगाया जाता है, अस्पताल में उपलब्ध है एवं डाक्टर द्वारा दी गई सलाह के अनुसार उचित उपचार करायें।

"बचाव"  - अंधेरे में न जायें। बिलों में हाथ न डालें। झाड़ियों में न जायें। पानी भरे गड्ढे में न जायें। पैरों में चप्पल और जूते पहनकर चलें।


मानसिक तनाव से बचाने के लिए परामर्श सेवा की मदद लेने की सलाह


कोरोना महामारी के साथ ही अन्य समाचार सुनने, पढ़ने, देखने, चर्चा से बालगृह में रहने वाले बच्चों के साथ ही अन्य बच्चों के मन में भी भय व्याप्त हो सकता हैं। बच्चों में उत्पन्न मानसिक तनाव से बच्चों के मध्य हिंसा, प्रताड़ना, उपेक्षा के चलते तनाव, गुस्सापन, उग्रता आना स्वाभाविक हैं। ऐसे समय में बच्चों के लिए परामर्श सेवाएं अत्यंत आवश्यक हैं। इस विकट परिस्थिति में राज्य स्तर पर एवं जिला स्तर पर नामांकित विशेषज्ञों से चर्चा, परामर्श सेवाएं ली जा सकती है। बच्चों के स्वास्थ्य के संबंध में परामर्श प्रदान करने हेतु उपरोक्त सदस्यों द्वारा समय की उपलब्धता के आधार पर बच्चों की शारीरिक, मानसिक स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के उपचार, समाधान हेतु दूरभाष, ऑनलाईन वीडियो कॉल के माध्यम से निःशुल्क परामर्श प्राप्त किया जा सकता हैं। बालकों के परामर्श हेतु कोविड के दौरान विपरित परिस्थितियों में रह रहे प्रतिकूल रूप से प्रभावित बच्चों की तत्काल सहायता हेतु चौबीस घंटे सातो दिन उपलब्ध चाईल्ड हेल्पलाईन नंबर 1098 या 181 (टोल फ्री नंबर) या व्हाट्सअप नंबर 9407896571 पर संपर्क किया जा सकता हैं।


राज्यस्तरीय वार्षिक जैव विविधता पुरस्कार-2021 के लिए आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई निर्धारित


मध्यप्रदेश राज्य जैव विविधता बोर्ड द्वारा प्रदेश में जैवविविधता संरक्षण को प्रोत्साहन देने के उद्देश्य से “राज्य स्तरीय वार्षिक जैवविविधता पुरस्कार योजना प्रारंभ की गई है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश में जैवविविधता संरक्षण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य कर रहे लोगों की पहचान करना एवं उन्हें प्रोत्साहित करना है। मध्यप्रदेश राज्य जैवविविधता बोर्ड द्वारा राज्य स्तरीय वार्षिक जैव विविधता पुरस्कार-2021 हेतु 31 अप्रैल 2021 तक प्रविष्टियाँ आमंत्रित की गई थीं। कोविड महामारी के कारण कोरोना कर्फ्यू की स्थिति में राज्य जैवविविधता बोर्ड को प्रविष्टियों प्राप्त नहीं हो पाई हैं। इस स्थिति को ध्यान में रखते हुये राज्य स्तरीय वार्षिक जैवविविधता पुरस्कार-2021 हेतु प्रविष्टियों आमंत्रित करने की अवधि में वृद्धि करते हुए 31 जुलाई 2021 तक निर्धारित की गई है। इस संबंध में विस्तृत जानकारी बोर्ड की वेबसाईट www.mpsbb.nic.in पर प्राप्त की जा सकती है।


पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना, 31 तक कर सकते हैं ऑन लाईन आवेदन


अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों की पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना के ऑनलाईन आवेदन के लिए पोर्टल MPTAAS वर्तमान में खुला हुआ है और यह पोर्टल 31 जुलाई तक आवेदन स्वीकार करेगा। सहायक आयुक्त आदिवासी विकास भोपाल ने बताया है कि अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थियों की पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति एवं आवास सहायता योजना के ऑनलाईन आवेदन की प्रक्रिया MPTAAS पोर्टल पर वर्तमान में चालू है। उन्होंने कहा कि पात्र विद्यार्थी 31 जुलाई तक पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति 2020-21 के लिए पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं।इसी प्रकार आवास सहायता योजना की द्वितीय किश्त माह जनवरी से जून 2021 के लिए अनुसूचित जनजाति वर्ग के विद्यार्थी दी गई समय सीमा में ऑनलाईन उक्त् पोर्टल पर ही आवेदन कर सकेंगे।


नर्मदा घाटी परियोजनाओं में अंतिम किसान के खेत तक पानी पहुँचे-मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • मुख्यमंत्री श्री चौहान की अध्यक्षता में नर्मदा नियंत्रण मंडल की 70वीं बैठक सम्पन्न

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि नर्मदा घाटी विकास के अंतर्गत निर्मित हो रही सभी परियोजनाओं में अंतिम किसान के खेत तक पानी पहुँचाना सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए मंत्री तथा अधिकारी आवश्यक रूप से क्षेत्र भ्रमण करें। नर्मदा घाटी विकास के लिए किए जा रहे निवेश का शत-प्रतिशत लाभ अर्जित करना सुनिश्चित किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जहाँ पाइप से पानी जा रहा है वहाँ के किसानों के खेतों में आ रही समस्याओं का भी सर्वेक्षण किया जाए। किसानों को यदि कोई समस्या है तो उसका तत्काल निराकरण हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पानी के प्रदाय से निश्चित रूप से किसानों का उत्पादन बढ़ेगा। किसानों में पानी और बिजली के शुल्क को जमा कराने के लिए दायित्व बोध विकसित किया जाए। यह जिम्मेदारी किसानों की समितियों को सौंपी जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान मंत्रालय में आयोजित नर्मदा नियंत्रण मंडल की 70वीं बैठक को संबोधित कर रहे थे। लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल, जल संसाधन मंत्री श्री तुलसी सिलावट, वित्त मंत्री श्री जगदीश देवड़ा, राजस्व एवं परिवहन मंत्री श्री गोविंद सिंह राजपूत, नर्मदा घाटी विकास राज्यमंत्री श्री भारत सिंह कुशवाहा, अध्यक्ष नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण तथा मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, उपाध्यक्ष नर्मदा घाटी विकास एवं अपर मुख्य सचिव श्री आई.सी.पी. केसरी बैठक में उपस्थित थे। बैठक में शहीद भीमा नायक सागर (लोअर गोई) परियोजना को पुनरीक्षित प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई। इसके साथ ही बरगी व्यपवर्तन परियोजना की दायीं तट मुख्य नहर को 104 किलोमीटर से 129 किलोमीटर तक स्लीमनाबाद टनल सहित नहर निर्माण के कार्य में समय वृद्धि को स्वीकृति प्रदान की गई। बैठक में जावर माइक्रो सिंचाई परियोजना के निर्माण कार्य के अनुबंध की समय वृद्धि को भी स्वीकृत किया गया। नियंत्रण मंडल की बैठक में किल्लौद, पामाखेड़ी, भुरलाय, कोदवार और पुनासा विस्तार की ग्रुप माइक्रो सिंचाई परियोजनाओं के निर्माण कार्य के अनुबंध में समय वृद्धि को भी स्वीकृति दी गई। इसके साथ ही आईएसपी कालीसिंध उद्वहन माइक्रो सिंचाई परियोजना के सिंचित क्षेत्र में वृद्धि का अनुमोदन प्रदान किया गया।                                                                                                                     

ओंकारेश्वर गेस्ट हाऊस संस्कृति विभाग को हस्तांतरित

ओंकारेश्वर में बन रहे शंकर संग्रहालय, स्टेच्यू ऑफ वननैस और अंतर्राष्ट्रीय वेदान्त संस्थान के लिए नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के ओंकारेश्वर गेस्ट हाऊस को अधोसंरचना सहित संस्कृति विभाग को हस्तांतरित करने का अनुमोदन किया गया।


जहरीली शराब बनाने और बेचने को संगीन अपराध की श्रेणी में रखा जाए– मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • जहरीली शराब से मौत हत्या से कम नहीं है : कठोरतम दंड की हो व्यवस्था, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अवैध शराब की रोकथाम पर ली बैठक

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि जहरीली शराब से मौत, हत्या से कम नहीं है। जहरीली शराब बनाने और बेचने को संगीन अपराध की श्रेणी में रखा जाए और कठोरतम दंड की व्यवस्था की जाए। इस संबंध में कानून में आवश्यक संशोधन किए जाए। संपूर्ण प्रदेश में अवैध मदिरा के विरुद्ध तत्काल प्रभाव से अभियान शुरू किया जाए। मंदसौर के ग्राम खकरई में हुई घटना के दोषियों को किसी भी हालत में बख्शा नहीं जाए। अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा संपूर्ण प्रकरण की जाँच कर तत्काल रिपोर्ट प्रस्तुत करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में अवैध शराब की रोकथाम के संबंध में आयोजित बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, वाणिज्यिक कर एवं वित्त मंत्री श्री जगदीश देवड़ा, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी, अपर मुख्य सचिव गृह डॉ. राजेश राजौरा और प्रमुख सचिव वाणिज्यिक कर श्रीमती दीपाली रस्तोगी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अवैध शराब के उत्पादन और व्यापार पर नियंत्रण के उपायों पर कार्य-योजना बनाने के निर्देश दिए। बैठक में प्रदेश में राज्य औद्योगिक सुरक्षा बल का उपयोग अवैध शराब के व्यवसाय को रोकने के संबंध में भी विचार-विमर्श हुआ। ग्राम खकरई में हुई घटना के संबंध में की गई कार्रवाई के बारे में जानकारी ली गई। बैठक में बताया गया कि थाना प्रभारी पिपल्या मण्डी, कार्यवाहक उप निरीक्षक और आबकारी उप निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया है।


प्रदेश में 7 अगस्त को होगा अन्न उत्सव – मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी करेंगे कार्यक्रम को संबोधित, 25 हजार 435 राशन दुकानों पर एक साथ होगा कार्यक्रम, मुख्यमंत्री श्री चौहान का मंत्रि-परिषद की बैठक के पूर्व संबोधन

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में प्रदेश में 7 अगस्त को अन्न उत्सव मनाया जायेगा। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी वर्चुअली कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। प्रदेश की 25 हजार 435 राशन दुकानों से खाद्यान्न वितरण होगा। प्रत्येक दुकान पर प्रतीकात्मक रूप से 100 हितग्राहियों को थैले में राशन दिया जायेगा। दुकानों पर यह आयोजन कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश की सभी उचित मूल्य दुकानों पर 100-100 लोगों के जुड़ने से 25 लाख से अधिक व्यक्ति कार्यक्रम से जुड़ेंगे। साथ ही सोशल और इलेक्ट्रानिक मीडिया के माध्यम से भी प्रदेशवासी वर्चुअली जुड़ेंगे। यह प्रदेश का ही नहीं अपितु देश का एक प्रमुख कार्यक्रम होगा। प्रत्येक दुकान के लिए एक नोडल अधिकारी बनाया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रि-परिषद की बैठक के पूर्व संबोधन में यह बात कही। मंत्रि-परिषद की बैठक वंदे-मातरम के गान के साथ आरंभ हुई। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश में हुई वर्षा पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि इससे फसलों को जीवन मिला है।


44% जनसंख्या को लग चुका है कोरोना वैक्सीन का पहला डोज़

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में टीकाकरण अभियान में 2 करोड़ 42 लाख लोगों को पहली डोज़ दी जा चुकी है। इस प्रकार प्रदेश की 44% पात्र जनसंख्या को पहला डोज लगाया जा चुका है। प्रदेश में 47 लाख 30 हजार लोगों को वैक्सीन का दूसरा डोज़ भी लगाया जा चुका है, जो पात्र जनसंख्या का 9% है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में दस के वायल से 11 लोगों को वैक्सीनेट करने के प्रयास निरंतर जारी हैं। जुलाई माह में 25 लाख लोगों को टीके लग चुके हैं। अगस्त माह में भी अधिक से अधिक टीकाकरण हो। इसके लिए प्रयास किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रीगण को अपने जिलों में टीकाकरण अभियान की निरंतर मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना टेस्ट भी जारी रहें। कल कोरोना के 11 नये पॉजिटिव प्रकरण आये थे। कोरोना संक्रमण के संबंध में सतर्क रहना आवश्यक है। मंत्री अपने-अपने प्रभार के जिलों में कोरोना अनुकूल व्यवहार का पालन और टेस्टिंग के लिए जन-सामान्य को निरंतर प्रेरित करें।


पालकों की अनुमति से ही विद्यार्थी स्कूल आएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में प्रतीकात्मक रूप से शालाओं का संचालन आरंभ किया गया है। मंत्री अपने जिलों में शालाओं की व्यवस्था का निरीक्षण आवश्यक रूप से करें। शालाओं में कोरोना अनुकूल व्यवहार का पालन सुनिश्चित किया जाए तथा पालकों की अनुमति से ही विद्यार्थी स्कूल आएँ।


स्वास्थ्य सेवाएँ के लिये कुल 419 पद स्वीकृत, मुख्यमंत्री श्री चौहान की अध्यक्षता में मंत्रि-परिषद की बैठक


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में आज मंत्रालय में मंत्रि-परिषद की बैठक में लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अंतर्गत संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएँ के लिए 419 पद स्वीकृत करने की मंजूरी दी। स्वीकृत पदों पर भर्ती आगामी तीन वर्षो में चरणबद्ध तरीके से की जायेगी। इसमें संयुक्त संचालक दंत स्वास्थ्य, उप संचालक दंत स्वास्थ्य के एक-एक पद तथा संभागीय कार्यालय स्तर पर उप संचालक दंत स्वास्थ्य के 7 पद और शहरी क्षेत्र में जिला चिकित्सालय में दंत विशेषज्ञ के 34 पद, दंत चिकित्सक के 46 पद, इस प्रकार कुल 89 पद निर्मित किये जायेंगे। ग्रामीण क्षेत्र में 330 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में दंत चिकित्सकों के 330 पद निर्मित किये जायेंगे। मंत्रि-परिषद ने वाणिज्यिक कर विभाग द्वारा 31 जुलाई 2021 तक लागू वर्ष 2020-21 की देशी मदिरा प्रदाय व्यवस्था को 31 मार्च 2022 तक बढ़ाये जाने का अनुमोदन दिया।


ओवरऐज हो जाएंगे हम,भोपाल एआरओ आयोजित नहीं कर रहा आर्मी भर्ती रैली सेना की तैयारी कर रहे युवाओं ने जिलाधीश के नाम दिया ज्ञापन


sehore news
सीहोर। पांच सालों से आर्मी में जाने की तैयारी कर रहे है। भोपाल एआरओ आर्मी भर्ती रैली आयोजित नहीं कर रहा है। युवाओं में ओवरऐज हो जाने का डर बना हुआ है। धार जिले में एक युवा ने ओवरऐज होने के कारण आत्महत्या कर ली है। परेशान युवाओं ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर जिलाधीश को ज्ञापन दिया है। भारतीय सेना में जाकर देशसेवा करने की तैयारी कर रहे युवाओं में भोपाल एआरओ के प्रति आक्रोश बना हुआ है। कोरोनाकाल के कारण बीते दो सालों से भोपाल एआरओ ने सीहेार जिले के युवाओं के लिए सेना भर्ती रैली बंद कर रखी है जबकी देश प्रदेश के अन्य हिस्सों में सेना भर्ती रैली आयोजित कर रहीं है। जिले की सभी तहसीलों गांवों में 12 से 15 हजार युवा सेना में जाने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे है लेकिन भर्ती रैली आयोजित नहीं की जा रहीं है अगर ओवरऐज हो जाते है तो सेना में भर्ती नहीं हो सकते है। युवाओं ने जल्दी से जल्दी भर्ती प्रक्रिया शुरू किए जाने और भर्ती रैली में एक वर्ष की छुट दी जाने की मांग की है। कलेक्ट्रेट पहुंचे युवाओं में रोहित पाटीदार, अरुण परमार, जसपाल सिंह, जगदीश धनगर, विशाल राजपूत जितेन वर्मा, अजय जाट, आकाश,रवि वर्मा, अरुण परमार, सचिन वर्मा, राज्यपाल कृष्णपाल, सुनील जाखड़, महेंद्र वर्मा, विवेक कर्मा, दीपक वर्मा, रवि मालवीय, गौरव भिलाला, आकाश धनगर, नीरज मीना, अजय जाट, आकाश बारेला, प्रदीप, विनोद, अभिषेक, कृष्ण पाल नागर, अनिता राय, कमल, अकाश प्रजापति, संतोष मीणा, अरुण कुमार, नारायण, विष्णु परमार,विशाल राजपूत जितेन वमाज़् अजय जाट आकाश,रवि वर्मा राजपाल देवेंद ठाकुर आदि शामिल रहे। 


पूरे जिले में डेढ़ हजार से अधिक अधिकारी और कर्मचारी कर रहे हड़ताल

  • अद्र्धनग्न होकर अपनी मांगों को लेकर जोरदार प्रदर्शन

sehore news
सीहोर। पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के नवगठित संयुक्त मोर्चा के तत्वाधान में मंगलवार को अपनी जायज मांगों के समर्थन में मंगलवार को लेकर शहर के जनपद पंचायत परिसर में अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने जोरदार नारेबाजी भी की। इन दिनों हड़ताल का असर दिखाई दे रहा है। 17 संगठनों से सम्बंधित कार्यालयों में कुछ अधिकारियों को छोडकऱ कार्यालय में वीरानी पसरी है। इस संबंध में मीडिया प्रभारी मुकेश पाटीदार ने बताया कि गुरुवार को अपनी मांगों के समर्थन में दोपहर बारह बजे आंदोलन स्थल से रैली निकालकर एक अर्जी भगवान गणेश को सौंपेंगे। प्रदेशस्तरीय 17 संगठनों का यह संयुक्त मोर्चा मांग कर रहा है कि, प्रमुख रूप से सचिवों के जारी छठवें वेतनमान का निर्धारण नियुक्ति दिनांक से किया जाए। साथ ही, ग्राम रोजगार सहायकों के 5 जून 2018 की नीति का निर्धारण करते हुए वेतनमान का 90 फीसदी वेतनमान दिया जाए। इसके अलावा अन्य मांगें भी शामिल हैं। इस मौके पर संयुक्त मोर्चा के संयोजक प्रमोद राठौर, सह संयोजक राजू नामदेव, प्रवक्ता अखिलेश मेवाड़ा, महेश राठौर जिला अध्यक्ष, लखन लाल गौर ब्लॉक अध्यक्ष, ओम प्रकाश शर्मा प्रदेश उपाध्यक्ष, विजय त्यागी प्रदेश संगठन मंत्री, हरीश जोशी महेश मेवाड़ा ,राम सिंह मेवाडा, मनीष गुप्ता, पर्वत सिंह, महेश चौरसिया, प्रकाश मेवाड़ा, रघुनंदन, पुष्पेंद्र रावत, मंगल सिंह, ओम पटेल विक्रम परमार, सीताराम, रामबाबू, महेश जयसवाल, मोहनलाल, गायत्री गौर, लखन ठाकुर, भरत मेवाड़ा, जनक गोयल, भरतसिंह गोर, चंपालाल शिवराज, हरि सिंह सोलंकी, दिनेश विश्वकर्मा, मोतीलाल गोर हरीश दांगी, राजेंद्र लोधी, रोहित वर्मा संजय शर्मा, भूवनेश्वर प्रसाद शर्मा, गोविन्द मीण, बेनी प्रसाद आदि शामिल थे। अपनी मांगों को पूरा करने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। वहीं संगठनों के अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने से विभागीय कार्यालयों के लम्बित कार्य प्रभावित हो गए हैं। सभी 17 संगठनों से सम्बंधित कार्यालयों में कुछ अधिकारियों को छोडकऱ कार्यालय में वीरानी पसरी है। कर्मचारियों के नहीं होने से विभागीय स्तर के सभी कार्य ठप है, वहीं अपनी समस्याओं से जुड़े हितग्राही भी बिना समस्याओं के निराकरण वापस लौटने को विवश है। बताया जाता है कि संयुक्त मोर्चा के बैनर तले ग्राम रोजगार सहायक संघ, पंचायत सचिव संगठन, मनरेगा कर्मचारी संगठन, मप्र राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन कर्मचारी अधिकारी संघ,  अधिकारी संगठन, अभियंता संघ, जिला/ जनपद पंचायत कर्मचारी संघ, मप्र पंचायत समन्वयक अधिकारी संघ, पीएम आवास योजना ग्रामीण अंतर्गत डाटा इंट्री ऑपरेटर संघ, सोशल ऑडिट स्टाफ वेलफेयर एसोसिएसन, सहायक विस्तार अधिकारी संघ, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण संघ, पीएम आवास ग्रामीण संघ, मप्र कम्प्यूटर ऑपरेटर महासंघ, मध्याह्न भोजन ग्रामीण संघ, डीआरडी संघ, वॉटरशेड संविदा अधिकारी/ कर्मचारी संघ शामिल हैं। इस प्रकार शहरी और ग्रामीण अंचलों से सम्बंधित सभी कार्य के कार्यालय कर्मचारी और अधिकारी अनिश्चितकालीन हड़ताल में शामिल हैं। विदित हो कि इससे पूर्व 22 जुलाई को सभी संगठनों ने मुख्यमंत्री के नाम जिपं सीईओ को ज्ञापन सौंपकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की जानकारी दे दी थी।


महेश राठौर बने सचिव संगठन के जिलाध्यक्ष


sehore news
सीहोर। मध्यप्रदेश पंचायत सचिव संगठन की एक विशेष बैठक का आयोजन ग्राम कांकडख़ेड़ा में प्रदेशाध्यक्ष दिनेश शर्मा की उपस्थित में किया गया। इस मौके पर संगठन की सर्जरी करते हुए प्रदेशाध्यक्ष श्री शर्मा ने कहा कि संगठन में उन्हीं कार्यकर्ताओं को पद देने की बात कही जो सक्रिय होंगे और जो निष्क्रिय लोग होंगे उन्हें संगठन में पद से मुक्त किया जाएगा। हमें हमारी मांगों के लिए हमेशा संघर्ष करना है। इसके लिए संगठन में कुछ बदलाव किए है। जिसमें सीहोर जिले का अध्यक्ष महेश राठौर, इछावर ब्लाक अध्यक्ष पद पर राम स्वरूप वर्मा को बनाया गया है। इसके अलावा सीहोर के सचिवों को भी प्रदेश में स्थान मिला है। जिसमें सचिव ओम प्रकाश शर्मा को प्रदेश उपाध्यक्ष, विजय त्यागी एवं मुकेश सेन को प्रदेश संगठन मंत्री, राजकुमार नामदेव को प्रदेश सचिव, वरिष्ठ सदस्य प्रहलाद सिंह ठाकुर को प्रदेश सह संयोजक, संभागीय स्तर पर विक्रम सिंह ठाकुर आष्टा को संभागीय महा सचिव एवं लक्ष्मीचंद्र वर्मा को संभागीय प्रवक्ता नियुक्त किया गया है। इस मौके पर नव नियुक्त जिलाध्यक्ष श्री राठौर ने कहा कि मुझे जो भी जिम्मेदारी मिली उसका ईमानदारी से निर्वहन करुंगा। इस मौके पर जिलाध्यक्ष श्री राठौर के जिले भर के सचिव संगठनों के पदाधिकारियों ने बधाई दी है।


इनर व्हील क्लब ने किया  कोरोना योद्धाओं का सम्मान


sehore news
इनर व्हील क्लब द्वारा जिला अस्पताल सीहोर में पदस्थ कोरोना टीकाकरण की सुपरवाइजर श्रीमती सुशीला सोनी जी एवम उनकी सारी टीम का सम्मान किया गया।सुशीला जी एवम उनकी टीम में मीना सोनी जी,तजशर खानम, रेणू भावसार,ममता भौद ,छाया शर्मा,बिलकिस फातमा, रेखा पठारे,जमना मालवीय,सूरा पाणिकर, रूपा सिंह शामिल है। इस टीम को पूरे सीहोर को vaccinate करने का गौरव प्राप्त हुआ है। पूरे 2 वर्ष से यह टीम कोरोना से लड़ाई लड़ रही है।अभी तक सीहोर में 90% टीकाकरण कर चुकी है। एवं इस टीम ने ऐसा निश्चय किया कि कोरोना नाम की इस बीमारी को हरा के ही रहेंगे। इनर व्हील क्लब अध्यक्ष नवनीता श्रीवास्तव ने सुशीला जी एवम उनकी समस्त टीम को समाज की इतनी सेवा करने हेतु बहुत बहुत धन्यवाद दिया। ऐसे कठिन समय मे इन योद्धाओं द्वारा दिन रात मानव जाति की सेवा कार्य किया जा रहा है।आज यदि हम सुरक्षित है तो इसमें इनका बहुत बड़ा योगदान रहा है। सुशीला जी एवम उनकी पूरी टीम को शॉल , श्री फल एवम हार पहनाकर सभी का स्वागत किया गया।इस सम्मान समारोह में प्रेसीडेंट नवनीता श्रीवास्तव के अलावा सचिव नीति ठकराल, हेमलता राठौर,शशि विजयवर्गीय, कुसुम सरियाम, पम्मी बाधवा,ज्योत्स्ना शर्मा आदि उपस्थित रही।


समस्याओंंं का किया जाए जल्दी निराकरण, राष्ट्रीय मानव अधिकार मंच ने सौपा ज्ञापन


sehore news
सीहोर। राष्ट्रीय मानव अधिकार मंंच के कार्यकर्ताओं ने प्रदेशाध्यक्ष नौशाद खान के नेतृत्व में विभिन्न मांगों को लेकर कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व मध्य प्रदेश प्रभारी मुकुल वासवानी को ज्ञापन दिया है।ज्ञापन में कहा की अल्पसंख्यकों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। अल्पसंख्यकों की समस्याओं का निराकरण नहीं किया जा रहा है। अल्पसंख्यकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। राष्ट्रीय मानव अधिकार मंच मध्य प्रदेश अध्यक्ष श्री खान ने कहा की प्रदेश सरकार की गलत नीतियों के चलते मदरसा बोर्डं को समस्याओं से गुजरना पड रहा है। मदरसों में पढऩे वाले बच्चों और उनके पालकों को भी कोई सहुलियतें सरकार की तरफ से नहीं दी जा रही है। पंजीकृत मदरसों को विभिन्न तरह के सरकार के द्वारा दिए जाने वाले अनुदान भी बंद कर दिए गए है। जिस कारण अल्पसंख्यक गरीब बच्चों को शिक्षा देना मुश्किल हो गया है। मंच के द्वारा अल्पसंख्यकों की समस्याओं का निराकरण कराए जाने और अल्पसंख्यकों को सुविधाएं उपलब्ध कराए जाने की मांग की गई है। काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ज्ञापन सौंपने वालों में महासचिव मौलाना खान इम्तियाज अहमद सहित कार्यकर्तागण शामिल रहे।


अन्नोत्सव कार्यक्रम के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त


जिले में प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना अंतर्गत 7 अगस्त मनाये जाने वाले अन्नोत्सव कार्यक्रम के लिए कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने कार्यक्रम की मॉनिटरिंग के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री हर्ष सिंह 9424559568 को नोडल अधिकारी नियुक्त किया।


निजी न्यास संबंधित कार्यवाही के लिए अधिकारी नियुक्त


निजी न्यास पंजीयन तथा न्यास से संबंधित समस्त कार्यवाहियों के लिए कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने मध्यप्रदेश लोक न्यास अधिनियम 1951 की धारा का उपयोग करते हुए सीहोर एसडीएम को उनके कार्य क्षेत्र अंतर्गत नियुक्त किया है।


sehore news
कोलार बांध के गेट खोले जाने की संभावना


वर्तमान में मानसून की सक्रियता के चलते कोलार बांध का जल स्तर निरंतर बढ़ रहा है। बांध का जलस्तर मेंटेन करने के लिए 31 जुलाई 2021 या इससे पूर्व कोलार बांध के गेट खोले जाने की संभावना है। कोलार नदी से प्रभावित होने वाले दोनों तटीय क्षेत्रों में लोगों को सतर्क रहने तथा किसी भी प्रकार की गतिविधि संचालित नहीं करने के लिए कहा गया है। पानी छोड़े जाने की मात्रा जल ग्रहण क्षेत्र में पानी की आवक के अनुसार तय की जाएगी। उल्लेखनीय है कि वर्तमान में कोलार बांध का जल स्तर 452.04 मीटर है । बांध में सुरक्षित जलस्तर की सीमा 31 जुलाई 2021 तक 453.70 मीटर है। 


जिला न्यायालय परिसर में हेल्प डेस्क स्थापित


जिला न्यायालय परिसर में प्रधान जिला न्यायाधीश तथा अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री आरएन चंद के निर्देशानुसार में हेल्प डेस्क स्थापित की गई। हेल्प डेस्क से न्यायालय आने वाले पात्र व्यक्तियों को विधिक सहायता सहित अन्य सलाह मिल सकेगी। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी ने बताया कि न्यायालय परिसर में स्थापित हेल्प डेस्क से लोगों को विधिक सहायता उपलब्ध कराने के साथ ही अधिवक्ताओं, न्यायालयीन कर्मचारियों एवं न्यायालय में उपस्थित होने वाले पक्षकारों को कोविड-19 के वैक्सीनेशन कराये जाने, मास्क पहनने तथा कोविड-19 के प्रोटोकॉल के संबंध में जागरूक किया जाएगा।


प्रधान जिला न्यायाधीश ने दी पैरालीगल वॉलंटियरों को कानूनी जानकारी


जिला विधिक सेवा प्राधिकरण से सम्बद्ध पैरालीगल वॉलंटियरों को प्रशिक्षण में प्रधान जिला न्यायाधीश तथा अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री आरएन चंद ने कानून की जानकारी देते हुए नालसा एवं सालसा द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में जानकारी दी। प्रधान जिला न्यायाधीश तथा अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री आरएन चंद ने 11 सितम्बर को आयोजित होने वाली आगामी नेशनल लोक अदालत को सफल बनाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी ने पैरालीगल वॉलेटियरों को प्रोत्साहित करते हुए नि:शुल्क विधिक सहायता, मध्यप्रदेश अपराध पीड़ित प्रतिकर योजना 2015, लोकोपयोगी लोक अदालत के बारे में जानकारी दी। प्रशिक्षण में तहसील विधिक सेवा समिति, जिला जेल, उप जेल नसरूल्लागंज के 41 पैरालीगल वालेंटियरों ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रशिक्षण में शामिल हुए।


कोरोना वालंटियर्स टीकाकरण अभियान में कर रहे सहयोग


मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के कोरोना वॉलंटियर्स टीकाकरण में निरंतर सहयोग कर रहें है 28 जुलाई को कोरोना वॉलंटियर्स ने वैक्सीन लगवाने वाले लोगों का तिलक लगाकर स्वागत किया। मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद जिला समन्वयक श्रीमती पारुल उपाध्याय तथा ब्लॉक समन्वयक प्रदीप सिंह सेंगर के साथ कोरोना वॉलंटियर्स वैक्सीनेशन सेंटर पर आने वाले लोगों का स्वागत किया। जन अभियान परिषद जिला समन्वयक श्रीमती उपाध्याय ने कहा कि टीकाकरण अभियान में 62 कोरोना वॉलंटियरों द्वारा वैक्सिनेशन सेंटर पर सहयोग कर रहें है। इस अभियान में लोगों ने उत्साह के साथ वैक्सीन लगवाई। वैक्सीन के प्रति अफवाह को जनता ने नकार दिया। वैक्सीन ही एकमात्र बचाव है। जिला समन्वयक द्वारा ग्राम बरखेड़ा देवा में प्रस्फुटन समिति, कोरोना वॉलंटियर्स, समाजसेवियों के साथ आगामी कार्ययोजना के लिए बैठक की। और पौधारोपण किया। बैठक में रवि सोनी, रमिला परमार, हेमंत  गौर सहित अन्य वॉलंटियर्स उपस्थित रहे।


शाहगंज को स्मार्ट सिटी बनाने की कवायद शुरू, भोपाल स्मार्ट सिटी के अधिकारियों ने शाहगंज नगर का निरीक्षण किया


sehore news
स्मार्ट सिटी भोपाल से आये अधिकारियों ने शाहगंज नगर के प्रमुख चौराहों व बाजार के साथ ही शहर के महत्वपूर्ण क्षेत्रों का निरीक्षण किया गया। इस दौरान कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने शाहगंज नगर से संबंधित सभी महत्वपूर्ण स्थानों की जानकारियां दी। उल्लेखनीय है कि प्रदेश के नगरों को स्मार्ट सिटी बनाने की योजना के तहत वर्तमान और भविष्य की आवश्यकताओं को दृष्टिगत रखते हुए नगर के विकास की कार्ययोजना तैयार की जा रही है। शाहगंज में नगर के आंतरिक मार्गों का निर्माण, महत्वपूर्ण चौराहों एवं स्थानों का सौंदर्यीकरण, नर्मदा घाटों का विकास, दशहरा मैदान, चौराहे पर स्व. श्री अटल बिहारी वाजपेयी की प्रतिमा स्थापना एवं  सौंदर्यीकरण,   बकतरा रोड पर प्रवेश द्वार, बाजार में फुटपाथ का निर्माण कार्य, मंडी गेट के सामने सौन्द्रयीकरण एवं प्रतिमा स्थापना, उत्कृष्ट हाट बाजार, नवीन बस स्टैंड, मुख्य बाजार तथा मुख्य मार्ग पर पार्किंग बनाई जाने की कार्ययोजना तैयार जा रही है। इस दौरान कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर, सीईओ जिला पंचायत श्री हर्ष सिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।


जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला, वर्तमान में कोरोना एक्टिव पॉजिटिव की संख्या शून्य


पिछले 24 घंटे के दौरान प्राप्त रिपोर्ट में जिले में आज कोई भी व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नहीं मिला है। सीएमएचओ कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में अब तक कुल कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों की संख्या 10142 है। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव शून्य हो गई हैं। कुल रिकवर व्यक्तियों की संख्या 10020 हैं। आज 1040 सैम्पल लिए गए है। जांच के लिए सीहोर शहरी क्षेत्र से 136, श्यामपुर से 200, विकासखंड नसरुल्लागंज से 210, आष्टा से 238,  बुधनी से 136 तथा इछावर से 120 सेंपल लिए गए हैं। अभी तक कुल जांच के लिए भेजे गए सेंपल 203667 हैं जिनमें से 192011 सैंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आज 1072 सैंपलों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। कुल 1443 सैंपलों की रिपोर्ट आना शेष है। पैथोलॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 71 है। 


टीकाकरण महाअभियान के तहत 23653 लोगों ने लगवाया कोविड टीका


जिले में कोविड टीकाकरण महाअभियान के तहत 23653 लोगों को कोविड का टीकाकरण किया गया। सीएमएचओ श्री सुधीर डेहरिया ने बताया कि जिले में बुधवार को 23653 लोगों को कोविड का टीका लगाया गया। सुबह 08 बजे से ही लोग कोविड का टीका लगवाने के लिए टीकाकरण केन्द्र पहुंचने लगे। लोगों की सुविधा की दृष्टि से अनेक टीकाकरण केन्द्र बनाये गए। टीकाकरण महाअभियान में 18 वर्ष के युवा से लेकर बुजुर्गो ने भी टीका लगवाया।


जिले में जनपदवार टीकाकरण की स्थिति

जिले में कुल 23653 नागरिकों का टीकाकरण किया गया। जिले में कुल 92 टीकाकरण सत्र आयोजित किए गए। आष्टा में 4931, बुदनी में 4740, नसरूल्लागंज में 5314, श्यामपुर में 3921 तथा सीहोर शहरी क्षेत्र में 4747 नागरिकों का टीकाकरण किया किया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: