मधुबनी : भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षुओं की विदाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 6 जनवरी 2022

मधुबनी : भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षुओं की विदाई

trainee-ias-transfered-madhubani
मधुबनी, आज दिनांक 06 जनवरी 2022 को श्री  सत्यप्रकाश, पुलिस अधीक्षक, मधुबनी की अध्यक्षता में डीआरडीए, मधुबनी के सभागार में जिले में आए हुए भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षुओं का विदाई समारोह आयोजित किया गया। बताते चलें कि तीस प्रशिक्षुओं ने दिनांक 28 दिसंबर 2021 से 06 जनवरी 2022 तक जिले के बेनीपट्टी, घोघरडीहा, बिस्फी, खुटौना, झंझारपुर जैसे प्रखंडों के पंचायतों में अपना समय बिताया और लोक जीवन की समस्याओं और संभावनाओं पर अनुभव प्राप्त किया। उनके आवासन की व्यवस्था भी उनके अपने आवंटित पंचायतों में अवस्थित पंचायत सरकार भवन में किया गया था। विदाई समारोह में सभी प्रशिक्षुओं ने बारी बारी से अपने अनुभव साझा किए। विदाई समारोह को सम्बोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक महोदय ने गांधी जी के उस कथन को याद किया जिसमें उन्होंने कहा था कि असली भारत हमारे गांवों में बसता है। उन्होंने कहा कि योजना बनाने की बारी बाद में आएगी, वर्तमान में आपकी जिम्मेवारी योजनाओं के सही क्रियान्वयन की है। आपको आपके अधीन चल रही योजनाओं का बारीकी से अवलोकन करना होगा, तभी बदलाव मुकम्मल माना जाएगा। सरकार की बहुत सारी योजनाओं पर जनसंख्या दबाव है, जिससे उसे अमल में लाने में कई प्रकार की कठिनाइयां आती हैं। आपको इन्हीं कठिनाओं के बीच समाधान की तलाश करनी है।  प्रशिक्षुओं के द्वारा अपने अनुभव साझा करने के दौरान बताया गया कि जिले के लोग बहुत शांतिप्रिय हैं, परंतु योजनाओं की सही जानकारी नहीं होने के वजह से लोग कई सुविधाओं से वंचित रह जाते हैं। सबने इस बात पर जोर दिया कि जिले में इंटरप्रेन्योरशिप डेवलपमेंट की बहुत जरूरत है। इसके लिए माइंडसेट बदलना होगा। प्रशिक्षुओं की ओर से वैभव बांगड़, गिरधारी लाल मीणा, निधि चौहान, कृति राज, हिमांशु गुप्ता,  अंकिता खुराना, संतोष भवरी, मृदुला सिंह, राकेश कुमार आदि शामिल थे। श्री विशाल राज, उप विकास आयुक्त, मधुबनी ने भी मौजूद प्रशिक्षुओं से बारी बारी उनके अनुभवों की जानकारी ली और सम्यक समाधान के गुर बताए। इस अवसर पर श्री सुरेन्द्र राय, विशेष कार्य पदाधिकारी, जिला गोपनीय शाखा, मधुबनी, श्री सुशील कुमार, जिला परिवहन पदाधिकारी, मधुबनी एवं श्री शैलेंद्र कुमार, जिला पंचायती राज सह सूचना एवं जनसंपर्क, पदाधिकारी, मधुबनी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: