गया : कोविड 19 संक्रमण के बचाव एवं टीकाकरण में तेजी लाने पर जोर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 23 जनवरी 2022

गया : कोविड 19 संक्रमण के बचाव एवं टीकाकरण में तेजी लाने पर जोर

focus-on-vaccination-in-gaya
गया, 22 जनवरी। ज़िला पदाधिकारी, गया डॉ० त्यागराजन एसएम की अध्यक्षता में कोविड 19 संक्रमण के बचाव एवं टीकाकरण में तेजी लाने के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एवं बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को आवश्यक निर्देश दिए गए।  जिला पदाधिकारी द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में फ्रंट लाइन वर्कर, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, सभी सफाई कर्मी, पुलिस कर्मी, 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग तथा 15 से 18 वर्ष के आयु वर्ग के छात्रों/ लोगों को दिए गए टीका की समीक्षा की गई। जिला पदाधिकारी ने सभी संबंधित पदाधिकारियों को कहा कि अपने अपने प्रखंड में कार्यरत फ्रंट लाइन वर्कर, हेल्थ वर्कर तथा 60 वर्ष आयु के ऊपर वाले व्यक्ति को निश्चित रूप से टीकाकरण केंद्र में जाकर प्रिकॉशनरी डोज लेने के लिए प्रेरित तथा प्रचारित करे। बैठक में बताया गया कि टीकाकरण के लिए वजीरगंज प्रखंड बहुत अच्छी उपलब्धि प्राप्त किया है। वर्तमान में प्रिकॉशनरी डोज में वजीरगंज 97 प्रतिशत की उपलब्धि प्राप्त की है।  जिला पदाधिकारी ने जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को शहरी क्षेत्र में टीकाकरण कार्य में तेजी लाने का सख्त निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि कम उपलब्धि प्राप्त करने वाले प्रखंडों के पदाधिकारियों तथा शहरी क्षेत्र के स्वास्थ्य कर्मियों से प्रत्येक दिन समन्वय कराते हुए टीकाकरण कार्य में तेजी लावे। बैठक में जिला पदाधिकारी ने 15 वर्ष से 18 वर्ष आयु के बीच वाले विद्यार्थियों को दिए जाने वाले टीकाकरण के संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी को सख्त निर्देश दिया की वैसे बड़े विद्यालय/ महाविद्यालय जहां, कम प्रगति हो रही है, उस विद्यालय के प्राचार्य से स्वयं बात करें। साथ ही विद्यालयों में लगने वाले टीकाकरण सत्र  से संबंधित प्रतिदिन सभी प्राचार्य को कंट्रोल रूम के माध्यम से कैंप में सहयोग देने के लिए जानकारी उपलब्ध करावे। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि अपने अपने क्षेत्र के बड़े विद्यालयों के संचालक को टीकाकरण के लिए मोबिलाइज कराने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया कि वे 15 से 18 वर्ष के छात्रों में टीकाकरण दर में तेजी लावे। बैठक में बताया गया कि जिले में 31 महाविद्यालय हैं जहां लगभग 53000 बच्चे पढ़ रहे हैं, परंतु टीकाकरण का दर संतोषजनक नहीं है साथ ही 68000 इंटरमीडिएट के छात्रों को भी टीका लेना है। जिला पदाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिया है कि सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी तथा प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी उच्च विद्यालय तथा महाविद्यालयों के प्रधानाचार्य को टीकाकरण सत्र के बारे में 1 दिन पूर्व ही बता दें ताकि बच्चे वहां टीका लेने के लिए पहुंच सके। ज़िला पदाधिकारी ने सभी फ्रंट लाइन वर्कर एवं 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों से अनुरोध किया है कि वे निर्धारित समय पर प्रिकॉशनरी डोज अवश्य ले लें ताकि कोरोना जैसे महामारी से बचाव हो सके। बैठक में जिला पदाधिकारी ने सभी पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि कोरोना संक्रमण से मृत व्यक्तियों के आश्रितों द्वारा विभिन्न कागजातों के साथ दिए गए आवेदनों को 31 जनवरी के पहले सिविल सर्जन कार्यालय को उपलब्ध करावे तथा उन्होंने सिविल सर्जन, गया को निर्देश दिया कि प्राप्त आवेदन एवं कागजातों का गुणवत्तापूर्ण सत्यापन कार्य तेजी से कराते हुए राज्य स्वास्थ्य समिति,पटना को उपलब्ध करावे। जिला पदाधिकारी ने नगर आयुक्त गया नगर निगम तथा सभी कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद/ नगर पंचायत को निर्देश दिया कि वे अपने सफाई कर्मियों को प्रिकॉशनरी टीका लेने हेतु प्रेरित करें साथ ही उन्होंने वरीय पुलिस अधीक्षक, कमांडेंट सीआरपीएफ, कमांडेंट सीआईएसफ से अनुरोध किया है कि वे सभी पुलिसकर्मियों, सीआईएसएफ, सीआरपीएफ के जवानों को टीका लेने के लिए प्रेरित करें। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में जिला पदाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एवं बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को निर्देश दिया कि वे आमस, डुमरिया, डोभी,  मोहनपुर, परैया, नीमचक बथानी तथा शेरघाटी में टीकाकरण की दर में तेजी लावे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में सहायक समाहर्ता, सिविल सर्जन गया, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी, डीपीओ आईसीडीएस, डीपीएम स्वास्थ्य सहित प्रखंड स्तरीय  प्रखंड विकास पदाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी सहित अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: