समस्तीपुर : पकड़ से बाहर सुमित कुमार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 15 जुलाई 2021

समस्तीपुर : पकड़ से बाहर सुमित कुमार

  • कंपाउंडर ने महिला डॉक्टर की मांग में सिंदूर भर दिया

forced-marriage-bihar
समस्तीपुर. फिल्मी अंदाज में बिहार के समस्तीपुर में जबरन एक कंपाउंडर ने महिला डॉक्टर की मांग में सिंदूर भर दिया. आरोपी ने महिला डॉक्टर की मांग में सिंदूर भरा और उसके साथ फोट खींचा, जिसे उसने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर अपलोड कर दिया. सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद महिला डॉक्टर ने मुकदमा लिखाया है.बताया जा रहा है कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी अणिमा रंजन दलसिंहसराय के अस्पताल रोड में कुश अस्पताल नाम का निजी नर्सिंग होम भी चलाती हैं. वहां की व्यवस्था और मरीजों की देखभाल करने के लिए उन्होंने बंबइया गांव निवासी लालबाबू महतो के पुत्र सुमित कुमार (22साल) को बतौर कंपाउंडर बहाल कर रखा था. सबकुछ सही ही चल रहा था. अचानक महिला डॉक्टर ने अपने कंपाउंडर को काम से निकाल दिया. इससे वह नाराज चल रहा था. समस्तीपुर जिले के दलसिंहसराय प्रखंड की प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को उस समय असहजता महसूस करना पड़ गया. जब उन्हें जानकारी मिली कि कम्पाउंडर द्वारा जबरन सिंदूर डालने वाली तस्वीर और वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी है. इस बीच लोग इसे चटखारे लेकर पढ़ और देख रहे हैं तथा शेयर कर रहे हैं. घटना की वजह से पीड़ित डाॅक्टर और उनके स्वजनों की परेशानी बढ़ गई है.उनका घर से निकलना मुश्किल हो गया है.इस मामले में पीड़िता की ओर से थाने में शिकायत किए जाने के बाद एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने सख्त कार्रवाई का आदेश दिया है. वहीं दूसरी ओर आरोपित कंपाउंडर फरार बताया जा रहा है. 


पीड़ित डाॅक्टर ने कंपाउंडर को काम से निकाल दिया था

बताया जाता है कि यहां की एक महिला डॉक्टर पीएचसी के अतिरिक्त एक निजी अस्पताल भी चलाती हैं. वहां की व्यवस्था और मरीजों की देखभाल करने के लिए उन्होंने बंबइया गांव निवासी लालबाबू महतो के पुत्र सुमित कुमार को बतौर कंपाउंडर बहाल कर रखा था. सब कुछ सही ही चल रहा था.अचानक महिला डॉक्टर ने अपने कंपाउंडर को काम से निकाल दिया. इससे वह नाखुश चल रहा था.उक्त कंपाउंडर डॉक्टर के चैंबर में घुस गया और उनकी मांग में सिंदूर भर दिया.बात यहीं तक नहीं रुकी.सुमित ने मांग भरने के बाद डॉक्टर के साथ अपना एक वीडियो बनाया और उसे अपने ही इंटरनेट मीडिया अकाउंट से पोस्ट कर दिया. बहुत जल्द ही इस घटना का वीडियो वायरल होने लगा. टॉप ऑफ द ट्रेंड में आने के बाद लोग इसे मजे लेकर देखने और दूसरे को फारवर्ड करने लगे. इस संबंध में एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा कि चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा लिखित शिकायत दी गई है. डॉक्टर ने अपने कंपाउंडर पर जबरन मांग में सिंदूर डालने और फिर तस्वीर को सोशल मीडिया पर वायरल करने का आरोप लगाया है. डॉक्टर की शिकायत के बाद कंपाउंडर के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

कोई टिप्पणी नहीं: