बिहार : एक महादलित की मौत अभाव में - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 24 दिसंबर 2021

बिहार : एक महादलित की मौत अभाव में

mahadalit-died-digha-patna
पटना. दीघा थाना क्षेत्र में है दीघा मुसहरी.इन दिनों पुलिस के टारगेट में है दीघा मुसहरी.इस मुसहरी में रहने वाले महादलित मुसहर बेहाल हैं.सीएम नीतीश कुमार की शराबबंदी ने महादलितों को आफत में डाल दी है.शराबबंदी की आड़ में ऐसा कोई दिन नहीं है जब पुलिस छापा न मारे.छापामारी के चलते पूस माह में मुसहर घर-द्वार छोड़कर सड़क पर सोने को बाध्य हैं.वहीं पुलिसिया भय से आम से खास आदमी मुसहरी में हेलना नहीं चाहते हैं.इस बीच चिकित्सा के अभाव में एक महादलित की मौत हो गयी है. हिम्मत करके पत्रकार आलोक कुमार मुसहरी में प्रवेश किये.उनको महादलितों ने बताया कि चिकित्सा के अभाव में झखड़ी महादेव में रहने वाले स्व.बैदु मांझी के पुत्र जगरूक मांझी (45 वर्ष) की मौत हो गयी है.झखड़ी महादेव में रहने वाले जगरूक मांझी की शादी दीघा मुसहरी में रहने वाली लालमंती देवी के साथ हुई है.दोनों के पांच संतान हैं.चार लड़के और एक लड़की हैं.तीन लड़के अगमकुआं में स्थित एससी छात्रावास में रहकर पड़ते हैं.तीनों लड़के छात्रावास से पिताजी की मृत्यु की खबर सुनकर शिक्षक के संग आए थे. जब पत्रकार आलोक कुमार मृतक जगरूक मांझी के घर पहुंचे तो देखा कि पुलिस ने लोहा का द्वार तोड़ दिया है.कुछ बिछावन के ऊपर जगरूक मांझी पड़े हैं.सुबह दस बजे दम तोड़ दिये.लालमंती देवी की बहन बतायी कि जीजाजी को लीवर और टी.बी.बीमारी हो गयी थी.आर्थिक तंगी के कारण 45 साल में ही दुनिया से चल बसे.यहां पर बहुत लोग टी.बी.(यक्ष्मा) बीमारी से मर चुके हैं. घर की हालात देखकर पत्रकार ने सामाजिक दायित्व भी निभाना चाहा.वे पटना नगर निगम के वार्ड नं.01 की वार्ड पार्षद छठिया देवी के पति सह पार्षद प्रतिनिधि पप्पू कुमार से मिलकर कबीर अंत्येष्ठी योजना से तीन हजार रू. और पारिवारिक लाभ योजना से बीस हजार रू.विधवा लालमंती देवी को दिलवाने को कहा.इस बाबत वार्ड पार्षद छठिया देवी के पति सह पार्षद प्रतिनिधि पप्पू कुमार ने कहा कि मृतक को गरीबी रेखा के तहत रहना चाहिए.उन्होंने कहा कि दोनों योजनाओं से 23 हजार रू.दिलवा दूंगा. पुन: पत्रकार मुसहरी में जाकर लालमंती देवी की बहन से मिलकर जानकारी साझा किये.परिवार गरीबी रेखा के तहत हैं.बैंक का खाता है और आधार कार्ड है.मृत्यु प्रमाण पत्र भी बनवाना है. 

कोई टिप्पणी नहीं: